मुख्य समाचार:

90 डॉलर का स्तर पार करेगा क्रूड! इन शेयरों में मिल सकता है 79% तक रिटर्न

एक्सपर्ट मान रहे हैं कि क्रूड की कीमतें जल्द 90 डॉलर प्रति बैरल जा सकती हैं. क्रूड महंगा होने से कुछ कंपनियों का मुनाफा बढ़ेगा, जिससे उनके शेयरों में अच्छा रिटर्न मिल सकता है. (Reuters)

October 3, 2018 8:12 AM

 

crude, stocks, crude prices hike, refinery company, energy sector, ongc, bpcl, igl, gail, invest, returnएक्सपर्ट मान रहे हैं कि क्रूड की कीमतें जल्द 90 डॉलर प्रति बैरल जा सकती हैं. क्रूड महंगा होने से कुछ कंपनियों का मुनाफा बढ़ेगा, जिससे उनके शेयरों में अच्छा रिटर्न मिल सकता है. (Reuters)

इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड की कीमतें लगातार ऊंची बनी हुई हैं. मंगलवार को क्रूड ने 85 डॉलर का स्तर पार किया और 85.32 डॉलर प्रति बैरल पहुंच गया जो 4 साल का हाई है. इरान पर सैंक्शन की डेड लाइन पास आ रही है, जिससे हालात और बिगड़ सकते हैं. अब एनालिस्ट में भी यह चर्चा होने लगी है कि कहीं क्रूड 100 डॉलर की ओर तो नहीं बढ़ रहा है. फिलहाल क्रूड महंगा होने से कई कंपनियों को नुकसान होता है, जिससे इकोनॉमी पर असर होता है. लेकिन कुछ कंपनियां इससे फायदे में भी रहती हैं. मुनाफा बढ़ने से उनके शेयरों का प्रदर्शन भी बेहतर होता है.

इस साल क्रूड 34 फीसदी महंगा

इस साल क्रूड अबतक 34 फीसदी और पिछले एक साल में 55.69 फीसदी महंगा हो चुका है. जनवरी के शुरू में क्रूड 66 से 67 डॉलर की रेंज में था जो बढ़कर अब 85 डॉलर का स्तर पार कर गया है. वहीं, एक साल पहले 2 अक्टूबर की बात करें तो क्रूड 56 डॉलर की रेंज में था. एक्सपर्अ मान रहे हैं कि 100 डॉलर की बात करना तो अभी जल्दबाजी होगी, लेकिन अकटूबर अंत तक क्रूड 90 डॉलर तक पहुंचता दिख रहा है.

20 लाख बैरल प्रति दिन तक​ घट सकती है सप्लाई

ग्लोबल एजेंसियां और कमोडिटी एक्सपर्ट मान रहे हैं कि क्रूड अभी मौजूदा स्तर से और महंगा होगा. एक्सपर्ट का मानना है कि ईरान पर सेंक्शन के चलते इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड की सप्लाई में जो कमी आएगी, वह इतनी जल्दी पूरी नहीं होगी. रॉयटर्स के सर्वे के प्रतिबंध के चलते सितंबर में ईरान से करीब 1 लाख बैरल प्रति दिन के हिसाब से आउटपुट घटा है. जबकि सितंबर में ओपेक देशों की ओर से 90 हजार बैरल प्रति दिन ही आउटपुट बढ़ पाया है. 4 नवंबर को ईरान पर प्रतिबंध की डेडलाइन है, जिसके बाद आउटपुट में बड़ी कमी आ सकती है.

फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी जेपी मॉर्गन का कहना है कि यूएस द्वारा ईरान पर प्रतिबंध से बाजार में रोज 15 लाख बैरल प्रति दिन की कमी आएगी. जबकि स्विस इंटरनेशनल कमोडिटी ट्रेडिंग कंपनी मरकुरिया का मानना है कि इससे बाजार में रोज 20 लाख बैरल प्रति दिन क्रूड की कमी होगी.

