scorecardresearch

सीमेंट स्टॉक्स का वैल्युएशन हुआ सस्ता! Birla Corp, Ultratech, Shree Cement दे सकते हैं 31% तक रिटर्न

नियर टर्म में भी बढ़ रही लागत, सीजनली कमजोर डिमांड और कमजोर रीयलाइजेशन के चलते सीमेंट कंपनियों की मार्जिन पर दबाव जारी रहने का अनुमान है.

बीते 6 महीनों के दौरान सीमेंट स्टॉक्स में 25 से 40 फीसदी गिरावट आई है. (File)

Cement Stocks: सीमेंट सेक्टर पर पिछले कुछ महीनों से दबाव देखने को मिला है. बीते 6 महीनों के दौरान सीमेंट स्टॉक्स में 25 से 40 फीसदी गिरावट आई है. नियर टर्म में भी बढ़ रही लागत, सीजनली कमजोर डिमांड और कमजोर रीयलाइजेशन के चलते सीमेंट कंपनियों की मार्जिन पर दबाव जारी रहने का अनुमान है. ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल का कहना है कि अच्छे खासे करेक्शन के बाद सीमेंट सेक्टर का वैल्युएशन बेहतर हुआ है और अनिश्चितता में भी निवेश के अच्छे मौके बने हैं. हालांकि कवरेज कंपनियों के टारगेट प्राइस में 5-20 फीसदी की कटौती की है.

सप्लाई एक्सपेंशन बढ़ने की उम्मीद

ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल का कहना है कि सेक्टर में सप्लाई एक्सपेंशन पिछले स्तरों से अधिक होने की उम्मीद है. हालाकि, वित्त वर्ष 2025 तक टॉप 4 ग्रुप द्वारा 60 फीसदी इंक्रीमेंटल कैपेसिटी के साथ कंसोलिडेशन में तेजी रह सकती है. सेक्टर में M&A एक्टिविटी के जरिए एक्सपेंशन एक अपसाइड रिस्क है क्योंकि इससे आगे कंसोलिडेशन होगा और जिसके रिजल्ट में नेट कैपेसिटी एडिशन लो रहेगा. यह मूल्य निर्धारण अनुशासन और LT रिटर्न के लिए पॉजिटिव है.

FY22-25E के दौरान (5.5% CAGR vs 5% पहले) 90mt से ज्यादा की प्रभावी कैपेसिटी एडिशन के अनुमान के बाद भी इस अवधि में 7 फीसदी CAGR डिमांड के साथ इंडस्ट्री यूटिलाइजेशन में गिरावट की संभावना नहीं है. ब्रोकरेज का कहना है कि सीमेंट सेक्टर में प्राइसिंग डिसरप्सन की संभावना बहुत कम है.

मार्जिन पर दबाव जारी

ब्रोकरेज हाउस के अनुसार नियर टर्म में उम्मीद है कि बढ़ रही लागत, सीजनली कमजोर डिमांड और कमजोर रीयलाइजेशन के चलते सीमेंट कंपनियों की मार्जिन पर दबाव जारी रहेगा. हायर कास्ट इनफ्लेशन और पहले की तुलना में लोअर यूटिलाइजेशन के लेवल को ध्यान में रखते हुए, ब्रोकरेज हाउस ने वित्त वर्ष 2023/24/25 के लिए अपने EBITDA अनुमानों में 5-6 फीसदी की कटौती की है. वहीं कवरेज कंपनियों के टारगेट प्राइस में 5-20 फीसदी की कटौती की है.

6 महीने में 25-40% टूटे स्टॉक

ब्रोकरेज हाउस का कहना है कि पिछले 6 महीनों में सीमेंट स्टॉक की कीमतों में 25-40 फीसदी करेक्शन देखने को मिला है. जिसके बाद सीमेंट EV/EBITDA मल्टीपल अब 3 साल के औसत से 10 फीसदी नीचे हैं. हमारे संशोधित Jun’23E TPs (पहले Mar’23E) पर, हम जोखिम-इनाम को अनुकूल मानते हैं, भले ही उत्प्रेरक 1-2 चौथाई दूर हों। कमोडिटी की कीमत घटने या सीमेंट की कीमतों में बढ़ोतरीफिलहाल रिस्क रिवार्ड फेवरेबल है और आगे अगर कमोडिटी की कीमतों में गिरावट आती है तो यह सेक्टर के लिए पॉजिटिव कैटेलिस्ट के रूप में काम करेगा.

किन शेयरों में निवेश का मौका

ब्रोकरेज हाउस ने लार्ज कैप में Ultratech और Shree Cement पर भारेसा जताया है, जबकि मिड-कैप में Birla Corp और स्मॉल-कैप में Sagar Cement को टॉप पिक्स चुनी है.

(Disclaimer: स्टॉक में निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं हैं. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)  

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Most Read In Business News

TRENDING NOW

Business News