NEET UG Counselling 2022: NRI कोटे में मेडिकल एडमिशन से जुड़ी खबर, नागरिकता बदलने के लिए 11 अक्टूबर तक कर सकते हैं आवेदन | The Financial Express

NEET UG Counselling 2022: मेडिकल काउंसलिंग कमेटी का बड़ा एलान, NRI कोटे में एडमिशन के लिए कैटेगरी बदलने का मौका, 11 अक्टूबर तक भेजें ईमेल

NRI कोटे में एडमिशन के लिए एलिजबल उम्मीदवार अपनी नागरिकता बदलकर NRI करने के लिए ug.nri.mcc@gmail.com पर ईमेल के जरिए अप्लाई कर सकते हैं.

NEET UG Counselling 2022: मेडिकल काउंसलिंग कमेटी का बड़ा एलान, NRI कोटे में एडमिशन के लिए कैटेगरी बदलने का मौका, 11 अक्टूबर तक भेजें ईमेल
उम्मीदवार को जरूरी डॉक्यूमेंट्स के साथ एक एफिडेविट को मेडिकल काउंसलिंग कमेटी की आधिकारिक ईमेल आईडी ug.nri.mcc@gmail.com पर मेल करने होंगे.

NEET UG Counselling 2022: देश के मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन के लिए जो छात्र NEET UG 2022 की परीक्षा दे चुके हैं और अब NRI कोटे के तहत एडमिशन पाना चाहते हैं, उनके लिए मेडिकल काउंसलिंग कमेटी (MCC) ने बड़ा एलान किया है. कमेटी ने ऐसे छात्रों को अपनी नागरिकता की कैटेगरी भारतीय से बदलकर NRI करने के लिए आवेदन करने का मौका दिया है. कमेटी के मुताबिक इसके लिए 11 अक्टूबर तक ईमेल के जरिए अप्लाई किया जा सकता है.

मेडिकल काउंसलिंग कमेटी की तरफ से जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक जो उम्मीदवार NRI कोटे के तहत एडमिशन के लिए एलिजबल हैं और NEET UG Counselling में शामिल होना चाहते हैं, वे 11 अक्टूबर को सुबह 10 बजे तक MCC की आधिकारिक ईमेल आईडी ug.nri.mcc@gmail.com पर अपनी नागरिकता को भारतीय से बदलकर NRI करने के लिए ईमेल कर सकते हैं. छात्रों को इस ईमेल के साथ ही उन जरूरी दस्तावेजों की कॉपी भी अपलोड करनी होगी, जिनके आधार पर वो NRI कैटेगरी में एडमिशन पाने के लिए दावा करना चाहते हैं. एमसीसी 11 अक्टूबर को NEET UG के लिए पहले राउंड की काउंसलिंग शुरू करने जा रही है.

मेडिकल काउंसलिंग कमेटी की ओर से जारी सूचना के मुताबिक “एडमिशन कोटे में बदलाव के लिए उम्मीदवारों को अपने डॉक्यूमेंट्स शुक्रवार यानी 7 अक्टूबर की सुबह 10 बजे से मंगलवार यानी 11 अक्टूबर की सुबह 10 बजे तक ug.nri.mcc@gmail.com पर मेल के जरिए भेजने होंगे. कमेटी ने उम्मीदवारों को तय समय सीमा में ईमेल करने की हिदायत देते हुए कहा है कि निर्धारित तारीख के बाद प्राप्त होने वाले किसी भी ईमेल को स्वीकार नहीं किया जाएगा.

दरअसल देश के मेडिकल कॉलेजों में एडमिशन के लिए भारतीय कोटे को साथ ही NRI कोटा होता भी है, जो प्रवासी भारतीयों या उनके परिवार के बच्चों के लिए आरक्षित होता है. इस कोटे के तहत उन्हीं बच्चों का दाखिला हो सकता है, जो NRI की परिभाषा में आते हों. इस कोटे के लिए आवेदन करने वाले को अपने दावे के समर्थन में तमाम दस्तावेज जमा करने होंगे. साथ ही परिवार के उस NRI सदस्य का एफिडेविट भी जमा करना होगा, जो NRI कोटे के तहत एडमिशन होने पर पढ़ाई का पूरा खर्च उठाएगा. एफिडेविट में यह भी बताना जरूरी है कि एडमिशन लेने वाले छात्र का पढ़ाई स्पॉन्सर करने वाले NRI के साथ क्या संबंध है.

नेशनलिटी में बदलाव के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट्स

  • नागरिकता प्रमाण पत्र के तौर पर पासपोर्ट या वीजा.
  • NRI के साथ उम्मीदवार के संबंध का विवरण.
  • दूतावास द्वारा जारी सर्टिफिकेट.  
  • NEET UG स्कोर कार्ड.

उम्मीदवार को इन सभी डॉक्यूमेंट्स के साथ एक एफिडेविट भी एमसीसी को मेल करना होगा. NEET UG काउंसलिंग का पहला राउंड 11 अक्टूबर से शुरू हो रहा है. काउंसलिंग 4 राउंड में आयोजित की जाएगी. राउंड 1, राउंड 2, मॉप-अप राउंड और स्ट्रे वेकेंसी राउंड. इसके साथ ही बीडीएस, बीएससी और नर्सिंग पाठ्यक्रमों के लिए सेकेंड मॉप अप राउंड और स्ट्रे वेकेंसी राउंड अलग से आयोजित किये जाएंगे. NEET-UG काउंसलिंग के जरिए ऑल इंडिया कोटे (AIQ) की 15 प्रतिशत सरकारी सीटों के अलावा सभी डीम्ड / सेंट्रल यूनिवर्सिटीज, ESIC / AFMS संस्थानों, AIIMS और JIPMER कॉलेजों में एडमिशन दिया जाएगा. उम्मीदवारों को सीटों से जुड़ी जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट mcc.nic.in पर लगातार नजर बनाए रखनी चाहिए.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News