सर्वाधिक पढ़ी गईं

गोल्ड ETF पर जमकर लग रहा है दांव, 2 माह में 1055 करोड़ का हुआ निवेश; समझें इसके फायदे

what is gold etf (गोल्ड ETF): गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ETF) पिछले कुछ महीनों में सुरक्षित निवेश के रूप में निवेशकों की पसंद बन गया है.

Updated: Feb 10, 2021 11:31 AM
Gold ETFsGold ETFs: गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ETF) पिछले कुछ महीनों में सुरक्षित निवेश के रूप में निवेशकों की पसंद बन गया है.

गोल्ड ईटीएफ (Gold ETF) में निवेश कैसे करें: एक ओर जहां बाजार की रिकॉर्ड तेजी में म्यूचुअल फंड शेयर बाजार से पैसा निकाल रहे हैं, गोल्ड ईटीएफ की चमक बढ़ रही है. जनवरी 2021 में गोल्ड ईटीएफ में करीब 625 करोड़ रुपये का निवेश हुआ है. वहीं दिसंबर और जनवरी 2 महीनों में इसमें करीब 1055 करोड़ रुपये का निवेया आया है. असल में गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ETF) पिछले कुछ महीनों में सुरक्षित निवेश के रूप में निवेशकों की पसंद बन गया है. कोरोनावायरस महामारी के दौर में निवेशकों ने गोल्ड ईटीएफ को और ज्यादा तरजीह दी है. एक्सपर्ट का कहना है कि अगर गोल्ड में निवेश करना प्राथमिकता है तो यह एक अच्छा विकल्प है.

जनवरी 2021 में 625 करोड़, दिसंबर 2020 में 431 करांड़, अक्टूबर 2020 में गोल्ड ईटीएफ में 384 करोड़ का निवेश हुआ. सितंबर 2020 में 597 करोउ़, अगस्त 2020 में 908 करोड़, जुलाई 2020 में 921 करोड़, जून में 494 करोड़, मई में 815 करोड़ और अप्रैल में 731 करोड़ का निवेया आया.

क्या है Gold ETF?

पेपर गोल्ड में निवेश करने का सबसे अच्छा तरीका गोल्ड ईटीएफ खरीदना है. यह एक ओपन एंडेड म्यूचुअल फंड होता है, जो सोने की गिरते चढ़ते भावों पर आधारित होता है. ईटीएफ बहुत अधिक कॉस्ट-इफेक्टिव होता है. एक गोल्ड ईटीएफ यूनिट का मतलब है कि 1 ग्राम सोना. वह भी पूरी तरह से प्योर. यह गोल्ड में इन्वेस्टमेंट के साथ स्टॉक में इन्वेस्टमेंट की फ्लेक्सिबिलिटी देता है. गोल्ड ईटीएफ की खरीद और बिक्री शेयर की ही तरह बीएसई और एनएसई पर की जा सकती है.

Gold ETF के फायदे

शेयरों की तरह गोल्ड ईटीएफ यूनिट्स खरीद सकते हैं. फिजिकल गोल्ड के मुकाबले इस पर परचेजिंग चार्ज कम होता है. 100 फीसदी शुद्धता की गारंटी मिलती है. इसमें SIP के जरिए निवेश की सुविधा है. वहीं लंबी अवधि में अच्छा रिटर्न देने का ट्रैक रिकॉर्ड है. शेयर बाजार में निवेश के मुकाबले गोल्ड ETF में निवेश कम उतार चढ़ाव वाला होता है. इसमें हाई लिक्विडिटी होती है यानी आप जब चाहें इसे खरीद और बेच सकते हैं. गोल्ड ETF की शुरुआत आप 1 ग्राम यानि 1 गोल्ड ETF से भी कर सकते हैं. टैक्स के मामले में फिजिकल गोल्ड से सस्ता है. गोल्ड ETF पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेंस चुकाना होता है. गोल्ड ETF को लोन लेने के लिए सिक्योरिटी के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

Gold ETF में पैसा लगाने का सही मौका

मॉर्निंगस्टार इंडिया के एसोसिएट डायरेक्टर-मैनेजर रिसर्च, हिमांशु श्रीवास्तव का कहना है कि पिछले दिनों कोरोना वायरस महामारी के चलते आई आर्थिक मंदी, अमेरिका डॉलर में नरमी जैसे कई फैक्टर्स के चलते निवेशक गोल्ड ईटीएफ की ओर आकर्षित हुए. निवेशक के पोर्टफोलियों का डाइवर्सिफाई कर देता है. इक्विटी में अगर गिरावट आती है तो सोना आपके निवेश को बैलेंस करने का काम करता है.

कमोडिटी एक्सपर्ट का मानना है कि गोल्ड ईटीएफ में पैसा लगाने का यह सही समय है. सोना अपने रिकॉर्ड हाई से करीब 8000 रुपये डिस्काउंट पर ट्रेड कर रहा है. अगस्त 2020 में एमसीएक्स पर सोना 56000 प्रति 10 ग्राम के पार निकल गया था. वहीं 10 फरवरी को यह एमसीएक्स पर 48068 के करीब दिख रहा है.  सोने में उपरी स्तरों से अच्छा खासा करेक्शन आ चुका है. दूसरी ओर शेयर बाजार अपने रिकॉर्ड वैल्युएशन पर है. दुनियाभर के केंद्रीय बैंकों की ब्याज दर नीचे है. दुनियाभर के बाजार गिरावट से उबर चुके हैं, लेकिन अनिश्चितता खत्म नहीं हुई है. इस वजह से आगे निवेशक सुरक्षित निवेश के रूप में फिर सोने में पैसा लगाएंगे.

Gold ETF में कैसे करें निवेश?

गोल्ड ETF को डीमैट अकाउंट के जरिए ऑनलाइन खरीद सकते हैं. निवेश के लिए कम से कम एक यूनिट खरीदना जरूरी है. हर यूनिट 1 ग्राम की होती है. गोल्ड ईटीएफ की खरीददारी शेयरों की ही तरह होती है. मौजूदा ट्रेडिंग खाते से ही गोल्ड ईटीएफ खरीद सकते हैं. गोल्ड ईटीएफ की यूनिट डीमैट खाते में जमा होती है. ट्रेडिंग खाते के जरिए ही गोल्ड ईटीएफ को बेचा जाता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. गोल्ड ETF पर जमकर लग रहा है दांव, 2 माह में 1055 करोड़ का हुआ निवेश; समझें इसके फायदे

Go to Top