मुख्य समाचार:
  1. Yes बैंक 15% टूटकर 5 साल के लो पर, 11 महीने में निवेशकों के डूब गए 75 हजार करोड़

Yes बैंक 15% टूटकर 5 साल के लो पर, 11 महीने में निवेशकों के डूब गए 75 हजार करोड़

यस बैंक की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है.

July 18, 2019 10:22 AM
Yes Bank, Yes Bank Stocks, Yes Bank M-Cap, Investors, Yes Bank Q1 Result, Stock Market, यस बैंक, यस बैंक का शेयर, तिमाही नतीजे, यस बैंक का मार्केट कैपयस बैंक की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है.

यस बैंक की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. बुधवार को खराब तिमाही नतीजे आने के बाद गुरूवार के कारोबार में यस बैंक में 15 फीसदी की बड़ी गिरावट आई है. शेयर टूटकर 83.70 के स्तर पर आ गया जो 5 साल का नया लो है. वहीं रिकॉर्ड हाई से शेयर में करीब 80 फीसदी गिरावट आ चुकी है. वहीं पिछले 11 महीनों में यस बैंक में निवेशकों की करीब 75 हजार करोड़ की दौलत साफ हो चुकी है.

मुनाफा 91% घटा, NPA हाई

वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में सालाना आधार पर यस बैंक का मुनाफा 91 फीसदी घटकर 114 करोड़ रुपये रह गया है. बैंक के नए एनपीए सामने आए हैं. वहीं फंसे कर्ज को देखते हुए प्रोविजनिंग भी 3 गुना बढ़ गई है. ग्रॉस एनपीए 5.01 फीसदी जो रुपये में 12092 करोड़ रुपये रहा है. नेट एनपीए 2.91 फीसदी, जो रुपये में 6883 करोड़ रुपये है.

जून तिमाही में फंसे हुए कर्ज को देखते हुए बैंक ने प्रोविजनिंग में करीब 3 गुना बढ़ोत्तरी की है. सालाना आधार पर प्रोविजनिंग 624 करोड़ से बढ़कर 1784 करोड़ रुपये हो गई है. NIM जून तिमाही में सालाना आधार पर 3.3 फीसदी से घटकर 2.8 फीसदी रहा है.

5 साल के निचले स्तर पर शेयर

यस बैंक का शेयर आज 83.70 रुपये पर आ गया जो 5 साल का लो है. रिकॉर्ड हाई से शेयर में करीब 80 फीसदी गिरावट आ चुकी है. यस बैंक के शेयर ने 20 अगस्त 2018 को अपना ऑलटाइम हाई बनाया और शेयर 404 रुपये के भाव पर पहुंच गया. लेकिन 20 अगस्त के बाद से अबतक शेयर में लगातार गिरावट आई है. 18 जुलाई को सुबह शेयर 83.70 के भाव पर आ गया.

11 महीनों में डूबे 75000 करोड़

रिकॉर्ड हाई से अब तक की बात करें तो यस बैंक के मार्केट कैप में करीब 74455 करोड़ रुपये की गिरावट आ चुकी है. 20 अगस्त 2018 को बैंक का मार्केट कैप 95000 करोड़ रुपये था जो 18 जुलाई 2019 को सुबह 10 बजे तक घटकर 20545 करोड़ रुपये रह गया. यानी 11 महीनों से भी कम समय में निवेशकों की दौलत करीब 4 गुना कम हो गई.

लिस्ट होने के बाद दिया था 33 गुना तक रिटर्न

यस बैंक ने 20 अगस्त के पहले पिछले कई साल से निवेशकों को लगातार बेहतर रिटर्न दिया था. शेयर बाजार में जुलाई 2005 में लिस्ट होने के बाद शेयर का भाव 12.37 रुपये से बढ़कर 20 अगस्त 2018 को 404 रुपये हो गया, यानी इस दौरान करीब 3100 फीसदी यानी 33 गुना रिटर्न दिया.

Go to Top