सर्वाधिक पढ़ी गईं

UTI AMC Vs मझगांव डॉक Vs लिखिता इंफ्रा; आपको कहां लगाना चाहिए दांव? आज गुलजार रहेगा IPO बाजार

IPO Market: आज से आईपीओ बाजार फिर गुलजार रहेगा. आज यानी 29 नवंबर को 3 कंपनियां अपना आईपीओ लेकर आ रही हैं.

September 29, 2020 8:34 AM
Having said that, though, there appears to be some reasonably strong support (technically) at 74.50, and then 75.The CPI-IW is primarily used to regulate the dearness allowance of government employees and the workers in the industrial sectors.

IPO Market: आज से आईपीओ बाजार फिर गुलजार रहेगा. आज यानी 29 नवंबर को 3 कंपनियां अपना आईपीओ लेकर आ रही हैं. इनमें यूटीआई एसेट मैनेजमेंट कंपनी (एएमसी), मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स और लिखिता इंफ्रास्ट्रक्चर के आईपीओ शामिल हैं. तीनों ही इश्यू में 29 सितंबर से 1 अक्टूबर के बीच निवेश किया जा सकता है. अगर आप भी आईपीओ मार्केट का फायदा उठाना चाहते हैं तो निवेश के पहले हर डिटेल जरूर जानना चाहिए.

पिछले दिनों हैप्पिएस्ट माइंड्स, रूट मोबाइल की जबरदस्त लिस्टिंग और कैम्स, केमकॉन व एंजेल ब्रोकिंग के हाई सब्सक्रिप्शन से ग्रे मार्केट में भी हलचल रही है. शेयर बाजारों में लिस्टिंग से पहले ग्रे मार्केट में भी इन शेयरों के भाव से महत्वपूर्ण संकेत मिल रहे हैं. ग्रे मार्केट डीलर्स के अनुसार, आने वाले इश्यू के बारे में मिजी-जुली प्रतिक्रिया मिल रही है.

UTI AMC

निप्पॉन लाइफ इंडिया एसेट मैनेजमेंट और एचडीएफसी एएमसी के बाद यूटीआई एएमसी शेयर बाजारों में लिस्ट होने वाली तीसरी एएमसी होगी. कंपनी ने इश्यू के लिए 552-554 रुपये का प्राइस बैंड रखा है. कंपनी इस इश्यू में 3,89,87,081 शेयर ऑफर फॉर सेल के तहत पेश करने वाली है. इस प्राइस बैंड पर आईपीओ से 2,152-2,160 इसमें 27 शेयरों का एक लॉट होगा. इसके बाद इसी गुणक में निवेश किया जा सकता है.

इस इश्यू में भारतीय जीवन बीमा निगम, भारतीय स्टेट बैंक, और बैंक ऑफ बड़ौदा में से प्रत्येक 1.04 करोड़ शेयर बेचने वाले हैं. पंजाब नेशनल बैंक और टी रो अपनी हिस्सेदारी के 38.03 लाख शेयर बेचेंगे. इश्यू का प्रबंधन एक्सिस कैपिटल, सिटी, बैंक ऑफ अमेरिका सिक्योरिटीज, आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज, जेएम फाइनेंशियल, कोटक इंवेस्टमेंट बैंकिंग और एसबीआई कैपिटल मार्केट्स करने वाले हैं.

क्या करना चाहिए निवेश

ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल के अनुसार UTI AMC का वैल्युएशन आकर्षक है. प्राइस बैंड 552-554 रुपये पर यूटीआई एएमसी अपनी पिश्यर कंपनियों की तुलना में डिस्काउंट पर दिख रहा है. निवेशक इस पर दांव लगा सकते हैं. रिपोर्ट के अनुसार कंपनी का कारोबार म्यूचुअल फंड से जुड़ा है. ऐसे में इनफ्लो पर किसी एडवर्स इंपैक्ट से ओवरआल रेवेन्यू पर असर हो सकता है.

सैमको सिक्योरिटीज की सीनियर एनालिस्ट निराली शाह का कहना है कि यूटीआई एएमसी सेफ बेट दिख रहा है. कंपनी अपने क्षेत्र में डोमिनेंट पोजिशन पर हैं. वैल्युएशन के लिहाज से प्राइस बैंड आकर्षक दिख रहा है. कंपनी का कारोबार अच्छा है और कैश की कमी नहीं है. कंपनी में आगे अच्छी ग्रोथ दिख रही है.

मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स

सार्वजनिक क्षेत्र की रक्षा कंपनी मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स का आईपीओ भी आज खुल रहा है. जिसमें 1 अक्टूबर तक निवेश किया जा सकता है. कंपनी ने आईपीओ के लिए मूल्य दायरा 135-145 प्रति शेयर तय किया है. आईपीओ के तहत 3,05,99,017 शेयरों की बिक्री पेशकश (ओएफएस) की जाएगी. मूल्य दायरे के ऊपरी स्तर पर आईपीओ से 444 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य है. कंपनी के शेयरों को बीएसई और एनएसई में लिस्ट कराया जाएगा. यस सिक्योरिटीज, एक्सिस कैपिटल, एडलवाइज फाइनेंशियल, आईडीएफसी सेक्योरिटीज और जेएम फाइनेंशियल आईपीओ का प्रबंधन करेंगी.

क्या करना चाहिए निवेश

सैमको सिक्योरिटीज की सीनियर एनालिस्ट निराली शाह का कहना है कि रूट मोबाइल के सफलता पूर्वक लिस्टिंग और कैम्स व केमकॉन के बंपर सब्सक्रिप्सन के बाद आईपीओ मार्केट का सेंटीमेंट बेहतर हुआ है. मजगांव डॉक की बात करें तो यह अपने क्षेत्र में डोमिनेंट पोजिशन पर हैं. वैल्युएशन के लिहाज से अंडरवैल्यूड हैं. कंपनी का कारोबार अच्छा है और इसमें अच्छी ग्रोथ दिख रही है. हालांकि इसमें कुछ रिस्क भी हैं. कंपनी को आगे कैसे आर्डर मिलते हैं और वह इन्हें कैसे पूरा करती है, इससे ग्रोथ तय होगी. वहीं इंडियन डिफेंस बजट से कंपनी की फंडिंग तय होती है, ऐसे में फंडिंग में डिले होने का डर होता है. निवेश के लिहाज से देखें तो मझगांव में लिस्टिंग गेन के लिए पैसा लगाया जा सकता है.

लिखिता इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड

हैदराबाद की तेल एवं गैस पाइपलाइन इंफ्रास्ट्रक्चर सेवा प्रदाता कंपनी लिखिता इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड का आईपीओ भी 29 सितंबर को खुलेगा. इसमें भी 1 अक्टूबर तक निवेश किया जा सकता है. कंपनी का लक्ष्य इस आईपीओ के जरिए 61.20 करोड़ रुपये जुटाना है. यूनिस्टोन कैपिटल प्राइवेट लिमिटेड इस इश्यू की बुक रनिंग लीड मैनेजर है.

प्राइस बैंड

आईपीओ के लिए प्रति शेयर प्राइस बैंड 117 से 120 रुपये तय किया गया है. इस आईपीओ में 51,00,000 तक इक्विटी शेयरों का ताजा इश्यू होगा, जो इश्यू के बाद शेयरहोल्डिंग का 25.86 फीसदी है.

कंपनी का क्या है कारोबार

श्रीनिवास राव गड्डीपति ने इस कंपनी की स्थापना की थी और उनकी बेटी लिखिता गड्डीपति इसमें को-प्रमोटर हैं. कंपनी को पाइपलाइन नेटवर्क बिछाने और उनसे संबंधित सुविधाओं के निर्माण तथा भारत की अग्रणी सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन कंपनियों को ऑपरेशन और मेन्टिनेंस सेवाएं देने का दो दशक से ज्यादा अनुभव है. कंपनी की परियोजनाओं का विस्तार भारत के 16 राज्यों व 2 केंद्र शासित प्रदेशों में है. 31 जुलाई 2020 तक कंपनी का ऑर्डर बुक 663 करोड़ रुपये का था. वित्त वर्ष 2019-20 में कंपनी का मुनाफा 19.87 करोड़ रुपये रहा था

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. UTI AMC Vs मझगांव डॉक Vs लिखिता इंफ्रा; आपको कहां लगाना चाहिए दांव? आज गुलजार रहेगा IPO बाजार
Tags:IPO

Go to Top