सर्वाधिक पढ़ी गईं

Vijaya Diagnostics में पैसे लगाने का मौका कल खुलेगा, ग्रे मार्केट में कमजोर पड़े शेयर, निवेश को लेकर जानिए एक्सपर्ट की राय

Vijaya Diagnostics IPO: विजया डायग्नोस्टिक्स के 1894 करोड़ रुपये के आईपीओ के तहत नए शेयर नहीं जारी किए जाएंगे

Updated: Aug 31, 2021 4:17 PM
Vijaya Diagnostics IPO opens tomorrow grey market premium weak should you subscribeआईपीओ खुलने से पहले कंपनी के शेयर ग्रे मार्केट में 30 रुपये प्रति शेयर के प्रीमियम पर ट्रेड हो रहे हैं.

Vijaya Diagnostics IPO: कल 1 सितंबर को एमी ऑर्गेनिक्स के साथ विजया डायग्नोस्टिक्स का आईपीओ भी सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगा. 1894 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के तहत नए शेयर नहीं जारी किए जाएंगे और 3.56 करोड़ शेयर ऑफर फॉर सेल (ओएफएस) के तहत इश्यू किए जाएंगे. आईपीओ खुलने से पहले कंपनी के शेयर ग्रे मार्केट में 30 रुपये प्रति शेयर के प्रीमियम पर ट्रेड हो रहे हैं. जानकारी के मुताबिक ओएफएस के तहत डॉ एस सुरेंद्रनाथ रेड्डी 50.98 लाख शेयर, कराकोरम लिमिटेड 2.94 करोड़ इक्विटी शेयर और केदारा कैपिटल अल्टरनेटिव इंवेस्टमेंट फंड-केदारा कैपिटल एआईएफ1 11.02 लाख शेयर की अधिकतम बिक्री करेंगे. 1.5 लाख इक्विटी शेयर कर्मियों के लिए आरक्षित है.

Ami Organics IPO: एमी ऑर्गेनिक्स का आईपीओ कल खुलेगा; कंपनी में निवेश करें या नहीं, जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट

इश्यू से जुड़ी डिटेल्स

  • 1895.04 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के तहत 1 रुपये की फेस वैल्यू वाले शेयरों के लिए प्राइस बैंड 522-531 रुपये प्रति शेयर का रखा गया है. कंपनी के कर्मियों को 52 रुपये प्रति शेयर का डिस्काउंट मिलेगा.
  • इश्यू के लिए लॉट साइज 28 शेयरों का रखा गया है यानी कि निवेशकों को प्राइस बैंड के अपर प्राइस के हिसाब से कम से कम 14868 रुपये का निवेश करना होगा.
  • इस आईपीओ के शेयरों का अलॉटमेंट 8 सितंबर को फाइनल हो सकता है और इसके शेयर 14 सितंबर को मार्केट में लिस्ट हो सकते हैं.
  • आईपीओ का करीब 50 फीसदी हिस्सा क्यूआईबी (क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बॉयर्स), 15 फीसदी हिस्सा नॉन-इंस्टीट्यूशनल इंवेस्टर्स और 35 फीसदी हिस्सा निवेशकों के लिए आरक्षित है.

Supreme Court Decision: सुपरटेक के दो टॉवरों को गिराने का सुप्रीम आदेश, तीन महीने के अंदर पूरी करनी है कार्रवाई

आईपीओ सब्सक्राइब को लेकर एक्सपर्ट की ये है राय

  • ऑपरेटिंग रेवेन्यू के मुताबिक विजया डायग्नोस्टिक सेंटर दक्षिण भारत में सबसे बड़ा इंटीग्रेटेड डायग्नोस्टिक चेन है और क्रिसिल की रिपोर्ट के अनुसार यह वित्त वर्ष 2019-20 के रेवेन्यू के आधार पर सबसे तेज बढ़ने वाला डायग्नोस्टिक चेन है.
  • मारवाड़ी शेयर्स एंड फाइनेंस लिमिटेड के एनालिस्ट्स के मुताबिक वित्त वर्ष 2021 के ईपीएस (प्रति शेयर आय) 8.26 रुपये को आधार मानें तो कंपनी 54144 करोड़ रुपये की बाजार पूंजी के साथ 64.26 की पी/ई पर लिस्ट हो सकती है जबकि पियर्स डॉ लाल पैथोलैब्स पी/ई 80.66 और मेट्रोपॉलिस हेल्थकेयर 56.55 की पी/ई पर ट्रेड हो रहा है. एनालिस्ट्स के मुताबिक भारतीय डायग्नोस्टिक्स इंडस्ट्री में ग्रोथ में कंपनी मजबूत स्थिति दिख रही है जिसके चलते ब्रोकरेज फर्म ने इसे सब्सक्राइब की रेटिंग दी है.
  • वहीं दूसरी तरफ एंजेल ब्रोकिंग के इक्विटी रिसर्च एनालिस्ट यश गुप्ता का मानना है कि इस आईपीओ का प्राइस हाल ही में लिस्टेड डायग्नोस्टिकत कंपनियों के ऊपरी स्तर पर है. गुप्ता के मुताबिक आईपीओ की प्राइस वित्त वर्ष 2021 में कंपनी की आय (प्राइस टू अर्निंग) के मुकाबले 64 गुना है. इसके चलते एंजेल ब्रोकिंग इस इश्यू को लेकर न्यूट्रल है.
  • कोटक सिक्योरिटीज ने कंपनी में स्किल्ड वर्कफोर्स की कमी, टेक्निकल एडवांसमेंट की ऊंची लागत, कड़ी प्रतिस्पर्धा और दक्षिण भारत में ही मौजूदगी के चलते इसमें निवेश को लेकर रिस्क है. ब्रोकरेज फर्म ने इस इश्यू को कोई रेटिंग नहीं दी है.
    (आर्टिकल: क्षितिज भार्गव)
    (स्टोरी में दिए गए स्टॉक रिकमंडेशन संबंधित रिसर्च एनालिस्ट व ब्रोकरेज फर्म के हैं. फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन इनकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेता. पूंजी बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन हैं. निवेश से पहले अपने सलाहकार से जरूर परामर्श कर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Vijaya Diagnostics में पैसे लगाने का मौका कल खुलेगा, ग्रे मार्केट में कमजोर पड़े शेयर, निवेश को लेकर जानिए एक्सपर्ट की राय
Tags:IPO

Go to Top