सर्वाधिक पढ़ी गईं

Yes Bank बंद कर रहा है 50 शाखाएं, ATM भी हो सकते हैं कम; ये है वजह

बैंक पट्टे पर लिए गए गैरजरूरी स्थलों को वापस कर रहा है. साथ ही वह किराये वाली जगहों पर किराया दरें नए सिरे से तय करने के लिए बातचीत कर रहा है.

Updated: Oct 25, 2020 6:36 PM
Yes Bank will be shutting down 50 branches, ATM network is also being rationalizedImage: PTI

यस बैं​क (Yes Bank) अपनी 50 शाखाएं बंद करने जा रहा है. इसके अलावा बैंक अपने एटीएम की संख्या को भी सुसंगत करने पर विचार कर रहा है. इसकी वजह है कि नए प्रबंधन के तहत निजी क्षेत्र का यह बैंक चालू वित्त वर्ष 2020-21 में परिचालन खर्च में 20 फीसदी की कटौती का लक्ष्य लेकर चल रहा है. यस बैंक के नए सीईओ और प्रबंध निदेशक निदेशक प्रशांत कुमार ने कहा है कि बैंक पट्टे पर लिए गए गैरजरूरी स्थलों को वापस कर रहा है. साथ ही वह किराये वाली जगहों पर किराया दरें नए सिरे से तय करने के लिए बातचीत कर रहा है.

कुमार ने कहा कि बड़े चूककर्ता अदालतों की शरण में जा रहे हैं, जिससे यस बैंक को ऋण वसूली में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. यस बैंक के सह-संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी राणा कपूर के कार्यकाल में कामकाज के संचालन में कई खामियां सामने आने के बाद भारतीय स्टेट बैंक की अगुवाई में बैंकों के गठजोड़ ने पूंजी डालकर यस बैंक को बचाया था. उसके बाद मार्च में कुमार को बैंक का नया प्रमुख नियुक्त किया गया था. सितंबर तिमाही में बैंक के परिचालन लाभ में 21 फीसदी की गिरावट आई थी.

लागत पर नहीं है नियंत्रण

कुमार ने कहा कि दुर्भाग्य की बात यह है कि बैंक में लागत पर कोई नियंत्रण नहीं है. एक वैश्विक परामर्शक ने चालू वित्त वर्ष में 2019-20 की तुलना में परिचालन खर्च में 20 फीसदी की कमी लाने के लिए कदम-दर-कदम एजेंडा सुझाया है. कुमार ने कहा कि बैंक ने मध्य मुंबई के इंडियाबुल्स फाइनेंस सेंटर में पहले ही दो फ्लोर छोड़ दिए हैं. इसके अलावा बैंक सभी 1,100 शाखाओं के लिए किराये पर नए सिरे से बातचीत कर रहा है. उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया से बैंक को किराये में करीब 20 फीसदी की कमी आने की उम्मीद है.

परिचालन को तर्कसंगत बनाने के कदम के तहत बैंक 50 शाखाओं को भी बंद कर रहा है. कुमार ने कहा कि कई शाखाएं बिल्कुल पास-पास स्थित हैं. ऐसे में ये आर्थिक दृष्टि से व्यावहारिक नहीं हैं. उन्होंने कहा कि एटीएम की संख्या को भी सुसंगत किया जा रहा है.

SBI डेबिट/ATM कार्ड घर बैठे कैसे कराएं ब्लॉक? 4 तरीके हैं मौजूद

35 ग्रामीण शाखाएं बनीं बिजनेस करेस्पोन्डेंट लोकेशंस

सितंबर तिमाही में यस बैंक ने 35 ग्रामीण शाखाओं को बिजनेस करेस्पोन्डेंट लोकेशंस में तब्दील कर दिया था. कुमार ने कहा कि इससे बैंक की प्रति माह ​परिचालन लागत 2 लाख रुपये से कम होकर 35000 रुपये प्रतिमाह पर आ गई. कारोबार में बदलाव के साथ बैंक अपने कर्मचारियों को जरूरत के अनुसार नए कामों में लगा रहा है. रेस्क्यू स्कीम के हिस्से के तौर पर बैंक अपने सभी मौजूदा कर्मचारियों को कम से कम एक साल के लिए काम पर रखने के लिए प्रतिबद्ध है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Yes Bank बंद कर रहा है 50 शाखाएं, ATM भी हो सकते हैं कम; ये है वजह

Go to Top