सर्वाधिक पढ़ी गईं

2021: अकाउंट में तैयार रखें पैसे, अगले साल इन 5 सेक्टर के शेयरों दिख सकती है जोरदार तेजी

Top Sectors For 2021: साल 2021 में रूरल, इंर्फास्ट्रक्चर सहित इन 5 सेक्टर्स में आ सकती है अच्छी तेजी

Updated: Dec 31, 2020 12:51 PM
Top 5 Sectors For 2021Top Sectors For 2021: साल 2021 में रूरल, इंर्फास्ट्रक्चर सहित इन 5 सेक्टर्स में आ सकती है अच्छी तेजी

Top Sectors For 2021: कोरोना महामारी के दौर से उबरते हुए शेयर बाजार ने साल के अंतिम दिन यानी 31 दिसंबर 2020 को नया मुकाम हासिल कर लिया है. आज के कारोबार में निफ्टी ने पहली बार 14000 का स्तर पार कर लिया तो सेंसेक्स ने 47867 का नया हाई बनाया. देश की अर्थव्यवस्था में रिकवरी को देखते हुए बाजार में निवेशक लगातार पैसा लगा रहे हैं. रेंटिंग एजेंसियां और एक्सपटर्ठ देया की अर्थव्यवस्था को लेकर अब पॉजिटिव दिख रहे हैं. वित्त वर्रूा की चोथी तिमाही आते आते जीडीपी ग्रोथ पॉजिटिव में आ जाने की उम्मीद है. ऐसे में न सिर्फ घरेलू निवेशकों बल्कि विदेशी निवेशकों का अट्रैक्शन भी भारतीय बाजारों पर बढ़ा है.

एक्सपर्ट और रेटिंग एजेंसियों का मानना है कि बाजार में हल्के फुल्के करेक्शन के बीच तेजी जारी रहेगी. साल 2021 में सेंसेक्स 50 हजार के स्तर तक पहुंच जाएगा. वहीं निफ्टी 15000 का स्तर टच कर सकता है. उनका कहना इंडस्ट्रियल एक्टिविटी बढ़ने के साथ कंजम्पशन में भी सुधार हुआ है. अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए सरकार इंफ्रास्ट्रक्चर योजनाओं पर फोकस कर रही है. रूरल सेक्टर पहले से सरकार की प्राथमिकता में है. एक्सपर्ट का मानना है कि आने वाले दिनों रूरल थीम, कंज्यूमर सेक्टर, इंफ्रास्ट्रक्चर, फार्मा, आईटी और बैंकिंग सेक्टर में अच्छी तेजी देखने को मिल सकती है.

ये भी पढ़ें: टॉफी, चॉकलेट की कीमत वाले इन शेयरों ने किया मालामाल; 1 लाख के बना दिए 7 लाख

इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर

यस सिक्योरिटीज के लीड एनालिस्ट–इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज, आलोक देवरा का कहना है कि लॉकडाउन के बाद भी 2020 में इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर का प्रदर्शन बेहतर रहा है. NHAI ने अकेले 1300 किलोमीटर का प्रोजेक्ट शुरू किया. वाटर और इरीगेशन भी हैवी अवार्डिंग देखने को मिली. लॉकडाउन के बाद भी कंपनियों के आर्डरबुक में मजबूती आई. 2021 की बात करें तो देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के लिए सरकार का फोकस इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर पर है. ज्यादातर कांट्रैक्टर की आर्डरबुक बेहतर दिख रही है. लेबर की उपलब्धता अब 80 से 90 फीसदी तक सुधर चुकी है. कई प्रोजेक्ट शुरू हो रहे हैं तो कई पाइपलाइन में हैं, जिनपर जल्द काम शुरू होगा. उनका कहना है कि PNC इंफ्राटेक, KNR कंस्ट्रक्शन और HG इंफा जैसी कंपनियां विनर्स साबित हो सकती हैं.

रूरल सेक्टर

साल 2021 में रूरल सेक्टर में अच्छी तेजी आ सकती है. सरकार का फोकस रूरल सेक्टर पर भी तमाम रिफॉर्म के जरिए सरकार ग्रामीण आमदनी बढ़ाने का लक्ष्य लेकर चल रही है. फॉर्चून फिस्कल के डायरेक्ट जगदीश ठक्कर का मानना है कि मौजूदा हालात को देखते हुए कहा जा सकता है कि आने वाले बजट में सरकार रूरल सेक्टर के लिए बड़े एलान कर सकती है. खेती किसानी सरकार की प्राथमिकता में हो सकती है. ग्रामीण आय में इजाफा हुआ है. कारेोना वायरस के चलते बहुत से लोग अपने गांव घर लौटे हैं और खेती से जुड़ी एक्टिविटी बढ़ी है. ऐसे में आने वाले दिनों में रूरल थीम वाले शेयर अचछा प्रदर्शन कर सकते हैं.

