मुख्य समाचार:

रिस्क फ्री रिटर्न! यहां 1 दिन में पैसा हो जाएगा मेच्योर, ओवरनाइट फंड में कैसे होती है ट्रेडिंग

कम लेकिन सुरक्षित रिटर्न वाली कटेगिरी डेट म्यूचुअल फंड को लेकर इन दिनों निवेशकों का भरोसा बढ़ा है.

Published: June 27, 2020 8:19 AM
what is overnight fund, how to trade in overnight mutual fund, risk free return in mutual fund, one day maturity period in debt best overnight fund, best debt fund for short time, ओवरनाइट फंड, म्यूचुअल फंड, डेट फंड, टॉप म्यूचुूअल फंडकम लेकिन सुरक्षित रिटर्न वाली कटेगिरी डेट म्यूचुअल फंड को लेकर इन दिनों निवेशकों का भरोसा बढ़ा है.

Overnight Fund: कम लेकिन सुरक्षित रिटर्न वाली कटेगिरी डेट म्यूचुअल फंड को लेकर इन दिनों निवेशकों का भरोसा बढ़ा है. बाजार में जिस तरह की अनिश्चितता है, एक्सपर्ट भी डेट फंडों में निवेश की सलाह दे रहे हैं. डेट फंडों में शॉर्ट ड्यूरेशन और ओवरनाइट फंडों पर एक्सपर्ट जोर दे रहे हैं. यहां बेहद कम समय में आपका पैसा मेच्योर हो जाता है और बाजार के उतार चढ़ाव के जोखिम से निवेशकों को आमतौर पर सुरक्षा मिलती है. हम यहां ओवरनाइट फंड के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जहां एक रात में पैसा मेच्योर होता है और रिस्क भी बहुत कम है.

डेट म्यूचुअल फंड कैटेगरी में ओवरनाइट फंडों को सबसे सुरक्षित कहा जाता है. कारण है कि इनमें निवेश का नजरिया बहुत छोटा होता है. इन स्कीमों पर ब्याज दरों में बदलाव और किसी प्रतिभूति के डिफॉल्ट का फर्क नहीं पड़ता है.

क्या होते हैं ओवरनाइट फंड

म्यूचुअल फंड की कई कैटेगरी हैं. ओवरनाइट फंड उनमें से एक है. ये ओपन-एंडेड डेट स्कीमें हैं. ये फंड एक दिन में मैच्योर होने वाली प्रतिभूतियों में पैसा लगाते हैं. इसका मतलब है कि इन स्कीमों में फंड मैनेजर रोजाना आधार पर प्रतिभूतियों को खरीदते हैं. ये प्रतिभूतियां एक दिन में मैच्योर हो जाती हैं. फिर स्कीम के फंड को दोबारा नई प्रतिभूतियों को खरीदने में लगाया जाता है. निवेश के इस तरह के दिशानिर्देश इन्हें काफी लिक्विड बना देते हैं. सेबी ने सभी तरह के म्यूचुअल फंडों के लिए निवेश के दिशानिर्देश तय कर रखे हैं.

कैसे होती है इनमें ट्रेडिंग

यह एक डेट फंड फंड है जो एक दिन में मेच्योर होने वाले बॉन्ड में निवेश करता है. हर कारोबारी दिन की शुरुआत में बॉन्ड खरीदे जाते हैं जो अगले कारोबारी दिन मेच्योर होते हैं. फंड मैनेजर कैश लेकर और अधिक बॉन्ड खरीदते हैं. अगर कोई बॉन्ड एक कारोबारी दिन में मेच्योर होता है तो अगले दिन आरबीआई द्वारा किए गए बदलाव का उस पर असर नहीं होता है. इस दौरान बॉन्ड जारी करने वाले की क्रेडिट रेटिंग बदलती है तो भी कीमत प्रभावित नहीं होती है.

1 साल के टॉप परफॉर्मर

DSP ओवरनाइट फंड: 4.7 फीसदी
सुदंरम ओवरनाइट फंड: 4.7 फीसदी
बड़ौदा ओवरनाइट फंड: 4.6 फीसदी
निप्पॉन इंडिया ओवरनाइट फंड: 4.6 फीसदी
UTI ओवरनाइट फंड: 4.6 फीसदी

क्यों कम होता है जोखिम

स्कीम के तहत 100 फीसदी रकम कोलैटरलाइज्ड बॉरोइंग और लेंडिंग ऑब्लिगेशन (CBLO) मार्केट में निवेश किया जाता है, जिससे रिस्क बहुत कम हो जाता है. CBLO इंस्टूमेंट में मेच्योरिटी 1 दिन की हो सकती है. इससे लिक्विडिटी की समस्या भी नहीं है. हालांकि 1 दिन मेच्योरिटी होने से इनमें रिटर्न बेहद कम है, लेकिन बेहद ही सुरक्षित.

किनके लिए बेस्ट विकल्प

ये स्कीम उन निवेशकों के लिए हैं जो छोटी अवधि के लिए रकम लगाना चाहते हैं. कपनियां इस तरह की स्कीमों में करोड़ों रुपये लगाती हैं. कारण है कि बड़ी रकम के साथ थोड़ा भी उतार-चढ़ाव काफी असर डालता है. हालांकि, खुदरा निवेशकों के लिए ओवरनाइट फंडों में अतिरिक्त रिटर्न कमा पाना मुश्किल होता है.

ओवरनाइट लोन क्यों

सरकार या बड़े निगमों को एक दिन के लिए अतिरिक्त कैश की जरूरत होती है, इसलिए वे उधर लेते हैं. अगले दिन अगर उनके पास अतिरिक्त कैश हो जाता है तो वे अन्य कंपनियों को उधार देते हैं, नहीं तो फिर से ओवरनाइट फंड के जरिए उधर लेते हैं.

 

(डिस्क्लेमर: फाइनेंशियल एक्सप्रेस डिजिटल हिंदी किसी भी तरह के निवेश की सलाह नहीं देता है. निवेश करने से पहले स्वयं पड़ताल करें या अपने वित्तीय सलाहकार से परामर्श करें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. रिस्क फ्री रिटर्न! यहां 1 दिन में पैसा हो जाएगा मेच्योर, ओवरनाइट फंड में कैसे होती है ट्रेडिंग

Go to Top