सर्वाधिक पढ़ी गईं

Union Budget 2021: बजट में रोजगार देने सेक्टर्स पर रहेगा फोकस! इन 14 लॉर्जकैप और मिडकैप पर रखें नजर

Union Budget 2021 India: यूनियन बजट 2021 देश में इकोनॉमिक रिफॉर्म के लिए एक बड़ा प्लेटफॉर्म बन सकता है.

Updated: Jan 20, 2021 1:02 PM
Budget 2021-22, Union Budget 2021Union Budget 2021 India: यूनियन बजट 2021 देश में इकोनॉमिक रिफॉर्म के लिए एक बड़ा प्लेटफॉर्म बन सकता है.

Indian Union Budget 2021-22: यूनियन बजट 2021 देश में इकोनॉमिक रिफॉर्म के लिए एक बड़ा प्लेटफॉर्म बन सकता है. 1 फरवरी को बजट ऐसे समय में पेश होने जा रहा है, जब कोरोना वायरस महामारी के चलते देश की अर्थव्यवस्था को ऐतिहासिक गिरावट का सामना करना पड़ा है. कई सेक्टर अभी भी कोरोना वायरस महामारी की मार झेल रहे हैं. ऐसे में बजट में सरकार का फोकस अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए किए जाने वाले उपायों पर रहेगा. ब्रोकरेज हाउस शेयरखान का मानना है कि इसमें इंफ्रास्ट्रक्चर और एमएसएमई सेक्टर बड़ा रोल प्ले कर सकते हैं. बजट में सरकार का इन दो सेक्टर पर खास फोकस रहने वाला है, जिससे इनसे जुड़े अन्य सेक्टर की कंपनियों को भी फायदा होगा. ब्रोकरेज हाउस ने बजट के पहले अपनी पसंद के 14 शेयरों की लिस्ट भी जारी की है.

इन सेक्टर पर रहेगा फोकस

ब्रोकरेज हाउस के अनुसार अर्थव्यसवस्था में जो रिकवरी शुरू हुई है, उसमें मोमेंटम बना रहे, इस पर सरकार का जोर होगा. इसके लिए सरकार बजट में इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट मसलन रोड, अफोर्डेबल हाउसिंग जैसे उपायों पर खर्च ज्यारदा कर सकती है. प्रॉडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव (PLI) योजना को लेकर भी कुछ और एलान हो सकते हैं. इससे भी घरेलू विनिर्माण को बढ़ावा मिलेगा. साथ ही घरेलू इकाइयों में निर्मित उत्पादों से बढ़ती बिक्री पर कंपनियों को प्रोत्साहन भी मिलेगा.

इसके अलावा अर्थव्यवस्था को मजबूती से सपोर्ट करने वाली एमएसएमई सेक्टर के लिए भी कुछ एलान हो सकते हैं. एमएसएमई सेक्टर को सरकार बडा सपोर्ट दे सकती है. रेलवे, कंस्ट्रक्शन, रीयल एस्टेटट भी फोकस में रहने वाले हैं.

रोजगार देने वाले सेक्टर्स पर जोर

कोरोना महामारी के पेन को कम करने के लिए बजट में सरकार ऐसे सेक्टर्स में निवेश पर फोकस कर सकती है, जिनसे ज्यादा रोजगार आता है. दनमें टेक्सिटाइल, कंस्ट्रक्शजन, एमएसएमई और अफोर्डेबल हाउसिंग शामिल हैं. इसके अलावा हेल्थ केयर के लिए एक अलग पैकेज की जरूरत है.

ये रिफॉर्म कैपिटल मार्केट को देंगे बूस्ट

ब्रोकरेज हाउस के अनुसार कुछ रिफॉर्म कैपिटल मार्केट को बूस्ट दे सकते हैं. इनमें लेबर लॉ और जूडिशियल रिफॉर्म हैं. इसके अलावा सरकार को अगले कई साल के लिए एक ऐसा रोडमैप बजट में बताना चाहिए, जिससे इकोनॉमी को सपोर्ट मिलता रहे. जीडीपी को बूस्ट देने के लिए ऐसी कुछ पॉलिसी सामने आनी चाहिए. एक क्लीयर रोडमैप कैपिटल मार्केट को बूस्ट दे सकता है.

टॉप स्टॉक

लॉर्जकैप: L&T, हीरो माटोकॉर्प, अल्ट्रािटेक सीमेंट, अशोक लेलैंड, M&M, HPCL, IGL, SBI
मिडकैप: BEL, कोरोमंडल इंटरनेशनल, KEC इंटरनेशनल, KNR कंस्ट्रकक्शकन, सेंचुरी प्लाईबोर्ड, कॉरबोरंडम यूनिवर्सल

(नोट: शेयर के बारे में जानकारी हमने ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर दी है; बाजार के जोखिम को देखते हुए निवेश के पहले एक्‍सपर्ट की राय लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Union Budget 2021: बजट में रोजगार देने सेक्टर्स पर रहेगा फोकस! इन 14 लॉर्जकैप और मिडकैप पर रखें नजर

Go to Top