RBI Policy Updates | The Financial Express
Live

RBI Monetary Policy LIVE: लगातार चौथी बार कर्ज महंगा, आरबीआई ने रेपो रेट बढ़ाकर 5.90% किया, GDP ग्रोथ का घटाया अनुमान

RBI Monetary Policy LIVE: आरबीआई मॉनेटरी पॉलिसी का हर अपडेट

RBI Monetary Policy LIVE: लगातार चौथी बार कर्ज महंगा, आरबीआई ने रेपो रेट बढ़ाकर 5.90% किया, GDP ग्रोथ का घटाया अनुमान
RBI Monetary Policy LIVE: आरबीआई मॉनेटरी पॉलिसी का हर अपडेट

RBI MPC Meet News Updates: रिजर्व बैंक ने इस साल मई से अबतक लगातार चौथी बार ब्याज दरों में इजाफा किया है. महंगाई टॉलरेंस लेवल से ज्यादा बढ़ चुकी है. महंगाई के चलते देश की अर्थव्यवस्था पर भी असर पड़ रहा है और रिकवरी में दिक्कत आ रही है. ऐसे में महंगाई को कंट्रोल करने के लिए रिजर्व बैंक (RBI) ने ब्याज दरों में आज यानी 30 सितंबर को फिर बढ़ोतरी कर दी है. RBI ने रेपो रेट में 50 बेसिस प्वॉइंट का इजाफा किया, जिससे यह 5.40 फीसदी से बढ़कर 5.90 फीसदी हो गया है. इसके पहले 5 अगस्‍त को रेपो रेट में 50 बेसिस प्‍वॉइंट, जून में 50 बेसिस प्वॉइंट और मई में 40 बेसिस प्वॉइंट का इजाफा हुआ था.

बता दें कि मौजूदा साल (2022) में अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों में करीब 300 बेसिस अंकों यानी 3 फीसदी की बढ़ोतरी की है. वहीं भारत में इसके मुकाबले देखें तो आरबीआई ने सितंबर पॉलिसी के पहले नीतिगत दरों में अब तक इस साल 1.40 फीसदी का ही इजाफा किया था. इसके आधार पर माना जा रहा था कि आरबीआई के पास अभी भी ब्याज दरें बढ़ाने के पूरे मौके हैं और इनका इस्तेमाल देश का केंद्रीय बैंक कर सकता है.

Home Loan Calculator: RBI ने महंगा किया कर्ज, आपके होम और ऑटो लोन की बढ़ेगी EMI, लेकिन कितनी

GDP ग्रोथ का अनुमान

RBI ने वित्‍त वर्ष 2023 के लिए GDP ग्रोथ का अनुमान 7.2 फीसदी से घटाकर 7 फीसदी कर दिया है. आरबीआई गवर्नर शक्तिकांता दास ने कहा कि भारत का GDP ग्रोथ आज भी सबसे बेहतर है. FY23 की दूसरी छमाही में मांग बेहतर रहेगी. FY23 Q2 में GDP ग्रोथ 6.3 फीसदी रह सकती है.

रेपो रेट क्या है

बैंक हमें कर्ज देते हैं और उस कर्ज पर हमें ब्याज देना पड़ता है. ठीक वैसे ही बैंकों को भी अपने रोजमर्रा के कामकाज के लिए भारी-भरकम रकम की जरूरत पड़ जाती है और वे भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) से कर्ज लेते हैं. इस लोन पर रिजर्व बैंक जिस दर से उनसे ब्याज वसूल करता है, उसे रेपो रेट कहते हैं.

Live Updates

RBI Monetary Policy LIVE: आरबीआई मॉनेटरी पॉलिसी का हर अपडेट

11:31 (IST) 30 Sep 2022
महंगाई का अनुमान 6.7% पर बरकरार

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) वित्त वर्ष 2022-23 के लिए अपने मुद्रास्फीति के अनुमान को 6.7 फीसदी पर बरकरार रखा है. आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि वैश्विक स्तर पर मुद्रास्फीति का असर घरेलू बाजार पर पड़ रहा है. दूसरी छमाही में इसके करीब 6 प्रतिशत रहने का अनुमान है. तीसरी तिमाही के लिए 6.5 फीसदी और मार्च तिमाही के लिए 5.8 फीसदी रहने का अनुमान है.

