मुख्य समाचार:

Route Mobile IPO: रूट मोबाइल का आईपीओ 28 गुना सब्सक्राइब, निवेश के लिए बचे हैं आखिरी कुछ मिनट

IPO Market: लंबे समय से सूखे के बाद प्राइमरी मार्केट में हलचल बढ़ने लगी है. इसी क्रम में आज यानी 9 सितंबर को रूट मोबाइल का आईपीओ खुल रहा है.

Updated: Sep 11, 2020 2:24 PM
Route Mobile, Route Mobile IPO open, communication business, route mobile IPO business, IPO market, should you subscribe route mobile IPOIPO Market: लंबे समय से सूखे के बाद प्राइमरी मार्केट में हलचल बढ़ने लगी है. इसी क्रम में आज यानी 9 सितंबर को रूट मोबाइल का आईपीओ खुल रहा है.

IPO Market: रूट मोबाइल के आईपीओ को भी निवेशकों का शानदार रिस्पांस मिला है. आज यानी 11 सितंबर को अबतक यह आईपीओ 30 गुना सब्सक्राइब हो चुका है. आईपीओ को 1.21 करोड़ इक्विटी शेयर के आफर साइज की तुलना में 34 करोड़ इक्विटी शेयरों के लिए बिड हासिल हुई है. रिटेल निवेशकों का रिस्पांस बेहतर दिख रहा है. रिटेल इन्वेस्टर्स के पोर्सन को अबतक 10.33 गुना सब्सक्रिप्सन मिला है. क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स का हिस्सा अबतक 16.9 गुना और नॉन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स का हिस्सा 83.7 गुना सब्सक्राइब हुआ है.

बता दें कि रूट मोबाइल आईपीओ के जरिए बाजार से 600 करोड़ रुपये जुटाएगी. जिसमें प्रमोटर्स 360 करोड़ रुपये के अपने शेयर बेचने वाले हैं. कंपनी 240 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी करेगी. यह इश्यू 9 सितंबर को खुला था और आज यानी 11 सितंबर को बंद हो रहा है. बता दें कि सितंबर महीने में हैप्पिएस्ट माइंड्स का आईपीओ खुला था, जिसे निवेशकों का शानदार रिस्पांस मिला था.

प्राइस बैंड

आईपीओ के लिए कंपनी ने प्राइस बैंड तय कर दिया है, जो 345-350 रुपये प्रति शेयर होगा. जबकि 40 शेयरों का लॉट साइज होगा. यानी कम से कम 40 शेयर के लिए आवेदन करने होंगे. कंपनी ने बताया कि आईपीओ 9 सितंबर से खुलेगा और 11 सितंबर को बंद हो जाएगा.
इस इश्यू के बाद कंपनी में प्रमोटर्स की हिस्सेदारी 96 फीसदी से घटकर 66 फीसदी रह जाएगी. कंपनी इस इश्यू से होने वाली आय का इस्तेमाल कर्ज घटाने, ऑफिस खरीदने और रणनीतिक अधिग्रहण के लिए करेगी.

जानें कंपनी के बारे में

कंपनी की शुरूआत साल 2004 में हुई थी. कंपनी मुख्य रूप से ओटीटी और मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर (एमएनओ) के लिए ओम्नीचैनल क्लाउड कम्युनिकेशन सर्विस का काम करती है. कंपनी के पास दुनिया के सबसे बड़े सोशल मीडिया कंपनियों, बैंकिंग और फायनेंशियल सर्विसेज, एविएशन, रिटेल, ई-कॉमर्स, लॉजिस्टिक, हेल्थ, हॉस्पिटैलिटी और टेलीकॉम सेक्टर सहित अन्य का बड़ा कस्टमर बेस है.

कंपनी का वित्तीय प्रदर्शन

30 जून को समाप्त तिमाही में कंपनी का रेवेन्यू 309.6 करोड़ रहा, जबकि वित्त वर्ष 2019-20 के लिए यह आंकड़ा 956.2 करोड़ रुपए था. वित्त वर्ष 2017-18 से 2019-20 के दौरान कंपनी का रेवेन्यू 37.6 फीसदी की ग्रोथ के साथ 956.3 करोड़ रुपये तक पहुंच गया. कंपनी का नेट प्रॉफिट 21.6 फीसदी की दर से बढ़कर 69.1 रुपये तक पहुंच गया.

क्या लगाना चाहिए दांव?

सैमको सिक्योरिटीज के सीनिसर रिसर्च एनालिस्ट निराली शाह का कहना है कि रूट मोबाइल का पिछले 2 साल से ग्रोथ बेहद अच्छी रही है. प्रॉफिट और रेवेन्यू दोनों में शानदार ग्रोथ देखने को मिली. लेकिन कुछ फैक्टर हैं जो कंपनी के लांग टर्म ग्रोथ को प्रभावित कर सकते हैं. इसका कोर बिजनेस कम्यूनिकेशन बेस्ड है. इसलिए इस सेक्टर में कंपनी को दूसरी बड़ी कंपनियों से कठिन प्रतियोगिता मिलने वाली है. कंपनी के बुक्स पर अभी लायबिलिटीज बहुत ज्यादा हैं जो बैलेंसशीट की करीब 55 फीसदी है. इससे वर्किंग कैपिटल स्ट्रेस का सामना करना पड़ सकता है. वैल्युएशन भी कुछ ज्यादा दिख रहा है. ऐसे में लांग टर्म इन्वेस्टर्स को अभी निवेया से बचना चाहिए. यह आईपीओ उन निवेशकों के लिए ठीक है, जिनकी जोखिम क्षमता अधिक है .

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Route Mobile IPO: रूट मोबाइल का आईपीओ 28 गुना सब्सक्राइब, निवेश के लिए बचे हैं आखिरी कुछ मिनट

Go to Top