सर्वाधिक पढ़ी गईं

Zomato का IPO पहले ही दिन पूरी तरह सब्सक्राइब; शुक्रवार तक खुला है इश्यू, लिस्टिंग प्राइस के बारे में जानिए जानकारों की राय

Zomato IPO: ज़ोमैटो के आईपीओ को खुलने के साथ ही निवेशकों का अच्छा रिस्पॉन्स मिला है, कंपनी एंकर इनवेस्टर्स से 4200 करोड़ रुपये पहले ही जुटा चुकी है.

Updated: Jul 14, 2021 9:03 PM
फूड डिलीवरी कंपनी Zomato ने अपने IPO से पहले ही एंकर इनवेस्टर्स से 4200 करोड़ रुपये जुटा लिए हैं.

Zomato IPO: फूड डिलीवरी करने वाली देश की प्रमुख कंपनी ज़ोमैटो के आईपीओ को खुलने के साथ ही निवेशकों का अच्छा रिस्पॉन्स मिला है. कंपनी का IPO पहले ही दिन पूरी तरह सब्सक्राइब हो गया है. सब्सक्रिप्शन के मामले में रिटेल निवेशकों ने ज्यादा उत्साह दिखाया है. रिटेल इनवेस्टर्स के लिए रखे शेयर बुधवार शाम 5 बजे तक 2.69 गुना ओवर-सब्सक्राइब हो चुके हैं.

Zomato का 9,375 करोड़ रुपये का यह आईपीओ आम निवेशकों के लिए आज ही खुला है. आम निवेशकों के लिए आईपीओ खुलने से पहले ही कंपनी अपने एंकर इनवेस्टर्स से 4200 करोड़ रुपये जुटा चुकी है. निवेशकों के पास इस शेयर के लिए आवेदन करने का मौका शुक्रवार की शाम तक खुला हुआ है. कंपनी ने इस आईपीओ के लिए 72 से 76 रुपये की प्राइस रेंज तय की है. देश की जो टेक स्टार्टअप कंपनियां आने वाले दिनों में स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट होने वाली हैं, उनमें जोमैटो सबसे पहले ऐसा करने जा रही है.

जौमैटो के इस इश्यू को रिटेल निवेशकों ने सबसे पहले ओवर-सब्सक्राइब किया, जबकि क्वॉलिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIB) ने अब तक अपने लिए सुरक्षित शेयर्स का लगभग पूरी तरह सब्सक्राइब कर चुके हैं. इसी तरह नॉन-इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स (NII) ने अपने लिए सुरक्षित शेयर का 13 फीसदी हिस्सा सब्सक्राइब किया है. जोमैटो के कर्मचारियों के लिए सुरक्षित शेयर 18 फीसदी सब्सक्राइब हुए हैं. इस आईपीओ में 75 फीसदी शेयर QIB के लिए, 15 फीसदी शेयर NIIs के लिए और बाकी 10 फीसदी शेयर रिटेल निवेशकों के लिए आरक्षित किए गए हैं.

मारवाड़ी शेयर्स एंड फाइनेंस लिमिटेड के एनालिस्ट के मुताबिक, “जोमैटो के आईपीओ के बाद कंपनी के शेयर वित्त वर्ष 2020-21 की बिक्री के मुकाबले 29.9X के P/S (Price to Sales) रेशियो पर लिस्ट होने की उम्मीद है, जिसके आधार पर इसका मार्केट कैपिटलाइजेशन 59,623.4 करोड़ रुपये रहेगा. भारत में अभी इस तरह की कोई कंपनी लिस्टेड नहीं है, इसलिए इसके वैल्यूएशंस की तुलनात्मक समीक्षा नहीं की जा सकती.” उनका कहना है कि “हम इस शेयर में सब्सक्राइब करने की सिफारिश कर रहे हैं, क्योंकि कंपनी भारत में प्रमुख फूड सर्विस प्लेटफॉर्म है, जिसके ब्रांड की कंज्यूमर्स के बीच अच्छी पहचान है. इस आधार पर यह कंपनी भारत के बड़े बाजार में मौजूद संभावनाओं का अच्छी तरह फायदा उठाने की संभावना रखती है.”

आईसीआईसीआई डायरेक्ट (ICICI Direct) के एनालिस्ट्स का मानना है कि जोमैटो में ग्रोथ की अच्छी संभावनाएं हैं, जिसे इस समय मैक्रोइकनॉमिक यानी देश के व्यापक आर्थिक माहौल, डेमोग्राफिक संरचना में आ रहे बदलाव और टेक इंफ्रास्ट्रक्चर की बढ़ती स्वीकार्यता का सपोर्ट भी मिल रहा है. आईसीआईसीआई डायरेक्ट का कहना है कि भारत का फूड सर्विस मार्केट अगले पांच सालों में बढ़कर 7.7 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचने की उम्मीद है, जो जोमैटो के लिए ग्रोथ का जबरदस्त मौका है.

जोमैटो के आईपीओ में हर तरह के निवेशकों की काफी दिलचस्पी नजर आ रही है. आईपीओ से पहले ही कंपनी अपने एंकर इनवेस्टर्स से 4200 करोड़ रुपये जुटाने में सफल रही है, जिनमें टाइगर ग्लोबल, ब्लैकरॉक, सिंगापुर सरकार, जेपी मॉर्गन, गोल्डमैन सैक्स और मॉर्गन स्टैनली जैसे बड़े अंतरराष्ट्रीय निवेशक शामिल हैं.

(Story: Kshitij Bhargava)

(स्टोरी में दिए गए सुझाव और सलाह संबंधित एनालिस्ट्स और ब्रोकरेज फर्म की हैं. फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन किसी भी निवेश सलाह की कोई जिम्मेदारी नहीं लेता. निवेश के पहले अपने सलाहकार से जरूर परामर्श कर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Zomato का IPO पहले ही दिन पूरी तरह सब्सक्राइब; शुक्रवार तक खुला है इश्यू, लिस्टिंग प्राइस के बारे में जानिए जानकारों की राय

Go to Top