कंजम्पशन

देश में सुधर रही अर्थव्यवस्था के बीच जैसे जैसे लोगों की इनकम पटरी पर आ रही है, कंजम्पशन में भी सुधार हो रहा है. सरकार के राहत पैकेज का भी इसमें योगदान दिख रहा है. अच्छी बात यह है कि ब्याज दरें भी अपने निचले सतरों पर बनी हुई हैं. ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल का मानना है कि आने वाले दिनों में आटो सेक्टर में अच्छी तेजी दिख रही है. लॉकडाउन के चलते साल 2020 में पूरे साल सेक्टर पर दबाव बना हुआ था. लेकिन अब डिमांड सुधरने लगी है. एक्सपर्ट मान रहे है कि कंज्यूमर प्रोडक्ट्स की भी मांग अब बढ़ रही है. इसके संकेत फेस्टिव सेल में मिल चुके हैं. जल्द ही सप्लाई की चुनौतियां कम होंगी. आने वाले दिनों में फुटफाल बढ़ने की उम्मीद है. रेफ्रिजरेटर, वाशिंग मशीन, एसी और टीवी बनाने वाली कंपनियों को फायदा हो सकता है. अंतरराष्ट्रीय बैंक BNP परिबास का भी मानना है कि डोमेस्टिक रूरल डिमांड से कंज्यूमर स्टॉक्स को फायदा मिल रहा है. ग्लोबल डील में सुधार है. ये सब अच्छे संकेत हैं.

बैंकिंग, फाइनेंशियल

एक्सपर्ट मान रहे हैं कि सुधर रही अर्थव्यवस्था के बीच फाइनेंशियल एक्टिविटी बढ़ रही है. NPA को लेकर अनिश्चतता भी धीरे धीरे कम हो रही है. ऐसे में साल 2021 में बैंकिंग और फाइनेंशियल सेक्टर में अच्छी खासी तेजी देखने को मिल सकती है. वैसे भी देश की अर्थव्यवस्था की ग्रोथ में बैंकिंग और फाइनेंशियल सेक्टर का बड़ा योगदान है. हालांकि एक्सपर्ट प्राइवेट बैंक सेक्टर्स पर ज्यादा भरोसा दिखा रहे हैं.

फार्मा सेक्टर

साल 2020 का विनर फार्मा सेक्टर रहा है. कोविड 19 महामारी ने लोगों को बीमारी के प्रति ज्यादा जागरुक बनाया है. ऐसे में इस साल दवाओं की मांग बहुत ज्यादा रही. लॉकडाउन से छूट की वजह से इस इंडस्ट्री का बिजनेस ग्रोथ करता रहा. एक्सपट्र आगे भी फार्मा सेक्टर में ग्रोथ जारी रहने की बात कह रहे हैं. उनका कहना है कि घरेलू और विदेशी मार्केट में रेवेन्यू पर फोकस करने वाली ऐसी अभी भी कई कंपनियां हैं, जिनमें ग्रोथ बाकी है. यस सिक्योरिटीज के लीड एनालिस्ट भावेश गांधी के अनुसार इस साल वेक्सीन बनाने वाली कंपनियां विनर साबित हो सकती हैं. डॉ. रेड्डीज, अरबिंदो फार्मा, कैडिला और Wockardt जैसी कंपनियां इसमें शामिल हैं. वहीं डोमेस्टिक मार्केट में तेजी से ग्रोथ कर रहीं कंपनियों में टोरंट फार्मा और यूएस जेनेरिक मार्केट का फायदा उठाने के लिए अरबिंदो फार्मा और अलेंबिक फार्मा टॉप पिक्स होंगी. लेकिन 2020 जैसी तेजी रहेगी, यह कहना मुश्किल है.

(नोट: हमने यहां जानकारी एक्सपर्ट और ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर दी है. बाजार के जोखिम को देखते निवेश के पहले अपने स्तर पर एक्सपर्ट की राय लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. 2021: अकाउंट में तैयार रखें पैसे, अगले साल इन 5 सेक्टर के शेयरों दिख सकती है जोरदार तेजी

Go to Top