सर्वाधिक पढ़ी गईं

UTI स्मालकैप फंड: इस नई स्कीम में 5000 रु लगाकर कमा सकते हैं ऊंचा रिटर्न, समझें खासियत

UTI Small Cap Fund: यूटीआई म्‍यूचुअल फंड ने नई स्‍कीम लॉन्‍च की है. इसका नाम यूटीआई स्‍मॉलकैप फंड है.

Updated: Dec 03, 2020 8:59 AM
UTI Mutual Fund Small Cap SchemeUTI Small Cap Fund: यूटीआई म्‍यूचुअल फंड ने नई स्‍कीम लॉन्‍च की है. इसका नाम यूटीआई स्‍मॉलकैप फंड है.

UTI Small Cap Fund: यूटीआई म्‍यूचुअल फंड ने नई स्‍कीम लॉन्‍च की है. इसका नाम यूटीआई स्‍मॉलकैप फंड है. यह ओपन एंडेड इक्विटी स्‍कीम है. यानी इसमें किसी तरह की लॉक-इन अवधि नहीं है. मुख्‍य रूप से यह स्‍कीम स्‍मॉलकैप शेयरों में निवेश करेगी. स्‍कीम का न्‍यू फंड ऑफर (एनएफओ) 2 दिसंबर से निवेश के लिए खुल गया है. इसमें 16 दिसंबर तक निवेश किया जा सकता है. 23 दिसंबर से दोबारा स्‍कीम लगातार सब्‍सक्रिप्‍शन और रिडेम्‍पशन के लिए खुल जाएगी. इस स्‍कीम के फंड मैनेजर अंकित अग्रवाल होंगे. इस फंड का बेंचमार्क इंडेक्स Nifty Small Cap 250 TRI है.

कौन कर सकता है निवेश

इस स्कीम में कोई भी भारतीय नागरिक, एनआरआई, इंस्टीट्यूशंस, बैंक, एलिजिबल ट्रस्ट, फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस, फॉरेन पोर्टफोलियो इन्वेस्टर्स (FPI) निवेश कर सकते हैं. एनएफओ पीरियड के दौरान स्कीम की यूनिट्स 10 रुपये प्रति यूनिट के फेस वैल्यू पर मिलेगी. यह प्रोडक्ट उनके लिए बेहतर विकल्प है जो लंबी अवधि के लिए निवेश करना चाहते हैं. यह फंड स्मालकैप कंपनियों की इक्विटी और इक्व्टिी रिलेटेड इंस्ट्रूमेंट में निवेश करेगा.

कम से कम कितना निवेश

इस स्कीम में निवेशकों को कम से कम 5000 रुपये निवेश करना होगा. इसके बाद 1 रुपये के गुणक में कितना भी निवेश किया जा सकता है. एडिशनल परचेज अमाउंट 1000 रुपये होगा और इसके बाद 1 रुपये गुणक में कितना भी निवेश किया जा सकता है. इसके लिए कोई लिमिट नहीं तय की गई है. बता दें कि एनएफओ किसी एसेट मैनेजमेंट कंपनी की नई स्कीम होती है. इसके जरिए कोई म्यूचुअल फंड कंपनी शेयरों, सरकारी बॉन्ड जैसे इंस्ट्रूमेंट में निवेश करने के लिए निवेशकों से पैसे जुटाती है.

2 तरह के प्लान

स्कीम में 2 तरह के यानी रेगुलर और डायरेक्ट प्लान हैं. दोनों ही प्लान में ग्रोथ और डिविडेंड पेमेंट विकल्प होगा. इस स्कीम में SIP के अलावा माइक्रो SIP, एनी डे SIP और स्टेप अप फैसिलिटी भी है. इसके अलावा SWP, डिविडेंड ट्रांसफर प्लान (DTP) और सिस्टमैटिक ट्रांसफर इन्वेस्टमेंट प्लान (STRIP) भी निवेश के विकल्प हैं.

क्यों बेहतर है ये स्कीम

यूटीआई स्‍मॉलकैप फंड का उद्देश्य लंबी अवधि में निवेशकों की दौलत में इजाफा करना है. यह स्‍कीम मुख्‍य रूप से स्‍मॉलकैप कंपनियों के इक्विटी और इक्विटी से जुड़ी प्रतिभूतियों में निवेश करेगी. अंकित अग्रवाल ने कहा कि छोटे उद्योग भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था की बैक बोन हैं. इनकी मौजूदगी तकरीबन हर सेक्टर में है. मैन्‍यूफैक्‍चरिंग, रिटेलिंग, सर्विसेज, कंस्‍ट्रक्‍शन जैसे सेक्टर इनमें शामिल हैं. हाल में छोटे उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं. लंबी अवधि में अर्थव्‍यवस्‍था को रफ्तार देने में छोटी कंपनियों की हिस्‍सेदारी बढ़ेगी.

यूटीआई स्‍मॉलकैप फंड उन स्‍मॉलकैप कंपनियों में निवेश करेगा जिनका मजबूत बिजनेस मॉडल है. इसमें यह भी देखा जाएगा कि इनका प्रबंधन किस तरह के हाथों में है. इन कंपनियों में कितना रिटर्न देने की क्षमता है. उन्‍होंने कहा कि फंड हाउस के पास 360 डिग्री रिस्‍क असेसमेंट फ्रेमवर्क है. इससे जोखिम कम करने में मदद मिलेगी. यह सुनिश्चित करेगा कि पैसा ग्रोथ की संभावनाओं वाली स्‍मॉलकैप कंपनियों में ही लगे.

(* यह निवेश की सलाह नहीं है. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले अपने स्तर पर एक्सपर्ट की सलाह लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. UTI स्मालकैप फंड: इस नई स्कीम में 5000 रु लगाकर कमा सकते हैं ऊंचा रिटर्न, समझें खासियत

Go to Top