मुख्य समाचार:

फ्लिपकार्ट सौदे में वॉलमार्ट ने भरा 7,439 करोड़ का टैक्स, 34 शेयरहोल्डर्स के पेमेंट पर अभी भी बाकी

यह टैक्स अभी फ्लिपकार्ट के केवल 10 प्रमुख शेयरहोल्डर्स को किए गए पेमेंट पर दिया गया है.

September 16, 2018 3:51 PM
Walmart paid Rs 7,439 cr tax on Flipkart deal​वॉलमार्ट ने फ्लिपकार्ट को 1600 करोड़ डॉलर (1 लाख करोड़ रु. से ज्यादा) में खरीदा है. (PTI)

फ्लिपकार्ट में हिस्सेदारी खरीदने के मामले में अमेरिकी कंपनी वॉलमार्ट ने 7,439 करोड़ रुपये का टैक्स दिया है. हालांकि यह टैक्स अभी फ्लिपकार्ट के केवल 10 प्रमुख शेयरहोल्डर्स को किए गए पेमेंट पर दिया गया है. बाकी के 34 शेयरहोल्डर्स को किए गए भुगतान पर वॉलमार्ट को अभी भी टैक्स देना है. यह जानकारी कर अधिकारियों से मिली है.

बता दें कि ​वॉलमार्ट ने फ्लिपकार्ट को 1600 करोड़ डॉलर (1 लाख करोड़ रु. से ज्यादा) में खरीदा है. किसी भी डील में पैसे लेने वाले के बजाय पैसे देने वाले को विदहोल्डिंग या रिटेंशन टैक्स सरकार को देना होता है. यह एक तरह का इनकम टैक्स होता है. वॉलमार्ट-फ्लिपकार्ट डील में विदहोल्डिंग टैक्स ​फ्लिपकार्ट शेयरहोल्डर्स द्वारा अर्जित कैपिटल गेन से संबंधित है.

फ्लिपकार्ट में थे कुल 44 शेयरहोल्डर्स

फ्लिपकार्ट में कुल 44 शेयरहोल्डर्स थे, जिनमें सॉफ्टबैंक, नैसपर्स, वेंचर फंड एक्सेल पार्टनर्स और ईबे का नाम प्रमुख था. इन सभी ने अपनी हिस्सेदारी वॉलमार्ट को बेची है. वॉलमार्ट द्वारा भारतीय अथॉरिटीज को टैक्स का भुगतान किए जाने की आखिरी तारीख 7 सितंबर थी. वॉलमार्ट ने इस दिन फ्लिपकार्ट के 10 शेयरहोल्डर्स को किए गए भुगतान पर 7,439 करोड़ रुपये का टैक्स जमा किया. टैक्स डिपार्टमेंट के एक अधिकारी के मुताबिक, हमने वॉलमार्ट से शेयहोल्डर्स से टैक्स काटने या न काटने को लेकर विस्तृत जवाब मांगा है.

नियमों को लेते हैं गंभीरता से: वॉलमार्ट

वॉलमार्ट के प्रवक्ता के मुताबिक, हम कानूनी नियमों को गंभीरता से लेते हैं और इसमें हमारे आॅपरेशंस वाली जगहों की सरकारों को टैक्स दिया जाना भी शामिल है. फ्लिपकार्ट डील में हमने भारतीय टैक्स अथॉरिटीज के दिशा—निर्देश में टैक्स ​विदहोल्डिंग शर्तों को पूरा किया है. आगे भी हम उनके सवालों का जवाब देते रहेंगे.

5% से कम हिस्सेदारी वाले विदेशी शेयरहोल्डर्स को किए गए पेमेंट पर नहीं देना होगा टैक्स
फ्लिपकार्ट शेयरहोल्डर्स की तीन कैटेगरी हैं- 5 फीसदी से ज्यादा हिस्सेदारी वाले विदेशी इन्वेस्टर्स, 5 फीसदी से कम वाले विदेशी इन्वेस्टर्स और भारतीय इन्वेस्टर्स. इनकम टैक्स नियमों के मुताबिक, वॉलमार्ट को 5 फीसदी से कम हिस्सेदारी वाले विदेशी शेयरहोल्डर्स को किए गए पेमेंट पर टैक्स देने की जरूरत नहीं है.

कुछ शेयरहोल्डर्स ने की थी छूट की मांग

पिछले माह फ्लिपकार्ट के कुछ शेयरहोल्डर्स ने टैक्स डिपार्टमेंट से टैक्स में छूट की मांग की थी. उनकी याचिका पर डिपार्टमेंट विचार कर रहा है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. फ्लिपकार्ट सौदे में वॉलमार्ट ने भरा 7,439 करोड़ का टैक्स, 34 शेयरहोल्डर्स के पेमेंट पर अभी भी बाकी

Go to Top