सर्वाधिक पढ़ी गईं

MPC: RBI मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी के 3 सदस्य नियुक्त, 7-9 अक्टूबर को होगी अहम बैठक

Monetary Policy Committee: RBI की मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी के 3 सदस्यों की नियुक्ति हो गई है.

Updated: Oct 06, 2020 1:17 PM
RBI MPCThe MPC has given unequivocal guidance that it sees the inflation surge as transitory and the growth risks as more durable.

Monetary Policy Committee: RBI की मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी के 3 सदस्यों की नियुक्ति हो गई है. सरकार ने सोमवार को तीन प्रतिष्ठित इकोनॉमिस्ट को आरबीआई की रेट सेटिंग मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी के सदस्यों के रूप में नियुक्त किया. इनमें PMEAC मेंबर अशीमा गोयल, नेशनल काउंसिल फॉर अप्लाईड इकोनॉमिक रिसर्च के सीनियर एडवाइजर शशांक भिड़े और IIM अहमदाबाद के प्रोफेसर जयंत आर वर्मा नए सदस्य बने हैं. वरिष्ठ सूत्रों के आधार पर न्यूज एजेंसी ने यह जानकारी दी है. सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति (एसीसी) ने इन नामों को मंजूरी दी है.

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक नीति की समीक्षा बैठक अब 7, 8 और 9 अक्टूबर को होगी. बैठक के अंतिम दिन 9 अक्टूबर को आरबीआई गवर्नर शक्ति कांत दास फैसलों की जानकारी देंगे.

टाल दी गई थी बैठक

RBI अधिनियम के अनुसार, तीन नए सदस्यों की नियुक्ति 4 साल के लिए होगी. बता दें कि पहले मॉनेटरी पॉलिसी की मीटिंग 29, 30 सितंबर और 1 अक्टूबर को होने वाली थी. लेकिन भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने एमपीसी की पिछली बैठक को स्थगित कर दिया था. असल में स्वतंत्र सदस्यों की नियुक्ति में देरी हुई थी. आरबीआई ने तब कहा था कि एमपीसी की बैठक को रीशिड्यूल किया जा रहा है. एमपीसी की बैठक की नई तारीखों की घोषणा जल्द ही की जा सकती है.

ये हैं नए मेंबर्स की प्रोफाइल

शशांक भिडे: भिडे नेशनल काउंसिल फॉर एप्लाइड इकोनॉमिक रिसर्च में वरिष्ठ सलाहकार हैं. शशांक ने कृषि अर्थशास्त्र में पीएचडी की है. वह बंगलोर में सामाजिक और आर्थिक परिवर्तन संस्थान के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के सदस्य के रूप में भी कार्य करते हैं.

अशीमा गोयल: इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ डेवलपमेंट रिसर्च में प्रोफेसर हैं. गोयल के राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पत्रिकाओं में अर्थव्यवस्था पर 100 से अधिक लेख छपे हैं. उन्होंने मैक्रोइकॉनॉमिक्स और मार्केट्स इन डेवलपिंग एंड इमर्जिंग इकोनॉमीज और भारतीय अर्थव्यवस्था की एक संक्षिप्त पुस्तिका सहित कई पुस्तकों का लेखन और संपादन भी किया है.

जयंत आर वर्मा: वर्मा इंडीयन इंस्टीट्यूट आफ मैनेजमेंट, अहमदाबाद में प्रोफेसर हैं.

इन पुराने मेंबर्स की लेंगे जगह

नए सदस्यों ने जिन्हें रिप्लेस किया है, उनमें चेतन घाटे, पामी दुआ और रविंद्र डोलकिया हैं. चेतन घाटे भारतीय सांख्यिकीय संस्थान में प्रोफेसर हैं. पामी दुआ दिल्ली स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स (DSE) में निदेशक हैं. वहीं, रविंद्र ढोलकिया, भारतीय प्रबंधन संस्थान, अहमदाबाद में प्रोफेसर हैं.

नियम के अनुसार 4 साल का होगा कार्यकाल

सरकार ने 2016 में आरबीआई गवर्नर से लेकर 6 सदस्यीय एमपीसी तक की ब्याज दर सेटिंग की भूमिका तय की थी. आरबीआई गवर्नर की अध्यक्षता में पैनल का आधा हिस्सा बाहरी स्वतंत्र सदस्यों से बना है. आरबीआई अधिनियम के अनुसार, बाहरी सदस्य 4 साल की अवधि के लिए कार्यालय रख सकते हैं और फिर से नियुक्ति के लिए पात्र नहीं हैं. MPC के अन्य पदेन सदस्य रिजर्व बैंक गवर्नर, उप-गवर्नर (मौद्रिक नीति के प्रभारी) और RBI के एक केंद्रीय अधिकारी होते हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. MPC: RBI मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी के 3 सदस्य नियुक्त, 7-9 अक्टूबर को होगी अहम बैठक

Go to Top