Live

RBI 5 August Monetary आरबीआई ने फिर बढ़ाया 0.50 फीसदी रेपो रेट, GDP ग्रोथ का अनुमान 7.2% पर बरकरार

RBI MPC Meeting, RBI hikes repo rate by 50 bps to 5.4%: भारतीय रिजर्व बैंक मॉनेटरी पॉलिसी का हर अपडेट

RBI 5 August Monetary आरबीआई ने फिर बढ़ाया 0.50 फीसदी रेपो रेट, GDP ग्रोथ का अनुमान 7.2% पर बरकरार
RBI Monetary Policy, MPC Meet August,2022 News Updates: भारतीय रिजर्व बैंक मॉनेटरी पॉलिसी का हर अपडेट

RBI MPC Meet News Updates: रिजर्व बैंक ने इस साल मई से अबतक लगातार तीसरी बार ब्याज दरों में इजाफा किया है. महंगाई टॉलरेंस लेवल से ज्यादा बढ़ चुकी है. महंगाई के चलते देश की अर्थव्यवस्था पर भी असर पड़ रहा है और रिकवरी में दिक्कत आ रही है. ऐसे में महंगाई को कंट्रोल करने के लिए रिजर्व बैंक (RBI) ने ब्याज दरों में आज बढ़ोतरी कर दी है. RBI ने रेपो रेट में 50 बेसिस प्वॉइंट का इजाफा किया, जिससे यह 4.90 फीसदी से बढ़कर 5.40 फीसदी हो गया है. इसके पहले जून में रेपोर रेट में 50 बेसिस प्वॉइंट और मई में 40 बेसिस प्वॉइंट का इजाफा हुआ था. रिजर्व बैंक ने GDP ग्रोथ का अनुमान पहले की तरह 7.2 फीसदी पर बरकरार रखा है. FY23 में महंगाई दर 6.7 फीसदी संभव है.

Home Loan: RBI ने महंगा कर दिया कर्ज, आपके होम लोन और ऑटो लोन की इतनी बढ़ जाएगी EMI

बता दें कि मौजूदा साल (2022) में अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने ब्याज दरों में 225 बेसिस अंकों यानी 2.25 फीसदी की बढ़ोतरी की है. वहीं भारत में इसके मुकाबले देखें तो आरबीआई ने अगस्त पॉलिसी के पहले अब तक इस साल 0.90 फीसदी का ही इजाफा नीतिगत दरों में किया था. इसके आधार पर माना जा रहा था कि आरबीआई के पास अभी भी ब्याज दरें बढ़ाने के पूरे मौके हैं और इनका इस्तेमाल देश का केंद्रीय बैंक कर सकता है.

Live Updates

RBI 5 August Monetary Policy Live: भारतीय रिजर्व बैंक मॉनेटरी पॉलिसी का हर अपडेट

10:49 (IST) 5 Aug 2022
डिमांड स्टोरी बेहतर

RBI का कहना है कि शहरी मांग में सुधार देखने को मिल रहा है, ग्रामीण मांग में धीरे-धीरे सुधार जारी है. वहीं निवेश में तेजी देखने को मिल रही है. बेहतर मॉनसून से ग्रामीण मांग में बढ़ोतरी का अनुमान है.

10:47 (IST) 5 Aug 2022
सिस्टम में पर्याप्त लिक्विडिटी

RBI गवर्नर ने कहा कि करंट अकाउंट डेफिसिट को लेकर चिंता की बात नहीं है. सिस्टम में पर्याप्त लिक्विडिटी बनी हुई है.

10:45 (IST) 5 Aug 2022
महंगाई के मोर्चे पर अनिश्चितताएं

रिजर्व बैंक गवर्नर ने कहा कि महंगाई के मोर्चे पर अनिश्चितताएं अभी भी बरकरार हैं. भारतीय अर्थव्यवस्था पर भी महंगाई का असर है. लिक्विडिटी के मोर्चे पर RBI की नजर है. वहीं रिजर्व बैंक का फोकस रुपए की वोलेटिलिटी खत्म करने पर है.

10:44 (IST) 5 Aug 2022
FY23 में महंगाई दर 6.7% पर बरकरार

FY23 में महंगाई दर 6.7 फीसदी संभव है. FY23 के Q2 में महंगाई दर 7.1 फीसदी रहने का अनुमान है तो Q3 में महंगाई दर 6.4 फीसदी, Q4 में 5.8 फीसदी और FY24 के Q1 में महंगाई दर 5 फीसदी रहने का अनुमान है.

10:44 (IST) 5 Aug 2022
GDP ग्रोथ के अनुमान

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने वित्त वर्ष 22-23 के लिए जीडीपी ग्रोथ के अनुमान को बरकरार रखा है और वित्त वर्ष 22-23 के लिए जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 7.2 फीसदी ही रखा है.

