मुख्य समाचार:

वारेन बफे ने आखिरकार खरीदे Amazon के शेयर, इस निवेश में देरी पर क्या बोले?

वारेन बफे की कंपनी बर्कशायर हैथवे ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स की कंपनी अमेजन के शेयर खरीदे हैं. बफे अब इस बात के लिए पछता रहे हैं कि उन्होंने अमेजन के शेयर पहले क्यों नहीं खरीदे.

May 3, 2019 6:19 PM
Warren Buffet, Bitcoin, Berkshire Hathaway, Berkshire Hathaway inc, Kraft Heinz Co, US Securities and Exchange Commission, market news, एपल, माइक्रोसॉफ्ट, वारेन बफे, जेफ बेजॉस, बिल गेट्स, AMAZON STOCK, WARREN BUFFET INVEST IN AMAZON, Jeff Bezos, बफे और बेजॉस की मुलाकात करीब 20 साल से पहले हुई थी.

दुनिया के सबसे बेहतरीन निवेशक माने जाने वाले वारेन बफे (Warren Buffett ) की कंपनी बर्कशायर हैथवे ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स की कंपनी अमेजन (Amazon) के शेयर खरीदे हैं. बफे अब इस बात के लिए पछता रहे हैं कि उन्होंने अमेजन के शेयर पहले क्यों नहीं खरीदे. उन्होंने सीएनबीसी को दिए गए साक्षात्कार में कहा कि अमेजन के शेयर पहले नहीं खरीदने का फैसला उनकी मूर्खता थी. हालांकि, उनका यह भी कहना है कि यह उनकी गलती नहीं थी.

इस ‘गलती’ की उन्होंने याहू फाइनेंस के सामने व्याख्या करते हुए कहा कि जो चीजें उनकी ‘सर्कल ऑफ कंपीटेंस’ यानी क्षमता से बाहर की होती है, उससे चूकने पर उन्हें कोई चिंता नहीं होती. Warren Buffett के मुताबिक अगर इस सर्कल के भीतर की कोई चीज चूक जाती है तो यह बहुत बड़ी गलती होती है.

बेजॉस और गेट्स के बाद बफे दुनिया के तीसरे सबसे अमीर

10.6 लाख करोड़ रुपये की नेटवर्थ के साथ अमेजन के संस्थापक जेफ बेजॉस इस समय दुनिया के सबसे अमीर शख्स हैं. बेजॉस के बाद माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स दूसरे सबसे अमीर हैं जिन्होंने अभी हाल ही में 10 हजार करोड़ डॉलर के नेटवर्थ का आंकड़ा पार किया है. इन दोनों के बाद फोर्ब्स के मुताबिक दुनिया के सबसे अमीर शख्स वारेन बफे हैं.

20 साल Warren Buffett की बेजॉस से हुई थी मुलाकात

याहू फाइनेंस से बातचीत में बफे ने बताया कि उनकी और बेजॉस की मुलाकात 20 साल से पहले हुई थी और तब उन्हें बेजॉस खास तो लगे थे लेकिन यह अंदाजा नहीं था कि किताब बेचने वाली कंपनी अमेजन इतना आगे निकल जाएगी. 64.8 लाख करोड़ की बाजार पूंजी के साथ अमेजन इस समय दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी कंपनी है. बाजार पूंजी के मामले में माइक्रोसॉफ्ट दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी है. माइक्रोसॉफ्ट की बाजार पूंजी 67 लाख करोड़ रुपये हैं.

Apple में दूसरा सबसे बड़ा निवेशक बर्कशायर हैथवे

माइक्रोसॉफ्ट के बाद 66.7 लाख करोड़ रुपये की बाजार पूंजी के साथ एप्पल दूसरी सबसे बड़ी कंपनी है. बर्कशेयर हैथवे के पास एप्पल के इस समय 25 करोड़ शेयर हैं और यह एप्पल की दूसरी सबसे बड़ी निवेशक है. एप्पल की दूसरी सबसे बड़ी निवेशक होने के बावजूद दिलचस्प यह है कि बफे आइफोन का प्रयोग नहीं करते हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. वारेन बफे ने आखिरकार खरीदे Amazon के शेयर, इस निवेश में देरी पर क्या बोले?

Go to Top