सर्वाधिक पढ़ी गईं

कोरोना के चलते मेडिकल फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी आ रही हैं समस्याएं, इन 5 सेल्फ-केयर टिप्स से रख सकते हैं खुद को फिट

हर दिन बुरी खबरें आ रही हैं और इन सबसे सीधा साबका डॉक्टर्स, नर्सेज, वार्ड ब्वायज , सपोर्ट स्टॉफ और डायग्नोस्टिक सेक्टर के कर्मी समेत सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स का पड़ रहा है.

April 24, 2021 6:00 PM
5 self-care tips for medical frontline workers and care giversफ्रंटलाइन वर्कर्स जो कर रहे हैं, उसकी प्रशंसा की जानी चाहिए लेकिन उनके खुद के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य की चिंता की जानी चाहिए.

देश भर में कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ रहे हैं और हर दिन रिकॉर्ड संख्या में कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं. कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ने और मरीजों के इलाज को लेकर जरूरी संसाधनों की किल्लत के चलते हेल्थ सेक्टर पर बहुत दबाव वड़ रहा है. हर दिन बुरी खबरें आ रही हैं और इन सबसे सीधा साबका डॉक्टर्स, नर्सेज, वार्ड ब्वायज , सपोर्ट स्टॉफ और डायग्नोस्टिक सेक्टर के कर्मी समेत सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स का पड़ रहा है. दोहरी शिफ्ट, भोजन के लिए समय न मिलने और नींद न पूरी होने जैसी समस्याओं के बीच उन्हें लंबे समय तक अपने परिवार से भी दूर रहने की नौबत आ रही है. ऐसे में फ्रंटलाइन वर्कर्स जो कर रहे हैं, उसकी प्रशंसा की जानी चाहिए लेकिन उनके खुद के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य की चिंता की जानी चाहिए. मौजूदा दौर में फ्रंटलाइन वर्कर्स को खुद पर अधिक ध्यान दिए जाने की जरूरत है ताकि उनकी स्थिति बेहतर रह सके. नीचे कुछ टिप्स दिए जा रहे हैं जिससे वे खुद को ऐसे माहौल में फिट रखने की कोशिश कर सकते हैं.

ऑक्सीजन और इससे जुड़े सामानों के आयात पर खत्म हुई कस्टम ड्यूटी, अगले तीन महीनों तक नहीं लगेगा हेल्थ सेस

मौजूदा संकट के समय हेल्थवर्कर्स के लिए जरूरी टिप्स

  • 10 मिनट टीम जमावड़ा: इस कठिन दौर में भी टीम सपोर्ट के बहुत मायने हैं. किसी व्यस्त दिन भी अगर 10 मिनट के लिए अगर सभी अनौपचारिक रूप से एक जगह जुटते हैं और उस दौरान अपनी बातों को साझा करने की मंजूरी मिलती है तो यह बहुत सकारात्मक साबित हो सकता है. यह छोटे या बड़े समूह में किया जा सकता है और इसे दिन की शुरुआत या दिन के अंत में किया जा सकता है ताकि यह दबाव को कम कर सके और इससे टीम भावना में बढ़ोतरी होगी.
  • किसी सहयोगी के साथ भोजन: भोजन किसी भी शख्स के बेतर स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है. हालांकि तनावपूर्ण कामकाजी दिन कई लोग भूख को भी भूल जाते हैं और नतीजतन बिना खाए ही रह जाते हैं. ऐसे में शरीर में पोषकता की कमी हो सकती है और तनाव से लड़ने की क्षमता कम होती है. अगर टीम के किसी सदस्य के साथ भोजन करने की आदत डाल ली जाए तो यह रेगुलर हो जाएगा और रिलैक्सिंग भी रहेगा. किसी के साथ खाना खाने की आदत हो तो उस दौरान हल्की-फुल्की बातचीत से भी तनाव कम करने में मदद मिलती है.
  • 10 मिनट स्ट्रेच: तनाव खत्म करने के लिए कसरत बहुत महत्वपूर्ण और प्रभावकारी तरीका है. व्यस्त दिन होने के बावजूद जिसमें बहुत अधिक शारीरिक गतिविधि हो, थोड़ा समय निकालकर 10 मिनट स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज जरूर करना चाहिए. इससे शारीरिक तनाव को कम करने में बहुत मदद मिलती है. यह स्ट्रेचिंग दिन की शुरुआत या वर्क शिफ्ट्स के बीच में या वर्क शिफ्ट के बाद या एक दिन में कई बार किया जा सकता है और यह स्ट्रेस लेवल पर निर्भर करता है.
  • संगीत: तनाव कम करने के लिए संगीत बहुत बेहतरीन माध्यम माना जाता रहा है. यह न सिर्फ मूड को सही करता है बल्कि सकारात्मकता को बढ़ाता है. बेहतरीन संगीत से किसी भी तनावपूर्ण माहौल को कम करने में मदद मिलेगी. खाने के दौरान या कोई कठिन टास्क पूरा करते समय या काम के बाद या ट्रैवलिंग के दौरान संगीत बेहतर तरीके से तनाव कम कर सकता है.
  • योग और मेडिटेशन: यह न सिर्फ तनाव खत्म करने के लिए बेहतर थेरेपी है बल्कि शारीरिक, मानसिव व भावनात्मक रूप से सुकून के लिए बेहतर है. स्ट्रेचेज में, डायट या ब्रीथिंग एक्सरसाइज में योग दिल और दिमाग को एकाकार करने में मदद करती है. योग को हर दिन या साप्ताहिक तौर पर किया जा सकता है. यह ऐसे लोगों के लिए भी बेहतरीन मददगार साबित हुआ है जो लंबे समय तक अवसाद से प्रभावित रहे हैं. मेडिटेशन के जरिए तनाव, चिंता को कम करने में मदद मिलती है. योग और मेडिटेशन की सबसे अच्छी बात यह है कि इसे घर पर भी किया जा सकता है और इसके लिए कुछ खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ती.

(By- Sameer Bhide, ‘One Fine Day’ के लेखक और दुर्लभ हीमोरेगिक स्ट्रोक सर्वाइवर. ये व्यूज लेखक के व्यक्तिगत हैं और इनका फाइनेंसिल एक्सप्रेस ऑनलाइन की नीतियों से कोई जुड़ाव नहीं है.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. कोरोना के चलते मेडिकल फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी आ रही हैं समस्याएं, इन 5 सेल्फ-केयर टिप्स से रख सकते हैं खुद को फिट

Go to Top