मुख्य समाचार:
  1. “आप” ने किया “विश्वास”घात, इन तीन नेताओं को बनाया राज्यसभा उम्मीदवार

“आप” ने किया “विश्वास”घात, इन तीन नेताओं को बनाया राज्यसभा उम्मीदवार

आम आदमी पार्टी ने अपने तीनों राज्यसभा कैंडिडेट के नाम का ऐलान कर दिया है। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली प्रदेश के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने प्रेस कांफ्रेस कर तीनों नामो का ऐलान किया।

January 3, 2018 2:06 PM
आम आदमी पार्टी, राज्यसभा, aam admi party, rajya sabha, aap, aap rajyasabha candidates मनीष सिसोदिया ने प्रेस कांफ्रेस कर बताया की पीएसी की मीटिंग में सभी विधायक शामिल थे, औऱ सभी ने इन तीनों के नाम पर हामी भरी है।

आम आदमी पार्टी ने अपने तीनों राज्यसभा कैंडिडेट के नाम का ऐलान कर दिया है। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली प्रदेश के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने प्रेस कांफ्रेस कर तीनों नामो का ऐलान किया। “आप” ने पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह, नारायण दास गुप्ता और सुशील गुप्ता के नाम पर मोहर लगाई है। मनीष सिसोदिया ने प्रेस कांफ्रेस कर बताया की पीएसी की मीटिंग में सभी विधायक शामिल थे, औऱ सभी ने इन तीनों के नाम पर हामी भरी है। सिसोदिया ने बताया की मीटिंग के दौरान 18 लोगों के नाम पर चर्चा हुई उन्हें ऑफर दिया गया मगर सभी ने मना कर दिया।

कौन हैं ये तीनों उम्मीदवार

संजय सिंह: सुल्तानपुर के रहने वाले संजय सिंह , केजरीवाल के करीबी माने जाते हैं। सिंह, अरविंद केजरीवाल के साथ आरटीआई एक्टिविस्ट के तौर पर जुड़े थे। संजय सिंह आम आदमी पार्टी के संयोजक भी है।

सुशील गुप्ता: इस नाम पर पिछले कुछ दिनों में चर्चा गर्म थी। सुशील गुप्ता आप में आने से पहले कांग्रेस के साथ जुड़े थे। 2015 में गुप्ता ने कांग्रेस के खिलाफ चुनाव लड़ा था। गुप्ता चैरिटेबल ट्रस्ट चलाते हैं और इनकी कुल संपत्ति 150 करोड़ की है।

नारायण दास गुप्ता: एनडी गुप्ता नारायण दास गुप्ता भी आम आदमी पार्टी के संस्थापक अरविंद केजरीवाल के करीबी माने जाते हैं। एनडी गुप्ता पिछले दो साल से आम आदमी पार्टी के सीए हैं।

इन नेताओं का पत्ता कटा

जब से आम पार्टी के राज्यसभा कैंडिडेट के नामों पर चर्चा शुरु हुई थी, तो सबसे पहले नाम जो सबके सामने आए थे वो नाम थे कुमार विश्वास और आशुतोष। हालांकि अंत में पार्टी ने दोनों को टिकट नहीं दिया। कुमार विश्वास कवी है और राजस्थान में आप के संयोजक की भूमिका निभा रहें है। कुमार विश्वास ने 2014 में अमेटी से राहुल गांधी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ा था

टिकट ना मिलने पर ये बोले विश्वास

टिकट ना ममिलने पर कुमार विश्वास ने मीडिया के सामने आकर अरविंद केजरीवाल को उनके फैसले के लिए बधाई दी। साथ ही उन्होंने सभी कैंडिडेट्स को शुभकामनाएं दी। इसके अलावा टिकट ना मिलने के सवाल पर कुमार विश्वास ने कहा कि उन्हें सच बोलने की सजा दी गई है।

Go to Top