मुख्य समाचार:

भूल जाइए FD-RD, कम जोखिम में मिलेगा दोगुना रिटर्न; इंडेक्स फंड में लंबी अवधि के लिए लगाएं पैसा

इंडेक्स फंड को इंडेक्स टाइड या इंडेक्स ट्रैक्ड म्यूचुअल फंड के नाम से भी जानते हैं.

Published: June 19, 2020 8:37 AM
Index Fund, Index Fund Vs Fd, Index Fund Vs RD, what is Index Mutual Fund, is index funds are better than bank FD or RD, risk free and stable return, best mutual fundइंडेक्स फंड को इंडेक्स टाइड या इंडेक्स ट्रैक्ड म्यूचुअल फंड के नाम से भी जानते हैं.

इंडेक्स फंड को इंडेक्स टाइड या इंडेक्स ट्रैक्ड म्यूचुअल फंड के नाम से भी जानते हैं. इस तरह के फंड शेयर बाजार के किसी इंडेक्स मसलन निफ्टी 50 या सेंसेक्स 30 में शामिल कंपनियों के शेयरों में निवेश करते हैं. इंडेक्स में सभी कंपनियों का जितना वेटेज होता है, स्कीम में उसी रेश्यो में उनके शेयर खरीदे जाते हैं. इसका मतलब यह है कि ऐसे फंडों का प्रदर्शन उस इंडेक्स जैसा ही होता है. यानी इंडेक्स का प्रदर्शन बेहतर होता है तो उस फंड में भी बेहतर रिटर्न की गुंजाइश होती है. वैसे भी पिछले 5 साल, 7 साल या 10 साल के रिटर्न पर नजर डालें तो निवेशकों को लंबी अवधि में एफडी या आरडी जैसे सुरक्षित स्कीम से 1.5 से 2 गुना तक फायदा मिला है.

इंडेक्स में जितनी तेजी आएगी, आमतौर पर इन फंडों को भी ग्रोथ का फायदा मिलता है. कोरोना संकट के चलते बाजार में पिछले दिनों अच्छी खासी गिरावट आ चुकी है. हालांकि अब कोविड 19 बाजार के लिए धीरे धीरे डिस्काउंट होगा. कोरोना इश्यू खत्म होने के बाद बाजार फिर स्पीड पकड़ेगा. रैली आने पर सेंसेक्स और निफ्टी दोनों इंडेक्स भी मजबूत होंगे. इसका फायदा इंडेक्स फंड को मिलेगा. दूसरा फायदा यह है कि ज्यादातर इंडेक्स बेस्ड ETF का एक्सपेंस रेश्यो भी कम होता है. यानी इनमें निवेश करना सस्ता होता है.

UTI निफ्टी इंडेक्स फंड

लांच डेट: 06 मार्च, 2000
लांच के बाद से रिटर्न: 9.65%

एसेट्स: 2,147 करोड़ रु (31 मई, 2020)
एक्सप्रेस रेश्यो: 0.17% (30 अप्रैल, 2019)

5 साल का रिटर्न: 4.97%
7 साल का रिटर्न: 8.56%
10 साल का रिटर्न: 7.02%

SBI ETF सेंसेक्स फंड

लांच डेट: 08 मार्च, 2013
लांच के बाद से रिटर्न: 9.79%

एसेट्स: 23,313 करोड़ रु (31 मई, 2020)
एक्सप्रेस रेश्यो: 0.07% (30 सितंबर, 2019)

5 साल का रिटर्न: 5.75%
7 साल का रिटर्न: 9.54%

Kotak सेंसेक्स ETF फंड

लांच डेट: 06 जून, 2008
लांच के बाद से रिटर्न: 7.83%

एसेट्स: 12 करोड़ रु (31 मई, 2020)
एक्सप्रेस रेश्यो: 0.28% (30 अप्रैल, 2020)

5 साल का रिटर्न: 5.54%
7 साल का रिटर्न: 9.23%
10 साल का रिटर्न: 7.72%

निप्पॉन इंडिया ETF निफ्टी 100

लांच डेट: 22 मार्च, 2013
लांच के बाद से रिटर्न: 9.05%

एसेट्स: 6 करोड़ रु (31 मई, 2020)
एक्सप्रेस रेश्यो: 0.97% (31 मई, 2020)

5 साल का रिटर्न: 4.53%
7 साल का रिटर्न: 8.67%

HDFC सेंसेक्स इंडेक्स फंड

लांच डेट: 17 जुलाई, 2002
लांच के बाद से रिटर्न: 13.21%

एसेट्स: 1,212 करोड़ रु (31 मई, 2020)
एक्सप्रेस रेश्यो: 0.30% (31 मई, 2020)

5 साल का रिटर्न: 5.37%
7 साल का रिटर्न: 9.04%
10 साल का रिटर्न: 7.31%

लागत कम, फायदे कई

BPN फिनकैप कंसल्टेंट प्राइवेट लिमिटेड के डायरेक्‍टर एके निगम का कहना है कि इंडेक्स फंड का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि इनका एक्सपेंस रेश्यो कम होता है. ये पैसिवली मैनेज होते हैं, इसलिए सक्रिय रूप से प्रबंधित किए जाने वाले फंडों के मुकाबले इंडेक्स फंड पर कम खर्च आता है. इनका टोटल एक्सपेंस रेश्यो बहुत कम आता है.

इंडेक्स फंड का फायदा यह है कि इससे निवेशकों को अपना पोर्टफोलियो डाइवर्सिफाई करने का मौका मिल जाता है. इंडेक्स फंडों में ट्रैकिंग एरर कम होता है. इससे इंडेक्स को इमेज करने की एक्यूरेसी बढ़ जाती है. इस तरह रिटर्न का ज्यादा सटीक अनुमान लगाया जा सकता है.

इंडेक्स फंड ऐसे निवेशकों के लिए बेहतर है जो रिस्क कैलकुलेट कर चलना चाहते हैं, भले ही उन्हेें ठीक ठा​क रिटर्न मिले. यानी इंडेक्स फंड में पैसा डूबने का खतरा बहुत कम होता है.

(Disclaimer: हमने यहां सिर्फ इंडेक्स फंड के बारे में जानकारी दी है. यह निवेश की सलाह नहीं है. निवेश से पहले अपने स्तर पर सलाह जरूर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. भूल जाइए FD-RD, कम जोखिम में मिलेगा दोगुना रिटर्न; इंडेक्स फंड में लंबी अवधि के लिए लगाएं पैसा

Go to Top