10:54 (IST) 30 Sep 2022
RBI पॉलिसी से बाजार खुश

RBI पॉलिसी के बाद शेयर बाजार में शानदार तेजी देखने को मिली है. बैंक शेयरों में उड़ान के चलते सेंसेक्‍स और निफ्टी दोनों इंडेक्‍स में मजबूती देखने को मिल रही है. सेंसेक्‍स 450 अंकों से ज्‍यादा मजबूत हुआ है तो निफ्टी भी 16950 के करीब नजर आ रहा है. बैंक, फाइनेंशियल शेयरों में शानदार तेजी है. निफ्टी पर दोनों इंडेक्‍स 1 से 1.5 फीसदी मजबूत हुए हैं.

10:45 (IST) 30 Sep 2022
महंगाई दर कम होने का अनुमान

आरबीआई गवर्नर ने कहा कि अभी महंगाई दर 7 फीसदी के आस पास है. हालांकि वित्‍त वर्ष 2023 कर दूसरी तिमाही में यह घटकर 6 फीसदी पर आ सकती है. लेकिन अभी यह चिंता का विषय बनी रहेगी.

10:43 (IST) 30 Sep 2022
GDP ग्रोथ का अनुमान घटाकर 7%

RBI ने वित्‍त वर्ष 2023 के लिए GDP ग्रोथ का अनुमान 7.2 फीसदी से घटाकर 7 फीसदी कर दिया है. आरबीआई गवर्नर शक्तिकांता दास ने कहा कि भारत का GDP ग्रोथ आज भी सबसे बेहतर है. FY23 की दूसरी छमाही में मांग बेहतर रहेगी. FY23 Q2 में GDP ग्रोथ 6.3 फीसदी रह सकती है.

09:48 (IST) 30 Sep 2022
RBI पॉलिसी के पहले बाजार कमजोर

RBI पॉलिसी के पहले बाजार कमजोर नजर आ रहे हैं. आज के कारोबार में सेंसेक्‍स और निफ्टी दोनों इंडेक्‍स में गिरावट देखने को मिल रही है. सेंसेक्‍स 250 अंकों से ज्‍यादा कमजोर हुआ है तो निफ्टी भी 16750 के करीब नजर आ रहा है. आज बाजार में बिकवाली का दबाव है. बैंक, आईटी फाइनेंशियल और ऑटो शेयरों में तेज बिकवाली है. निफ्टी पर आईटी इंडेक्‍स 1 फीसदी कमजोर हुआ है. जबकि बैंक, फाइनेंशियल और ऑटो इंडेक्‍स में आधे फीसदी से ज्‍यादा गिरावट है. मेटल और फार्मा इंडेक्‍स हरे निशान में हैं.

09:47 (IST) 30 Sep 2022
यूएस फेड ने लगातार बढ़ाई हैं दरें

बता दें कि मौजूदा साल (2022) में अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों में करीब 300 बेसिस अंकों यानी 3 फीसदी की बढ़ोतरी की है. वहीं भारत में इसके मुकाबले देखें तो आरबीआई ने सितंबर पॉलिसी के पहले नीतिगत दरों में अब तक इस साल 1.40 फीसदी का ही इजाफा किया है.

09:46 (IST) 30 Sep 2022
RBI MPC: इस साल अबतक 1.40 फीसदी बढ़ा ब्‍याज

केंद्रीय बैंक आरबीआई (RBI) ने इस साल 2022 में मई से अगस्‍त तक तीन बार ब्‍याज दरों में इजाफा किया है. तीन बार में रेपो रेट 140 बीपीएस यानी 1.40 फीसदी बढ़ चुका है.

09:45 (IST) 30 Sep 2022
अगस्‍त में बढ़ा था रेपो रेट

अगस्‍त पॉलिसी में रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 50 बेसिस प्वॉइंट का इजाफा किया था, जिससे यह 4.90 फीसदी से बढ़कर 5.40 फीसदी हो गया था. इसके पहले जून में रेपोर रेट में 50 बेसिस प्वॉइंट और मई में 40 बेसिस प्वॉइंट का इजाफा हुआ था. रिजर्व बैंक ने GDP ग्रोथ का अनुमान पहले की तरह 7.2 फीसदी पर बरकरार रखा था.

RBI Monetary Policy LIVE: आरबीआई मॉनेटरी पॉलिसी का हर अपडेट

TRENDING NOW

Business News