सर्वाधिक पढ़ी गईं

IT सेक्टर म्यूचुअल फंड में निवेश बनेगा फायदे का सौदा? 1 साल में दे चुके हैं 45% तक रिटर्न

Tech Mutual Fund: कोरोना वायरस महामहारी के दौर में जिन 2 सेक्टर की खूब चर्चा रही, उनमें आईटी सेक्टर और हेल्थकेयर सेक्टर शामिल हैं.

October 19, 2020 5:33 PM
IT Sector Mutual FundTech Mutual Fund: कोरोना वायरस महामहारी के दौर में जिन 2 सेक्टर की खूब चर्चा रही, उनमें आईटी सेक्टर और हेल्थकेयर सेक्टर शामिल हैं.

Tech Mutual Fund: कोरोना वायरस महामहारी के दौर में जिन 2 सेक्टर की खूब चर्चा रही, उनमें आईटी सेक्टर और हेल्थकेयर सेक्टर शामिल हैं. आईटी सेक्टर से जुड़ी कंपनियों के शेयरों ने इस दौर में शानदार रिटर्न दिया, जब किसी अन्य सेक्टर में दबाव बना रहा. टीसीएस, विप्रो, एचसीएल टेक और इंफोसिस जैसे फ्रंटलाइन शेयरों ने अपना रिकॉर्ड हाई बनाया. फिलहराल इसका फायदा इक्विटी सेक्टोरल सेग्मेंट में टेक म्यूचुअल फंड का मिला है. इस सेग्मेंट के कई फंड ने जहां पिछले एक साल में 35 से 45 फीसदी रिटर्न दिया. वहीं उनके 3 और 5 साल का रिटर्न भी बेहतर हुआ. एक्सपर्ट इन पर आगे भी दांव लगाने की बात कह रहे हैं.

क्यों पसंद बना टेक सेक्टर

TCS, Infosys, HCL टेक और Wipro जैसे शेयरों में मार्च के लो से 100 फीसदी से भी ज्यादा तेजी देखने को मिली है. बीएनपी फिनकैप के डायरेक्टर एके निगम का कहना है कि अनलॉक के फेज में पिछले कई महीनों से अंडरपरफॉर्मर रहे आईटी सेक्टर में जमकर हलचल रही है. कंपनियों के आर्डरबुक में अचानक से तेजी आई है, नए क्लाइंट्स की संख्या तेजी से बए़ी है. जिसके बाद से कंपनियों ने भी खर्च बढ़ाया है. दूसरी तिमाही में इन कंपनियों की कमेंट्री से साफ है कि आगे अचछी ग्रोथ दिख रही है. इस वजह से आईटी सेक्टर पर लोगों का फोकस बढ़ा है. उन्हें लगता है कि इस सेकटर के रिवाइवल की अभी शुरूअत है, थोड़ी बहुत रुकावट के बाद आगे भी यह तेजी बरकरार रहेगी. उन्होंने बेहतर आइ्रटी म्यूचुअल फंड में कम से कम 5 साल के लिए निवेश की सलाह दी है.

म्यूचुअल फंड भी लगा रहे हैं पैसा

सितंबर महीने के आंकड़े बताते हैं कि म्यूचुअल फंड का सबसे ज्यादा फोकस आईटी शेयरों पर रहा है. सितंबर महीने में जिन 10 कंपनियों में म्यूचुअल फंड की सबसे ज्यादा वैल्यू बढ़ी है, उनमें टॉप 10 में 5 आईटी शेयर हैं. इनमें इंफोसिस, टीसीएस, HCL टेक, टेक महिंद्रा और विप्रो शामिल हैं.

HDFC बैंक: शेयर में मिल सकता है 25% तक रिटर्न, नतीजों के बाद ब्रोकरेज की बना पसंद

1 साल में बेस्ट रिटर्न देने वाले फंड

ICICI प्रू टेक्नोलॉजी फंड

1 साल का रिटर्न: 45.37%
1 साल में 1 लाचख की वेल्यू: 1.45 लाख
3 और 5 साल का रिटर्न: 27.22%, 16.05%
मिनिमम निवेश: 5,000 रुपये
मिनिमम SIP: 100 रुपये
लांच डेट: 01 जनवरी, 2013
लांच के बाद से रिटर्न: 21.66%
एसेट्स: 692 करोड़ (30 सितंबर, 2020)
एक्सपेंस रेश्यो: 1.96% (30 सितंबर, 2020)
टॉप होल्डिंग: इंफोसिस, टीसीएस, टेक महिंद्रा, एयरटेल, विप्रो

फ्रैंकलिन इंडिया टेक्नोलॉजी फंड

1 साल का रिटर्न: 44.71%
1 साल में 1 लाचख की वेल्यू: 1.45 लाख
3 और 5 साल का रिटर्न: 23.98%, 15.29%
मिनिमम निवेश: 5,000 रुपये
मिनिमम SIP: 500 रुपये
लांच डेट: 01 जनवरी, 2013
लांच के बाद से रिटर्न: 19.11%
एसेट्स: 357 करोड़ (30 सितंबर, 2020)
एक्सपेंस रेश्यो: 1.61% (30 सितंबर, 2020)
टॉप होल्डिंग: इंफोसिस, टीसीएस, एचसीएल टेक, टेक महिंद्रा

आदित्य बिरला सनलाइफ डिजिटल इंडिया फंड

1 साल का रिटर्न: 39.91%
1 साल में 1 लाख की वेल्यू: 1.40 लाख
3 और 5 साल का रिटर्न: 25.93%, 17.24%
मिनिमम निवेश: 1,000 रुपये
मिनिमम SIP: 1,000 रुपये
लांच डेट: 01 जनवरी, 2013
लांच के बाद से रिटर्न: 20.89%
एसेट्स: 611 करोड़ (30 सितंबर, 2020)
एक्सपेंस रेश्यो: 1.59% (30 सितंबर, 2020)
टॉप होल्डिंग: इंफोसिस, टेक महिंद्रा, टीसीएस, एचसीएल टेक

टाटा डिजिटल इंडिया

1 साल का रिटर्न: 39.76%
1 साल में 1 लाख की वेल्यू: 1.40 लाख
3 साल का रिटर्न: 28.68%
मिनिमम निवेश: 5,000 रुपये
मिनिमम SIP: 150 रुपये
लांच डेट: 28 दिसंबर, 2015
लांच के बाद से रिटर्न: 18.12%
एसेट्स: 540 करोड़ (30 सितंबर, 2020)
एक्सपेंस रेश्यो: 1.11% (30 सितंबर, 2020)
टॉप होल्डिंग: इंफोसिस, टीसीएस, एचसीएल टेक, विप्रो

(source: value research)

(नोट: हमने यहां जानकारी फंड के प्रदर्शन असैर एक्सपर्ट से बात चीत के आधार पर दी है. बाजार के जोखिम को देखते हुए निवेश के पहले अपने स्तर पर सलाह लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. IT सेक्टर म्यूचुअल फंड में निवेश बनेगा फायदे का सौदा? 1 साल में दे चुके हैं 45% तक रिटर्न

Go to Top