90 डॉलर पार करेगा क्रूड

एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट, रिसर्च (कमोडिटी एंड करंसी) अनुज गुप्ता का कहना है कि क्रूड एक महीने के अंदर 90 डॉलर का स्तर छू सकता है. अगर सप्लाई कंसर्न ऐसे ही बना रहा तो आगे कीमतें और बढ़ेंगी. केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया का कहना है कि ईरान पर प्रतिबंध की डेडलाइन पास आने तक बाजार में कंसर्न है. शॉर्ट टर्म में क्रूड 90 डॉलर जाएगा. लेकिन मार्केट बहुत से फैक्टर डिस्काउंट कर चुका है, ऐसे में अगर ओपेक और यूएस प्रोडक्शन बढ़ाते हैं तो स्थिति संभलेगी.

बैंकिंग एंड फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी HSBC की रिपोर्ट के मुताबिक क्रूड को लेकर रिस्क बना है, उससे कीमतें 100 डॉलर प्रति बैरल की ओर जा रही हैं.

किन शेयरों में करें निवेश

अजय केडिया का कहना है कि क्रूड में तेजी से ​ओएनजीसी, बीपीसीएल और हिंदुस्तान पेट्रोलियम जैसी क्रूड रिफाइनरी कंपनियों को फायदा होता है. वहीं, अनुज गुप्ता का कहना है कि क्रूड में तेजी बनी हुई है, इससे एनर्जी सेक्टर की कंपनियों, आॅयल एक्सप्लोरेशन कंपनियों को फायदा हो सकता है.

ONGC

अजय केडिया ने आॅयल एंड नेचुरल गैस कंपनी (ONGC) में 225 रुपये के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी है. वहीं, ब्रोकरेज हाउस एचडीएफसी सिक्युरिटीज ने शेयर में 275 रुपये का लक्ष्य दिया है. करंट प्राइस 179 रुपये के लिहाज से शेयर में 54 फीसदी रिटर्न मिल सकता है.

IGL

इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (IGL) नेचुरल गैस डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी है. दिल्ली-एनसीआर के सीएनजी मार्केट में कंपनी का मार्केट शेयर सबसे ज्यादा है. पिछले 10 साल से कंपनी का मुनाफा बेहतर रहा है. पेट्रोल और डीजल महंगा होने से सीएनजी की डिमांड बढ़ती है. ब्रोकरेज हाउस एचडीएफसी सिक्युरिटीज ने शेयर के लिए 441 रुपये का लक्ष्य दिया है. ब्रोकरेज हाउस के आर चौकसे ने शेयर के लिए 340 रुपये का लक्ष्य दिया है. करंट प्राइस 247 रुपये के लिहाज से शेयर में 79 फीसदी तक रिटर्न मिल सकता है.

BPCL

भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड भारत सरकार महारत्न आॅयल एंड गैस कंपनी है, जिसका हेडक्वार्टर मुंबई में है. कंपनी के देश में 2 बड़े रिफाइनरी मुंबई और कोच्चि में हैं. अजय केडिया ने शेयर के लिए 425 रुपये का लक्ष्य दिया है. जबकि ब्रोकरेज हाउस के आर चौकसे ने शेयर के लिए लंबी अवधि में 490 रुपये का लक्ष्य दिया है. करंट प्राइस 368 रुपये के लिहाज से शेयर में 33 फीसदी रिटर्न मिल सकता है.

GAIL

गेल लिमिटेड नेचुरल गैस प्रॉसेसिंग एंड डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी है. पेट्रोल-डीजल के मुकाबले गैस का इस्तेमाल बढ़ रहा है. कंपनी का बिजनेस बेहतर है और गैस वॉल्यूम लगातार बढ़ रहा है. पेटकैम सेग्मेंट में भी इंप्रूवमेंट है. कंपनी की सब्सिडियरी कंपनियां भी बेहतर कर रही हैं. ब्रोकरेज हाउस केआर चौकसे ने शेयर के लिए 476 रुपये और आईसीआईसीआई डायरेक्ट ने 430 रुपये का लक्ष्य दिया है. करंट प्राइस 380 रुपये के लिहाज से शेयर में 25 फीसदी रिटर्न मिल सकता है.

(नोट-निवेश की सलाह एक्सपर्ट्स व ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई हैं. कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें. मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. 90 डॉलर का स्तर पार करेगा क्रूड! इन शेयरों में मिल सकता है 79% तक रिटर्न

Go to Top