सर्वाधिक पढ़ी गईं

क्या ग्राहकों को लग गया था YES BANK में है खतरा? 7 महीने में निकाल लिये थे 18,000 करोड़ से ज्यादा

यस बैंक ने अभी तीसरी तिमाही के आंकड़े नहीं जारी किये हैं. 14 मार्च को नतीजे आने की उम्मीद है.

Updated: Mar 10, 2020 9:09 AM
yes bank customers withdrawals more than 18000 crore rupees deposit in only 7 month last yearयस बैंक ने अभी तीसरी तिमाही के आंकड़े नहीं जारी किये हैं. 14 मार्च को नतीजे आने की उम्मीद है. (Reuters)

Yes Bank Scam: अक्सर कोई बैंक घोटाले में फंसता या डूबता है तो सबसे ज्यादा नुकसान ग्राहकों को ही उठाना पड़ता है. क्योंकि, अमूमन खाताधारकों को बैंक की गड़बड़ियों और आर्थिक सेहत का अंदाजा नहीं होता है. लेकिन, यस बैंक (Yes Bank) के मामले में एक नया तथ्य सामने आया है. वह यह कि बैंक में कुछ तो गड़बड़ है, इसका अंदाजा लगता है उसके ग्राहकों को पहले से ही होने लगा था. यही वजह है कि पिछले साल मार्च से सितंबर के बीच खाताधारकों ने 18,100 करोड़ रुपये की डिपॉजिट बैंक से निकाल ली थी. RBI ने बीते 6 मार्च पर रोक लगाते हुए उसके बोर्ड को भंग कर दिया. इसके साथ ही खाताधारकों पर आगामी 3 अप्रैल तक सिर्फ 50 हजार रुपये ही निकालने की मंजूरी है. हालांकि, सोमवार को यस बैंक के एडमिनिस्ट्रेटर प्रशांत कुमार ने यह भरोसा दिलाया कि इस हफ्ते निकासी लिमिट हट जाएगी.

Q2Fy20 में बैंक का डिपॉजिट घटा

यस बैंक में कुल डिपॉजिट मार्च 2019 के आखिर तक 2,27,610 करोड़ रुपये था. यह राशि चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के अंत में घटकर 2,25,902 करोड़ रुपये रह गई. वहीं, दूसरी तिमाही के अंत में यह डिपॉजिट घटकर 2,09,497 करोड़ रुपये रह गया. इस तरह, मार्च 2019 से लेकर सितंबर 2019 के बीच बैंक के डिपॉजिट में 18,110 करोड़ रुपये की गिरावट आई. यस बैंक ने अभी तीसरी तिमाही के आंकड़े नहीं जारी किये हैं. 14 अप्रैल को नतीजे आने की उम्मीद है.

YES BANK SCAM: CBI ने मुंबई में 7 जगहों पर की छापेमारी, FIR में राणा कपूर के परिवार को बनाया आरोपी

नतीजों में देरी के बाद तेजी से हुई निकासी

यस बैंक ने चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही के नतीजे जारी करने में देरी की बात कही थी. इसके बाद ग्राहकों को इस बात का अंदाजा हो गया कि बैंक में सबकुछ सही नहीं चल रहा है. दिल्ली के एक खाताधारक ने कहा कि उसे यह आभास होने लगा था कि बैंक में सब कुछ ठीक नहीं है और यही वजह है कि उसने अपना ज्यादातर पैसा बैंक से निकाल लिया. खाते में केवल मिनिमम डिपॉजिट ही रखा था. इस ग्राहक ने नाम नहीं बताने की शर्त पर कहा, ‘हम इस बारे में लगातार सुनते रहते थे कि बैंक में कुछ गड़बड़ है. इसलिए बैंक पर निकासी प्रतिबंध लगने से पहले ही हमने अपना पैसा निकाल लिया.’

डिपॉजिट इंश्योरेंस बढ़ने से ग्राहक आश्वस्त

इसी तरह, एक अन्य ग्राहक ने बताया कि उसका डिपॉजिट बहुत कम है और वह इस रकम को लेकर बहुत परेशान नहीं है. क्योंकि, बैंक डिपॉजिट इंश्योरेंस लिमिट अब 5 लाख रुपये हो गई है. यस बैंक की एक अन्य महिला खाताधारक ने कहा कि सरकार ने और रिजर्व बैंक ने काफी तेजी से कदम उठाए हैं. ऐसें में अब चिंता की कोई बात नहीं है. बता दें, इस साल बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बैंक डिपॉजिट पर इंश्योरेंस लिमिट 1 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख रुपये करने का एलान किया था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. क्या ग्राहकों को लग गया था YES BANK में है खतरा? 7 महीने में निकाल लिये थे 18,000 करोड़ से ज्यादा

Go to Top