सर्वाधिक पढ़ी गईं

SIP के जरिये म्यूचुअल फंड में खूब लग रहा है पैसा, जानें क्यों मची है निवेश की होड़

बैंक में जमा पैसे पर ब्याज दर बहुत कम हो गई है. महंगाई से तुलना करें तो रिटर्न लगभग माइनस हो गया है. लिहाजा निवेशक अपने लक्ष्य और जोखिम लेने की क्षमता को देखते हुए एसआईपी के जरिये म्यूचुअल फंड में निवेश कर रहे हैं.

Updated: Aug 04, 2021 10:15 PM
म्यूचुअल फंड में SIP के जरिये निवेश काफी बढ़ रहा है.

SIP Investment in Mutual Funds : रिटेल निवेशकों की बढ़ती भागीदारी की वजह से देश के म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री में खासा ग्रोथ दिख रहा है. दरअसल इस इंडस्ट्री में निवेशक SIP के जरिये खूब निवेश कर रहे हैं, Nivesh.com के मुताबिक जून के आखिर तक SIP (Systematic Investment Plan) का एयूएम ( AUM) बढ़ कर 4.83 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया. पिछले साल की तुलना में SIP का AUM 60 फीसदी बढ़ चुका है. जून 2018 में इसका एयूएम 2.005 लाख करोड़ रुपये पर था.

जून 2020 में 9.13 लाख एसआईपी रजिस्टर्ड हुए थे, वहीं जून 2021 में यह संख्या 21.29 लाख हो गई. 2018 अप्रैल में देश में 2.16 करोड़ एसआईपी अकाउंट थे. वहीं 30 जून 2021 को 4.02 करोड़ रुपये एसआईपी अकाउंट हो गए. पिछले 25 साल में जितने एसआईपी रजिस्टर्ड हुए थे, वह संख्या 2018 से 2021 के बीच ही पार कर ली गई.

क्यों पॉपुलर हो रहे हैं एसआईपी?

Nivesh.com के मुताबिक एसआईपी के लोकप्रिय होने की कई वजह हैं. दरअसल देश में बैंक में जमा पैसे पर ब्याज दर बहुत कम हो गई है. महंगाई से तुलना करें तो रिटर्न लगभग माइनस हो गया है. ऐसे में निवेशक अपने लक्ष्य और जोखिम लेने की क्षमता को देखते हुए एसआईपी के जरिये म्यूचुअल फंड में निवेश कर रहा है. यहां इसे महंगाई की तुलना में ज्यादा रिटर्न मिल रहा है. यह इसे Rupee cost Averaging में भी मदद कर रहा है और मार्केट की वोलेटिलिटी से भी बचा रहा है. पिछले साल की तुलना में म्यूचुअल फंड की इक्विटी स्कीम में 55 फीसदी की ग्रोथ देखने को मिली है और यह बढ़ कर 11.27 लाख करोड़ रुपये की हो गई है.

How To Buy Insurance: बीमा पॉलिसी खरीदते समय अक्सर स्मार्ट लोगों से भी हो जाती है चूक, जानिए किन गलतियों से बचना है जरूरी

डेट और इंडेक्स फंड में भी बढ़ रहा है निवेश

डेट म्यूचुअल फंड स्कीम भी काफी लोकप्रिय हैं और जो निवेशक जोखिम नहीं लेना चाहते वे इसमें पैसे लगा रहे हैं. म्यूचुअल फंड एयूएम में डेट स्कीम की हिस्सेदारी 43 फीसदी है. पिछले साल की तुलना में यह 12.4 फीसदी बढ़ा है. इंडेक्स फंड और ईटीएफ की ओर से भी निवेशक आकर्षित हो रहे हैं. इंडेक्स फंड एयूएम जून, 2021 तक बढ़ कर 24,947 करोड़ रुपये का हो गया है. पिछले साल की तुलना में इसमें 123 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. SIP के जरिये म्यूचुअल फंड में खूब लग रहा है पैसा, जानें क्यों मची है निवेश की होड़

Go to Top