मुख्य समाचार:

बिगड़ा बाजार का मूड: निवेशकों के मिनटों में डूब गए 2 लाख करोड़, सेंसेक्स क्यों टूटा 650 अंक

Stock Market Crash: इस हफ्ते का अंतिम कारोबारी दिन यानी शुक्रवार शुरूआती कारोबार में निवेशकों के लिए ब्लैक फ्राइडे साबित हुआ.

September 4, 2020 11:15 AM
stock market crash, why stock market crash on 4 september 2020, global selloff, weak global market sentiments, correction in US market, pressure on asian market, investors have loose more than 2 lakh cr rs, stock market investorsStock Market Crash: इस हफ्ते का अंतिम कारोबारी दिन यानी शुक्रवार शुरूआती कारोबार में निवेशकों के लिए ब्लैक फ्राइडे साबित हुआ.

Stock Market Crash: इस हफ्ते का अंतिम कारोबारी दिन यानी शुक्रवार शुरूआती कारोबार में निवेशकों के लिए ब्लैक फ्राइडे साबित हुआ. कारोबार शुरू होते ही सेंसेक्स 650 अंक से ज्यादा टूट गया. वहीं निफ्टी भी करीब 200 अंक कमजोर हुआ है. बाजार के इतने बड़े गिरावट में बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 2 लाख करोड़ से ज्यादा घट गया. यानी कुछ मिनटों में ही निवेशकों के करीब 2 लाख करोड़ डूब गए. बाजार में बिकवाली के पीछे सबसे बड़ा कारण ग्लोबल बाजारों खासतौर से अमेरिकी बाजारों में गिरावट है.

सेंसेक्स गुरूवार को 38,990.94 के स्तर पर बंद हुआ था. वहीं, आज के कारोबार में यह 38300 के स्तर तक कमजोर हो गया. गुरूवार को बीएसई लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 1,56,86,990 करोड़ रुपये था. यह शुक्रवार को घटकर 1,54,86,000 करोड़ से कम हो गया. आज सेंसेक्स 38,325 के स्तर पर खुला, वहीं, 38,575.40 का हाई दिखा.

हैवीवेट शेयरों का बुरा हाल

आज के कारोबार में सेंसेक्स 30 के सभी शेयर कमजोर हुए. ICICI बैंक, SBI, कोटक बैंक, एक्सिस बैंक, इंडसइंड बैंक, HDFC और एचसीएल टेक में बिकवाली ने मूड और बिगाड़ा. निफ्टी पर भी सभी प्रमुख 11 इंडेक्स लाल निशान में हैं. बैंक और फाइनेंशियल इंडेक्स में 2 फीसदी से ज्यादा कमजोरी दिखी है. आटो और आईटी इंडेक्स में भी गिरावट रही.

ग्लोबल सेलआफ बनी बड़ी वजह

गुरूवार को अमेरिकी बाजारों में बड़ी कमजोरी देखने को मिली है. गुरूवार को डाउ जोंस में 807.77 अंकों यानी 2.78 फीसदी गिरावट रही और यह 28,293 के स्तर पर बंद हुआ. नैसडेक में 598.34 अंकों यानी 4.96 फीसदी गिरावट रही और यह 11,458 के स्तर पर बंद हुआ. S&P 500 इंडेक्स में 125.78 अंकों यानी 3.51 फीसदी गिरावट रही और यह 3,455 के स्तर पर बंद हुआ.

हाई पर पहुंच चुके हैं बाजार, और करेक्शन संभव

बहुत हाई पर जा चुके बाजार में मुनाफा वसूली भी हो रही है. मार्च के लो से S&P 500 में 55 फीसदी से ज्यादा और नैसडेक कंपोजिट में 70 फीसदी तक तेजी आ चुकी थी. वहीं, डाउ जोंस में भी 50 फीसदी से ज्यादा की तेजी दर्ज की गई है. इस तेजी के बाद मार्केट में करेक्शन की पहले से उम्मीद थी.

इन बातों ने भी अमेरिकी बाजारों का बिगाड़ा सेंटीमेंट

असल में कल FAANG शेयरों में तेज बिकवाली आई थी. FAANG शेयर 10 फीसदी तक गिरे थे. अमेरिका में ट्रेडर्स को रिकवरी धीमी होने का डर है. जुलाई में ट्रेड डेफिसिट भी बढ़ने की आशंका है.

एशियाई बाजारों में भी गिरावट

आज एशियाई बाजारों में भी कमजोरी देखने को मिल रही है. एसजीएक्स निफ्टी में 1.27 फीसदी और निक्केई 225 में करीब 1 फीसदी की कमजोरी देखी जा रही है. स्ट्रेट टाइम्स में भी 1.70 फीसदी की कमजोरी नजर आ रही है तो हैंगसेंग में 1.90 फीसदी की गिरावट है. ताइवान वेटेड में 0.96 फीसदी और कोस्पी में 1.75 फीसदी की कमजोरी दिख रही है. शंघाई कंपोजिट भी 1.4 फीसदी की गिरावट के साथ 3,338.18 के स्तर पर दिख रहा है.

भारत में बढ़ रहे हैं मामले

भारत में नोवल कोरोनावायरस कोविड 19 के मामले दुनियाभर में सबसे तेजी से बढ़ रहे हैं. देश में कोविड 19 के मरीजों की संख्या 39 लाख के पार चली गई है. बीते 24 घंटे में देश में कोरोना के 83,341 नए मामले सामने आए और 1,096 लोगों की मौतें हुई हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के 4 सितंबर सुबह 8:00 बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 के कुल केस 39,36,748 हो चुके हैं. कुल मामलों में से अब तक 30,37,152 मरीज ठीक/डिस्चार्ज हुए हैं. अभी भी एक्टिव केस 8,31,124 हैं. देश में कोरोना से अबतक 68,472 लोगों की जान जा चुकी है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. बिगड़ा बाजार का मूड: निवेशकों के मिनटों में डूब गए 2 लाख करोड़, सेंसेक्स क्यों टूटा 650 अंक

Go to Top