scorecardresearch

Top midcap stock picks 2022: 69% तक मुनाफे के लिए इन शेयरों में निवेश की सलाह, UBS की लिस्ट में Just Dial और PVR भी शामिल

साल 2021 में मिडकैप शेयरों ने शानदार रिटर्न दिया, मिडकैप इंडेक्स 44% तक बढ़ा. जानकारों का मानना है कि अब 2022 में कुछ ऐसे शेयर अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं जो अब तक अंडरपरफॉर्म करते रहे हैं.

ग्लोबल ब्रोकरेज और रिसर्च फर्म UBS ने 3 ऐसे मिडकैप शेयर चुने हैं, जो अभी महंगे नहीं हैं और भविष्य में अच्छा रिटर्न दे सकते हैं.

UBS Top midcap stock picks for 2022: मिडकैप शेयरों के लिए 2021 का साल शानदार रिटर्न देने वाला रहा है. मिडकैप इंडेक्स 44% तक बढ़ा. जानकारों का मानना है कि अब 2022 में कुछ ऐसे शेयर भी अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं जो अब तक अंडरपरफॉर्म करते रहे हैं. ग्लोबल ब्रोकरेज और रिसर्च फर्म UBS ने 3 ऐसे शेयर चुने हैं, जो अभी वैल्यूएशन के लिहाज से महंगे नहीं हैं और भविष्य में अच्छा रिटर्न दे सकते हैं. ये शेयर उन कंपनियों के हैं, जिनमें आने वाले दिनों के दौरान बेहतर कमाई के आसार साफ दिखाई दे रहे हैं. ये तीन शेयर हैं : 1. जस्ट डायल (Just Dial), पीवीआर (PVR) और एजिस लॉजिस्टिक्स (Aegis Logistics). ये तीनों शेयर 2022 में अब तक तेजी दिखाते रहे हैं. साल के पहले 18 दिनों के दौरान इनमें 3 से 15% तक तेजी देखी जा चुकी है.

Just Dial: Buy
Target price: Rs 1,350, Expected Upside: 61%

जस्ट डायल (Just Dial) के शेयर मंगलवार को 838 रुपये पर बंद हुए हैं. हालांकि एक दिन पहले तक इसका भाव 875 रुपये पर था. 2021 के पूरे साल के दौरान जस्ट डायल के शेयर में 25 फीसदी की तेजी दर्ज की गई थी, जो मिडकैप इंडेक्स के औसत प्रदर्शन के मुकाबले कम ही रही है. 2021 में मुकेश अंबानी समूह की कंपनी रिलायंस रिटेल ने जस्ट डायल का अधिग्रहण भी कर लिया है. UBS का मानना है कि रिलायंस जैसे मजबूत समूह का हिस्सा बनने के बाद अब इस शेयर में काफी मजबूती देखने को मिल सकती है. ब्रोकरेज का मानना है कि B2C और B2B श्रेणी में कंपनी के बिजनेस भविष्य में बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं, जिनमें जेडीमार्ट (JDMart) जैसे ईकॉमर्स प्लेटफॉर्म शामिल हैं.

UBS के एनालिस्ट्स का मानना है कि जस्ट डायल का एक साल का फॉरवर्ड PE अभी 21x पर है, जो इसके 5 साल के लॉन्ग टर्म एवरेज से थोड़ा ऊपर है. UBS की राय में जस्ट डायल के शेयर अभी इसके लोकल और ग्लोबल पीयर्स के मुकाबले काफी डिस्काउंट पर चल रहे हैं. इसका मतलब यह भी है कि मार्केट अभी JDMart में ग्रोथ की संभावना को नज़रअंदाज़ कर रहा है. इसकी तुलना में घरेलू B2B प्लेफॉर्म्स में देश का मार्केट लीडर इंडिया मार्ट (IndiaMART) अभी FY23 PE के मुकाबले 50 गुना कीमत पर ट्रेड कर रहा है. ब्रोकरेज ने इसके लिए 1,350 रुपये का टारगेट प्राइस दिया है. इस हिसाब से जस्ट डायल में अभी 60% से ज्यादा मुनाफे की गुंजाइश दिख रही है.