09:20 (IST) 5 Aug 2022
कितनी बढ़ सकती हैं दरें

Kotak इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज के सीनियर इकोनॉमिस्ट सुवोदीप रक्षित का कहना है कि अगस्त मॉनेटरी पॉलिसी में RBI का फोकस डोमेस्टिक इनफ्लेशन को कम करने पर रहेगा. US Fed द्वारा हाल ही में रेट हाइक किया गया है, जिसका अनुमान पहले से था. अब RBI रेपो रेट में 35 bps का इजाफा कर सकता है और अपना रुख कठोर बनाए रख सकता है.

09:19 (IST) 5 Aug 2022
अर्थव्यवस्था के लिए बेहतर संकेत

Kotak Cherry के CEO-Designate श्रीकांत सुब्रमण्यम का कहना है कि यूएस फेड सहित दुनियाभर के सेंट्रल बैंकों के रेट हरइक रुख को देखते हुए आगामी RBI पॉलिसी में रेपो रेट में 35-50 bps बढ़ोतरी के बीच सहमति बन सकती है. मॉनेटरी पॉलिसी मैक्रो डेटा से प्रभावित होती हैं, जहां महंगाई और ग्रोथ को कुछ हाई फ्रीक्वेंसी इंडीकेटर्स के साथ ट्रैक किया जाता है. घरेलू स्तर पर, कच्चे तेल के साथ-साथ कमोडिटी में नरमी आई है, जीएसटी कलेक्यान बेहतर हो रहा है, पीएमआई में बढ़ोतरी है, बिजली की खपत में मजबूती है. ये बातें अर्थव्यवस्था के लचीलेपन की ओर इशारा करती हैं.

09:18 (IST) 5 Aug 2022
ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल

ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल के अनुसार घरेलू मैक्रो कंडीशंस के ब्रॉडर आउटलुक में लिमिटेड परिवर्तन के साथ RBI के अगस्त मॉनेटरी पॉलिसी में रेपो रेट 35bps या कुछ ज्यादा बढ़ सकता है. ग्लोबल एक्सटर्नलिटीज और वित्तीय स्थितियां लगातार अधिक स्थिर हो गई हैं क्योंकि बाजार अब इनफ्लेशन और रेट हाइक को डिस्काउंट कर रहा है.

09:18 (IST) 5 Aug 2022
चलन में 500 अरब रुपये की बढ़त

आरबीआई के आंकड़ों से पता चलता है कि अप्रैल से अब तक भारतीय मुद्रा के चलन में 500 अरब रुपये की बढ़त हुई है. यह पिछले साल इसी अवधि के 928 अरब रुपये की तुलना में आधा है। 2020-21 में यह 2.25 लाख करोड़ रुपये थी. पिछले वित्तवर्ष में इसमें 2.80 लाख करोड़ रुपये की बढ़त हुई थी.

09:17 (IST) 5 Aug 2022
महंगाई दर का अनुमान

इस साल की शुरुआत से ही महंगाई दर आरबीआई के टारगेट 6 फीसदी से ऊपर बनी हुई है. डीबीएस बैंक में सीनियर इकनॉमिस्ट राधिका राव का मानना है कि चालू वित्त वर्ष के लिए आरबीआई महंगाई दर के अनुमान को 6.7 फीसदी और ग्रोथ प्रोजेक्शंस को 7.2 फीसदी पर फिक्स कर सकता है. देश के चावल उत्पादक हिस्सों में बारिश की कमी के चलते उत्पादन प्रभावित हो सकता है और महंगाई के खिलाफ आरबीआई की लड़ाई पर इसका असर दिख सकता है.

09:16 (IST) 5 Aug 2022
रुपया और लिक्विडिटी

हालिया महीनों में रुपये ने कई बार निचला स्तर छुआ और जुलाई में यह एक अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 80 रुपये के भाव तक फिसल गया. हालांकि इसके बाद विदेशी निवेशकों की आवक से रुपया मजबूत हुआ. आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज प्राइमरी डीलरशिप के मुख्य अर्थशास्त्री प्रसन्ना अनंतसुब्रमण्यन का कहना है कि आरबीआई को अमेरिका के साथ ब्याज दरों के फासले पर ध्यान रखना चाहिए ताकि रुपये पर किसी भी स्पेक्यूलेटिव दबाव को बनने से रोका जा सके. इसके अलावा बाजार को आरबीआई से उम्मीद है कि पर्याप्त लिक्विडिटी बनी रहेगी.

RBI 5 August Monetary Policy Live: भारतीय रिजर्व बैंक मॉनेटरी पॉलिसी का हर अपडेट

TRENDING NOW

Business News