मुख्य समाचार:

Gold Vs Stock Vs बचत खाता: गोल्ड से है गुड लक! निवेशक क्यों दनादन लगा रहे हैं पैसा

शेयर बाजार भले ही निवेश का एक बड़ा विकल्प है, लेकिन रिटेल इन्वेस्टर्स इसकी बजाए सोने में ज्यादा निवेश करते हैं.

November 15, 2019 12:13 PM
Retail investors buying gold more than equity, safe heaven, most investment instruments, Gold Vs Equity, Good Luck From Gold, gold is safer than Currencies, savings account, life insuranceशेयर बाजार भले ही निवेश का एक बड़ा विकल्प है, लेकिन रिटेल इन्वेस्टर्स इसकी बजाए सोने में ज्यादा निवेश करते हैं.

शेयर बाजार भले ही निवेश का एक बड़ा विकल्प है, लेकिन रिटेल इन्वेस्टर्स इसकी बजाए सोने में ज्यादा निवेश करते हैं. वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल (WGC) की हाल में जारी कंज्यूमर रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार मौजूदा समय में करीब 46 फीसदी रिटेल निवेशक सोने में निवेश कर रहे हैं. जबकि शेयर बाजार में करीब 30 फीसदी रिटेल निवेशकों की रूचि है. सेविंग्स स्कीम और लाइफ इंश्योरेंस ही ऐसे 2 इंस्ट्रूमेंट हैं, जहां निवेश करने वालों की संख्या सोने से ज्यादा है. रिपोर्ट में सोने में रिटेल निवेश के बारे में पूरी जानकारी दी गई है.

रिटेल निवेशकों का कहना है कि सोना न सिर्फ सुरक्षित निवेश है, बल्कि लंबी अवधि में ज्यादा रिटर्न पाने का बेहतर विकल्प है. यह सेफ है, ड्यूरेबल है और साथ ही ट्रेडिशनल भी. वह सोने को अपना पैसा सुरक्षित रखने को बेहतर विकल्प मानते हैं. यहां तक कि उनका भरोसा देश की कंरसी के मुकाबले सोने पर ज्यादा होता है. वहीं, बहुत से निवेशकों का यह भी कहना है कि सोने के साथ उनका सेंटीमेंट जुड़ा होता है.

कहां निवेशक लगा रहे हैं ज्यादा पैसे

सेविंग्स अकाउंट में 78 फीसदी
जीवन बीमा में 54 फीसदी
सोने में 46 फीसदी
इन्वेस्टमेंट फंड में 35 फीसदी
स्टॉक मार्केट में 30 फीसदी
रियल एस्टेट में 30 फीसदी
बांड एंड सिक्युरिटीज में 25 फीसदी
फॉरेन करंसी में 23 फीसदी
क्रिप्टोकरंसी में 18 फीसदी
कॉरपोरेट बांड में 15 फीसदी

समृद्धि का भी प्रतीक

सर्वे में भाग लेने वाले करीब 51 फीसदी कंज्यूमर्स का मानना है कि सोना गुड लक का प्रतीक है और इससे घर में समृद्धि आती है. वहीं, करीब 67 फीसदी का मानना है कि मुद्रास्फीति और घरेलू करंसी में उतार-चढ़ाव दोनों के खिलाफ सोना एक अच्छा हेजिंग विकल्प है.

भारत में 75 फीसदी मानते हैं सेफ

भारत की बात करें तो करीब 75 फीसदी रिटेल निवेशक मानते हैं कि सोना घरेलू करंसी के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित विकल्प है. जबकि चीन में ऐसा मानने वाले 69 फीसदी, यूएसए में 60 फीसदी और जर्मनी में 57 फीसदी हैं. ओवरआल करीब 61 फीसदी लोगों का भरोसा है कि सोना करंसी की तुलना में अच्छा निवेश विकल्प है.

56 फीसदी ने कभी न कभी जवैलरी खरीदी

ज्वैलरी की बात करें तो सर्वे से पता चलता है कि करीब 56 फीसदी कंज्यूमर्स ने सोने के आभूषण खरीदे हैं, जबकि 34 फीसदी ने प्लैटिनम आभूषण खरीदने को तरजीह दी. हालांकि रिटेल निवेश और फैशन में दिलचस्पी रखने वाले करीब एक तिहाई (38%) से अधिक लोगों ने जिदंगी में कभी सोना नहीं खरीदा है.

किन देशों में हुआ सर्वे

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल ने यह सर्वे गोल्ड के बड़े कंज्यूमर देशों चीन, भारत, यूएस, जर्मनी और कनाडा जैसे देशों में किया है. यहां से उन्होंने करीब 18000 सैंपल तैयार किए, जिसके आधार पर सर्वे पूरा किया गया.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Gold Vs Stock Vs बचत खाता: गोल्ड से है गुड लक! निवेशक क्यों दनादन लगा रहे हैं पैसा

Go to Top