मुख्य समाचार:

Mutual Funds में निवेश का सही अवसर! निवेश के लिए ऐसे बनाएं स्ट्रैटेजी

बाजार में उतार चढ़ाव के दौर में जानकार एसआईपी के जरिए सुरक्षित म्यूचुअल फंड स्कीम चुनने की सलाह दे रहे हैं. उनका कहना है कि ये शेयर में निवेश का सुरक्षित विकल्प देते हैं. लंबी अवधि में अच्छा रिटर्न पा सकते हैं.

September 15, 2018 10:56 AM
mutual fund, MF, SIP, invest, return, म्यूचुअल फंड, safe funds, लंबी अवधि में अच्छा रिटर्नबाजार में उतार चढ़ाव के दौर में जानकार एसआईपी के जरिए सुरक्षित म्यूचुअल फंड स्कीम चुनने की सलाह दे रहे हैं. उनका कहना है कि ये शेयर में निवेश का सुरक्षित विकल्प देते हैं. लंबी अवधि में अच्छा रिटर्न पा सकते हैं.(Reuters)

पिछले कुछ दिनों से रुपये में कमजोरी है. महंगे क्रूड और ट्रेड वार को लेकर भी बाजार में घबराहट दिखी है. आगे भी बाजार पर दबाव दिख सकता है. ऐसे में जानकार निवेश के लिए एसआईपी के जरिए सुरक्षित म्यूचुअल फंड स्कीम चुनने की सलाह दे रहे हैं. उनका कहना है कि ये शेयर में निवेश का सुरक्षित विकल्प देते हैं. ऐसे में जोखिम कम रहता है, वहीं लंबी अवधि में निवेशक अच्छा रिटर्न पा सकते हैं.

लंबी अवधि के लिए बेहतर विकल्प

फाइनेंशियल एडवाइजर फर्म बीपीएन फिनकैप के डायरेक्‍टर एके निगम के अनुसार एसआईपी मार्केट बढ़ रहा है. इसकी एक वजह है कि मार्केट में उतार चढ़ाव होने की वजह से एसआईपी के जरिए निवेश बढ़ता जा रहा है. उनका कहना है कि अब निवेशक पहले से ज्यादा मेच्योर हुए हैं और लंबी अवधि के नजरिए से बाजार में आना चाहते हैं. ऐसे में एसआईपी उनके लिए बेहतर विकल्प बन रहा है.

एसेट क्लास से ज्यादा रिटर्न

निगम के अनुसार म्यूचुअल फंड में निवेश बढ़ने की एक और वजह है कि निवेशकों की दिलचस्पी प्रॉपर्टी और गोल्ड जैसे एसेट क्लास में कम हुई है. इनमें पिछले दिनों ज्यादा रिटर्न नहीं मिला है. उन्हें इन एसेट क्लास की जगह म्यूचुअल फंड में ज्यादा रिटर्न मिलने की उम्मीद रहती है.

शेयर बाजार में बढ़ी चिंता

बजाज कैपिटल के सीर्इओ राहुल पारिख के अनुसार क्रूड की बढ़ती कीमतों और रुपये की गिरावट से शेयर बाजार में निवेशकों में चिंता बढ़ी है. यही वजह है कि निवेशक एसआईपी के जरिए म्यूचुअल फंड स्कीम का चुनाव कर रहे हैं. असल में ये शेयरों में निवेश करने का सुरक्षित विकल्प माना जाता है. उनका कहना है कि एसआईपी के जरिए निवेशक थोड़ी-थोड़ी रकम रेग्युलर निवेश कर सकते हैं.

निवेशकों के लिए बेहतर विकल्प

1. अगर पहली बार म्यूचुअल फंड में निवेश करने जा रहे हैं तो हाइब्रिड इक्विटी फंड बेहतर विकल्प है. इसके अलावा ऐसे निवेशक इक्विटी डाइवर्सिफाइड कटेगिरी में निवेश कर सकते हैं.

2. वहीं, अगर एग्रेसिव इन्वेंस्टर्स हैं और रिस्क ले सकते हैं तो मिडकैप और स्मालकैप फंड बेहतर विकल्प हैं.

3. इसके अलावा जानकार लंबी अवधि के लिए लॉर्जकैप म्यूचुअल फंड चुनने की सलाह दे रहे हैं. उनका कहना है कि इनमें स्थिरता ज्यादा होती है, ऐसे में उतार चढ़ाव पर जोखिम कम होता है. जो निवेशक ज्यादा जोखिम नहीं चाहते हैं, उनके लिए यह बेहतर कटेगिरी है.

नोट: हालांकि किसी भी फंड में निवेश करने से पहले उसका र्टैक रिकॉर्ड जरूर देख लें और सही स्कीम का चुनाव करें.

इस वक्त 2.38 करोड़ SIP अकाउंट

इस वक्त म्यूचुअल फंड में 2.38 करोड़ SIP अकाउंट हैं, जिनके जरिए इन्वेस्टर्स रेगुलरली इंडियन म्यूचुअल फंड स्कीम्स में इन्वेस्ट करते हैं. मौजूदा वित्त वर्ष में हर माह औसतन 10 लाख SIP अकाउंट खुले हैं. इनका एवरेज टिकट साइट 3,200 रुपये है.

SIP के जरिए 7600 करोड़ मंथली निवेश

अगस्त में म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री के पास SIP के जरिए 7600 करोड़ रुपये से ज्यादा का इन्वेस्टमेंट आया. यह आंकड़ा एक साल पहले की समान अवधि में आए इन्वेस्टमेंट की तुलना में 47 फीसदी ज्यादा है. जुलाई 2018 में इस रूट से 7554 करोड़ रुपये का फंड आया था.
अगस्त 2017 में इंडस्ट्री में SIP रूट से 5206 करोड़ रुपये का इन्वेस्टमेंट आया. अगस्त 2016 में यह इन्वेस्टमेंट 3496 करोड़ रुपये का था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Mutual Funds में निवेश का सही अवसर! निवेश के लिए ऐसे बनाएं स्ट्रैटेजी

Go to Top