सर्वाधिक पढ़ी गईं

Burger King Stock Strategy: लिस्टिंग के बाद बर्गर किंग को होल्ड करें या प्रॉफिट बुक, जानिए एक्सपर्ट्स की राय

इस वर्ष 2020 में बर्गर किंग का 810 करोड़ का आईपीओ देश का दूसरा सबसे अधिक सब्सक्राइब्ड आईपीओ बन चुका है.

December 5, 2020 5:39 PM
burger king indiaBurger King India stock fell to hit the 10 per cent lower circuit at Rs 179.35 apiece today afternoon, after rising in the morning to hit the upper circuit.

Burger King Stock Strategy:  इस वर्ष 2020 में बर्गर किंग का 810 करोड़ का आईपीओ देश का दूसरा सबसे अधिक सब्सक्राइब्ड आईपीओ बन चुका है. इसका आईपीओ 59-60 प्राइस रेंज में 2 दिसंबर को खुला था और 4 दिसंबर को बंद होने तक 156.65 गुना सब्सक्राइब हो चुका था. इस आईपीओ के 1167 करोड़ इक्विटी शेयरों के लिए बोली मिली है जबकि इशू साइज 7.44 करोड़ इक्विटी शेयरों का था. इस तगड़े रिस्पांस के कारण एनालिस्ट्स का मानना है कि यह गेन्स के साथ एक्सचेंज पर लिस्टेड होगा. उनका सुझाव है कि मिड से लेकर लांग टर्म में बेहतर रिटर्न पाने के लिए इस स्टॉक को अपने पोर्टफोलियो में जोड़ना चाहिए.
बोनांजा पोर्टफोलियो लिमिटेड के हेड ऑफ रिसर्च विशाल वाघ के मुताबिक यह स्टॉक 30 फीसदी या इससे भी अधिक प्रीमियम प्राइस पर लिस्टेड हो सकता है.

यह भी पढ़ें- 

इस साल दूसरा सबसे अधिक सब्सक्राइब्ड आईपीओ

वाघ का कहना है कि बर्गर किंग का जिस तरह के सेग्मेंट में कारोबार कर रहा है, उसके प्रसार की गति है और बाजार में उसे लेकर सकारात्मक माहौल के कारण उसे रिकॉर्ड सब्सक्रिप्शन मिला. इस वर्ष में सबसे अधिक सब्सक्रिप्शन मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स को मिला था. मझगांव शिपबिल्डर्स के 444 करोड़ के आईपीओ को 157.41 गुना सब्सक्रिप्शन मिला था. इस साल तीसरे नंबर पर सबसे अधिक सब्सक्रिप्शन हैपिएस्ट माइंड्स टेक्नोलॉजीज को मिला था. इसे 150.98 गुना सब्सक्रिप्शन मिला था. बर्गर किंग इस साल का चौदहवां आईपीओ है.
स्वतंत्र विश्लेषक और टिप्सटूट्रेड के संस्थापक अभिजीत रामचंद्रन के मुताबिक लाइफस्टाइल में बदलाव, शहरीकरण और खर्च करने की बढ़ता क्षमता के कारण क्यूएसआर (क्विक सर्विस रेस्टोरेंट) सेग्मेंट में तेजी देखने को मिल रहा है. इसके अलावा बर्गर किंग अपने ब्रांड नेम की वजह से भी बहुत प्रसिद्ध है. इस वजह से इसका आईपीओ बहुत अधिक सब्सक्राइब हुआ.

20 फीसदी प्रॉफिट बुक करने की सलाह

रामचंद्रन का कहना है कि पिछले कुछ वर्षों से भारत में फूड बिजनेस तेजी से बढ़ रहा है. उनका सुझाव है कि अगर लिस्टिंग के दिन 20 फीसदी तक प्रॉफिट मिलता है तो इसे बुक कर लेना चाहिए. इसके अलावा जो निवेशक अभी निवेश का मौका नहीं पाए हैं, उन्हें इसे अपने पोर्टफोलियो में जोड़ने के लिए अभी कुछ समय इंतजार करना चाहिए. रामचंद्रन के मुताबिक इसके भाव में गिरावट आ सकती है क्योंकि इस स्टॉक की ओवरबॉट (अधिक खरीद) हुई है.

ग्रे मार्केट में 66.6% प्रीमियम पर हो रहा ट्रेड

ग्रे मार्केट की बात करें तो बर्गर किंग इंडिया के शेयर 60 रुपये के इशू प्राइस से 40 रुपये प्रीमियम पर ट्रेड हो रहे थे. 100 रुपये के ट्रेडिंग प्राइस का मतलब हुआ कि यह 66.6 फीसदी प्रीमियम पर ट्रेड हो रहा था. शेयर एलाटमेंट 9 दिसंबर को होगा और लिस्टिंग 14 दिसंबर को होने का अनुमान है. बर्गर किंग इंडिया के आईपीओ का रजिस्ट्रार लिंक इनटाइम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड है जो एलोकेशन और रिफंड का मैनेजमेंट करेगी.

(Article: Surabhi Jain)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Burger King Stock Strategy: लिस्टिंग के बाद बर्गर किंग को होल्ड करें या प्रॉफिट बुक, जानिए एक्सपर्ट्स की राय

Go to Top