मुख्य समाचार:

क्या होता है फंड ऑफ फंड? मिराए एसेट ने लांच की नई स्कीम, किसे करना चाहिए निवेश

Fund of Funds: मिराए एसेट इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स इंडिया ने 8 सितंबर को मिराए एसेट इक्विटी एलोकेटर फंड ऑफ फंड शुरू करने की घोषणा की है.

Updated: Sep 08, 2020 1:41 PM
mutual fund scheme, what is fund of funds, Mirae Asset Equity Allocator Fund of Fund, risk management, who should invest in fund of funds scheme, diversify your portfolio, mutual fund portfolio, fund of funds is better fir small investorsFund of Funds: मिराए एसेट इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स इंडिया ने 8 सितंबर को मिराए एसेट इक्विटी एलोकेटर फंड ऑफ फंड शुरू करने की घोषणा की है.

Fund of Funds: मिराए एसेट इन्वेस्टमेंट मैनेजर्स इंडिया ने 8 सितंबर को मिराए एसेट इक्विटी एलोकेटर फंड ऑफ फंड शुरू करने की घोषणा की है. यह घरेलू इक्विटी एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स की इकाइयों में मुख्य रूप से निवेश करने वाली एक ओपन एंडेड योजना है. एनएफओ सब्सक्रिप्शन के लिए सदस्यता के लिए 8 सितंबर, 2020 को खुलेगा और 15 सितंबर, 2020 को बंद होगा. निवेशक बिना डीमैट अकाउंट के भी इस फंड ऑफ फंड में निवेश कर सकते हैं. आपको भी जानना चाहिए कि क्या होते हैं फंड ऑफ फंड और किन निवेशकों के लिए यह बेहतर है.

क्या हैं ‘फंड ऑफ फंड्स’?

फंड ऑफ फंड्स (FoF) म्यूचुअल फंड की ऐसी स्कीमें है जो दूसरी स्कीमों में निवेश करती हैं. इस तरह किसी एसेट क्लास में सीधे निवेश करने की जगह फंड मैनेजर उस स्कीम में पैसा लगाते हैं जिसका पहले से ही इसमें निवेश है. इसे ऐसे समझ सकते हैं कि अगर फंड मैनेजर सोने में निवेश करना चाहता है तो वह सोने में निवेश करने वाली गोल्ड स्कीम में पैसा लगाएगा.
इसका मतलब यह है कि फंड ऑफ फंड्स में कंपनी के शेयर या बॉन्ड नहीं होते हैं. बजाय इसके फंड ऑफ फंड्स अन्य स्कीमों की यूनिट होल्ड करते हैं. एक फंड ऑफ फंड्स अपने फंड हाउस या अन्य फंड हाउस की कई स्कीमों में निवेश कर सकता है.

किसे करना चाहिए निवेश

ऐसे निवेशक जो जोखिम घटाने के ल‍िए अपने पोर्टफोल‍ियो को डायवर्स‍िफाई करना चाहते हैं, वे इनमें पैसा लगा सकते हैं. ये उनके लिए बेहतर है जो बिना किसी तरह का रिस्क लिए बाजार से स्थिर रिटर्न चाहते हैं.

लाभ

छोटे निवेशकों के लिए इसका सबसे बड़ा लाभ लाभ है कि वे कम रकम के साथ अपना पोर्टफोलियो डाइवर्सिफाई कर सकते हैं. इसमें पोर्टफोलियो को ट्रैक करने में आसानी होती है. निवेया अलग अलग हेज फंडों में किया जाता है, जिससे निवेया पर ज्यादा रिटर्न की संभावना बढ़ जाती है.

मिराए एसेट इक्विटी एलोकेटर फंड ऑफ फंड के बारे में

फंड को निफ्टी 200 इंडेक्स (टीआरआई) के साथ बेंचमार्क किया जाएगा.
यह फंड भारती सावंत द्वारा मैनेज होगा.
निवेशक बिना डीमैट अकाउंट के भी इस फंड ऑफ फंड में निवेश कर सकते हैं.
लार्ज-कैप और मिड-कैप के लिए कम लागत का एक्सपोजर पाने का लक्ष्य
निवेशक डीमैटै अकाउंट खोले बिना एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) से ऋण जोखिम प्राप्त कर सकते हैं.
फंड ऑफ फंड में निवेश करते समय निवेशक इक्विटी टैक्सेशन का लाभ उठा सकते हैं.
निवेशक कम लागत वाले ईटीएफ में निवेश करने के लिए म्यूचुअल फंड (एमएफ) संरचना का उपयोग करके लाभ उठा सकते हैं.
निवेशक इसमें एसआईपी के माध्यम से निवेश कर सकते हैं.
जब बाजार की गतिशीलता में परिवर्तन होता है तो अलोकेशन को बैलेंस करता है.

मिराए एसेट इंवेस्टमेंट मैनेजर्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ स्वरूप मोहंती ने कहा कि जबतक कोविड-19 के मामले इस तरह से आते रहेंगे, बाजार में उतार-चढ़ाव मौजूद रहने की संभावना है. इस स्थिति में इक्विटी में अलोकेशन, विभिन्न श्रेणियों में डाइवर्सिफिकेशन और मार्केट कैप अलोकेशन को बनाए रखने के लिए पोर्टफोलियो को लगातार रीबैलेंस करना निवेशकों के लिए चुनौती बन जाता है. ऐसे में इक्विटी एलोकेटर फंड ऑफ फंड निवेशकों की इस चिंता को दूर करने में मददगार हो सकता है.

कितना कर सकते हैं निवेश

योजना में न्यूनतम प्रारंभिक निवेश 5000 रुपए होगा. उसके बाद 1 रुपए के मल्टीपल में किया जाएगा. निवेश का लक्ष्य कम लागत वाले ईटीएफ और लंबी अवधि के पूंजीगत लाभ/आय के साथ मध्यम उच्च जोखिम के साथ मार्केट रिटर्न प्राप्त करना है. मिराए एसेट इक्विटी एलोकेटर फंड ऑफ फंड रेगुलर प्लान और डायरेक्ट प्लान के साथ ग्रोथ ऑप्शन और डिविडेंड ऑप्शन (पे-आउट एंड रि-इन्वेस्टमेंट) की पेशकश करेगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. क्या होता है फंड ऑफ फंड? मिराए एसेट ने लांच की नई स्कीम, किसे करना चाहिए निवेश

Go to Top