scorecardresearch

Gold Import Duty: सोना खरीदना होगा महंगा, सरकार ने आज से इंपोर्ट ड्यूटी 5% बढ़ाई; समझें डिटेल

देश में सोने की डिमांड मजबूत बनी हुई है. दूसरी ओर सरकार का फिस्कल डेफिसिट भी बढ़ रहा है. वहीं इंपोर्ट बिल लगातार बढ़ने से फॉरेक्स रिजर्व पर भी असर पड़ा है.

सरकार ने सोने पर आज से इंपोर्ट ड्यूटी में 5 फीसदी इजाफा कर दिया है. (reuters)

Gold Price Today: अगर आप बुलियन में निवेश करते हैं तो यह खबर आपके लिए जरूरी है. सोना खरीदना अब आपके लिए महंगा हो जाएगा. असल में सरकार ने आज यानी 1 जुलाई 2022 से सोने पर आज से इंपोर्ट ड्यूटी में 5 फीसदी इजाफा कर दिया है. यानी अब सोना इंपोर्ट करना पहले से 5 फीसदी महंगा होगा. बुलियन एक्सपर्ट का मानना है कि इससे फिलिकल मार्केट में भी सोने का भाव प्रति 10 ग्राम कम से कम 1000 रुपये के आस पास बढ़ सकता है. बता दें कि अबतक सोने पर इंपोर्ट ड्यूटी 7.5 फीसदी थी जो अब बढ़कर 12.5 फीसदी हो जाएगी. पिछले साल सरकार ने बजट में इंपोर्ट ड्यूटी में कटौती की थी. सोने और चांदी पर पहले 12.5 फीसदी की इंपोर्ट ड्यूटी थी, जिसे बजट 2021 में कम करके 7.5 फीसदी कर दिया गया था.

सोने पर इंपोर्ट ड्यूटी क्यों बढ़ी

IIFL के VP-रिसर्च अनुज गुप्ता का कहना है कि देश में सोने की डिमांड मजबूत बनी हुई है. दूसरी ओर सरकार का फिस्कल डेफिसिट भी बढ़ रहा है. वहीं इंपोर्ट बिल लगातार बढ़ने से फॉरेक्स रिजर्व पर भी असर पड़ा है और यह कुछ कम हुआ है. इसे देखते हुए सरकार कुछ बड़े कदम उठा रही है, जिसके तहत सोने पर भी इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ा दी गई है. इंपोर्ट् ड्यूटी तत्काल प्रभाव से बढ़ने से सोने का आयत घटेगा. वहीं डिमांड अगर इसी तरह से बनी रही तो कीमतों में इजाफा होगा.

फैसले का क्या होगा असर

हालांकि अनुज गुप्ता का मानना है कि इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ने के बाद सोने की डिमांड में शॉर्ट टम में कुछ गिरावट आ सकती है. ट्रेडर्स महंगा सोना इंपोर्ट करने से बचेंगे, तो फिजिकल मार्केट में भी डिमांड कम रह सकती है. वैसे भी अभी न तो फेस्टिव सीजन है और न ही शादियों का सीजन. उनका कहना है कि अब अगस्त से ही सोने में डिमांड उठने की उम्मीद है.

शॉर्ट टर्म में किस रेंज में रहेगा सोना

सोना कल इंटरनेशनल मार्केट में सपोर्ट लेवल 1810 डॉलर तोड़कर इसके नीचे आ गया. नियर टर्म में इसमें कंसोलिडेशन रहेगा. सोने के लिए अब अगला सपोर्ट लेवल 1795 डॉलर और 1785 डॉलर है. वहीं mcx पर यह 50100 के लेवल के आस पास है. इसके लिए अगला सपोर्ट लेवल 49700 के लेवल पर है. अनुज गुप्ता का कहना है कि नियर टर्म में यह 49000 रुपये से 52000 रुपये प्रति 10 ग्राम की रेंज में रह सकता है.

कितना आयात होता है सोना

वर्ल्‍ड गोल्‍ड काउंसिल की रिपोर्ट के अनुसार 2021 में भारत ने 55.7 अरब डॉलर यानी 4,141.36 अरब रुपए का सोना आयात किया था. 2020 में यह आंकड़ा सिर्फ 23 अरब डॉलर यानी 1,710 अरब रुपए था. रिपोर्ट के अनुसार मात्रा में बात करें तो 2021 में भारत का कुल गोल्‍ड इंपोर्ट 1,050 टन रहा था, जबकि 2020 में यह आंकड़ा 430 टन था. साल 2020 में कोरोना के चलते लगे लॉकडाउन और शादियों को लेकर लगाई गई कड़ी पाबंदियों की वजह से सोने का आयात गिरा था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Most Read In Commodity News

TRENDING NOW

Business News