Aegis Logistics: Buy
Target price: Rs 380, Expected Upside: 69%

एजिस लॉजिस्टिक्स (Aegis Logistics) की वोपैक (Vopak) के साथ डील हो रही है, जिसके इस वित्तीय वर्ष के अंत तक पूरा होने की उम्मीद है. UBS के एनालिस्ट्स को भरोसा है कि इस डील से एजिस को न सिर्फ एक मजबूत पार्टनर मिलेगा, जिससे उसका कैपेक्स रिस्क कम हो जाएगा और बेहतर तकनीक तक कंपनी की पहुंच भी बढ़ेगी. कंपनी ने क्षमता विस्तार में बड़े पैमाने पर पूंजीगत निवेश (capex) का प्लान भी बनाया है, जिससे उसकी ग्रोथ को नई ताकत मिलेगी.

एजिस के शेयर अभी अपने एक साल के फॉरवर्ड पीई के मुकाबले 16x के मल्टिपल पर ट्रेड कर रहे हैं, जो उसके 5 साल के लॉन्ग टर्म एवरेज से कम है. UBS का मानना है कि बाजार अभी एजिस-वोपैक डील के कारण भविष्य में मिलने वाली ग्रोथ को नजरअंदाज़ कर रहा है. ब्रोकरेज ने इस कंपनी के लिए 380 रुपये का जो टारगेट प्राइस दिया है. सोमवार को यह शेयर 224.45 पर बंद हुआ और इस हिसाब से इसमें अभी करीब 69 फीसदी मुनाफे की गुंजाइश दिख रही है.

PVR: Buy
Target price: Rs 2,000, Expected Upside: 27%

हालांकि कोविड-19 की नई-नई लहरों के कारण PVR के फिल्म थियेटर बिजनेस के लिए रिस्क बढ़ जाता है, लेकिन UBS के एनालिस्ट्स का मानना है कि OTT प्लेटफॉर्म पर होने वाले रिलीज़ के कारण कंपनी के लिए ज्यादा रिस्क नहीं है. उनका मानना है कि OTT रिलीज़ में तेजी से बढ़ोतरी होने का जोखिम बहुत कम है, क्योंकि बड़े बजट की फिल्मों को थिएटर में ही रिलीज करना होता है और उनके बीच के समय में छोटी फिल्मों को थिएटर के माध्यम से ज्यादा बड़े दर्शक वर्ग तक पहुंचने का मौका मिल जाता है. भारत में कोविड-19 की तीसरी लहर आने के बाद कई फिल्मों की रिलीज को टालना पड़ा है.

PVR के शेयर फिलहाल कोविड से पहले के समय के मुकाबले काफी डिस्काउंट पर मिल रहे हैं. इस गिरावट के लिए ओमिक्रॉन वैरिएंट के बढ़ते खतरे और OTT ऐप्स से मिल रही चुनौती को जिम्मेदार माना जा रहा है. लेकिन UBS के एनालिस्ट्स के मुताबिक आंकड़ों पर देखने से लगता है कि मार्केट इन चिंताओं को कुछ ज्यादा ही बढ़ा-चढ़ाकर देख रहा है. उनका मानना है कि आने वाले दिनों में यह शेयर लोगों को सकारात्मक रूप से चौंकाने की क्षमता रखता है. UBS ने इस पर 2000 रुपये का जो टारगेट प्राइस दिया है, उसे सोमवार के 1570 रुपये के बंद भाव के सामने रखें तो इसमें करीब 27 फीसदी की बढ़त की गुंजाइश बन रही है.

(Story : Kshitij Bhargava)
( डिसक्लेमर : स्टोरी में दिए गए स्टॉक रिकमंडेशन संबंधित रिसर्च एनालिस्ट व ब्रोकरेज फर्म के हैं. फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन इनकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेता. पूंजी बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन हैं. निवेश से पहले अपने सलाहकार से परामर्श जरूर करें)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News