मुख्य समाचार:

सिर्फ Coronavirus ने ही नहीं मचाई शेयर बाजार में भगदड़, ये 5 फैक्टर भी हैं जिम्मेदार

घरेलू शेयर बाजार में आज करीब 39 महीनों की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है.

February 28, 2020 3:14 PM
stock market falling, global stock market sentiments, coronavirus impact on equity market, stock market high valuation, GDP data, uncertainity on global economy, gloabal trade supply chain, शेयर बाजार में क्यों आ रही है गिरावट, कोरोना वायरसघरेलू शेयर बाजार में आज करीब 39 महीनों की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है.

Why Stock Market Falling: घरेलू शेयर बाजार में आज करीब 39 महीनों की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है. इंट्राडे कारोबार के दौरान सेंसेक्स करीब 1340 अंक टूटकर 38404 के स्तर पर आ गया. वहीं, निफ्टी भी करीब 400 अंकों की बड़ी गिरावट के साथ 11250 के नीचे 11234 के स्तर तक कमजोर हो गया. इस अफरा तफरी में कुछ घंटों में निवेशकों को भी 5.5 लाख करोड़ का झटका लगा है. एक्सपर्ट का कहना है कि बाजार की गिरावट में सबसे बड़ा कारण कोरोना वायरस की वजह से ग्लोबल मार्केट सेंटीमेंट का खराब होना है. गुरूवार को यूएस मार्केट में लगातार छठें दिन बिकवाली रही तो एशियाई बाजारों में भी गिरावट बनी हुई है. हालांकि इसके पीछे कुछ और भी फैक्टर जिम्मेदार हैं.

1. बाजार का वैल्युएशन

सैमको सिक्युरिटीज के रिसर्च हेड उमेश मेहता का कहना है कि कोरोना वायरस तो बाजार के लिए चिंता है ही, शेयर बाजार का वैल्यूएशन भी बाजार में करेक्शन का बड़ा कारण है. पिछले दिनों बाजार में लगातार तेजी आई थी. एक बार जब बाजार का वैल्यूएशन वाजिब स्तर पर आ जाएगा, इसमें फिर तेजी देखने को मिलेगी. ऐसे में निवेशकों को गिरते बाजार में बिकवाली कर घाटा सहने की बजाए इंतजार करना चाहिए. मौजूदा समय में गिरावट पर खरीददारी के अच्छे मौके बन रहे हैं.

2. खराब ग्लोबल मार्केट सेंटीमेंट

ट्रेडिंग बेल्स के सीनियर एनालिस्ट संतोष मीना का कहना है कि चीन में कोरोना वायरस के मामले कुछ कम हुए हैं, लेकिन चिंता इस बात की है कि चीन के बाहर इसके मामले बढ़ रहे हैं. इससे दुनियाभर के बाजारों में निवेशक डरे हुए हैं और इक्विट की जगह सेफ हैवन माने जाने वाले इंस्ट्रूमेंट में पैसे लगा रहे हैं. इक्विटी मार्केट के लिए यह बुरा दौर है और किसी मजबूत सेंटीमेंट का इंतजार है. टेक्निकली निफ्टी के लिए 11200-11100 के स्तर पर सपोर्ट दिख रहा है, जिसके बाद निफ्टी में 11700 रुपये तक उछाल आ सकता है.

रॉयटर्स के मुताबिक 2008 के बाद से ग्लोबल मार्केट के लिए यह सबसे खराब हफ्ता रहा है. गुरूवार को डाउ जोंस में 2008 के बाद अबतक की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज हुई. सिर्फ दूसरी बार हुआ कि इंडेक्स में 1000 अंकों से ज्यादा गिरावट रही. डाउ जोंस करीब 1191 अंक यानी 4.42 फीसदी टूटकर 26,000 के नीचे 25,766.60 के सतर पर बंद हुआ. S&P 500 इंडेक्स में  137.63 अंकों की गिरावट रही और यह 2,978.76 के सतर पर बंद हुआ. नैसडेक में 414.29 अंकों की गिरावट रही और 8,566.48 के सतर पर बंद हुआ. एशियाई बाजारों में भी गिरावट जारी है. ऑस्ट्रेलिया के शेयर बाजार में भी 3 फीसदी की गिरावट आई और वह 6 महीने के निचले स्तर पर आ गया है.

3. ग्लोबल इकोनॉमी को लेकर अनिश्चितता बढ़ी

ग्लोबल मार्केट की एक चिंता यह भी है कि कोरोना वायरस के मामले चीन के अलावा दक्षिण कोरिया, जापान और दूसरे साउथ ईस्ट एशियाई देशों में भी फैल रहे हैं. यूरोप के भी कुछ देशों में इसके मामले आए हैं. इससे दुनियाभर की ट्रेड एक्टिविटी प्रभावित होने का डर बन गया है, जिससे ग्लोबल इकोनॉमी को लेकर अनिश्चितता और बढ़ गई है. एक देश से दूसरे देश में लोगों की आवा जाही भी प्रभावित हुई है. कई कल कारखानों में काम ठप कर दिया गया है. डिमांड घटने से इंपोर्ट और एक्सपोर्ट भी प्रभावित हो रहा है.

4. टूट रहा है सप्लाई चेन

चीन और दक्षिण कोरिया ट्रेड का बड़ा सेंटर है. लेकिन कोरोना वायरस के चलते यहां के कई कारखानों में काम रोक दिया गया है. कई शहरों में अलग अलग सेक्टर में काम करने वाली कंपनियों के प्लांट कुछ दिनों के लिए बंद हो गए हैं. इससे ग्लोबल स्तर पर सप्लाई चेन बुरी तरह से बाधित हो रहा है. ऐसे में कोरोना के चलते दुनिया के कई देशों की इंडस्ट्री पर असर पड़ना शुरू हो चुका है, खासतौर से जिन देशों की घरेलू इंडस्ट्री जरूरी कंपोनेंट का चीन से आयात करती हैं.

5. GDP डाटा को लेकर निवेशक सतर्क

भारत की GDP ग्रोथ सितंबर तिमाही में 6 साल के निचले स्तर 4.5 फीसदी पर है. वहीं, कोरोना वायरस के चलते घरेलू इंडस्ट्री पर भी असर हुआ है. ऐसे में निवेशक इस बात को लेकर डरे हुए हैं कि कोरोना का असर देश की जीडीपी ग्रोथ पर दिख सकता है. मूडीज से लेकर कई ग्लोबल एजेंसियां ऐसे रिपोर्ट दे रही हैं कि कोरोना के चलते दुनियाभर की अर्थव्यवस्था ओं पर निगेटिव असर होगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. सिर्फ Coronavirus ने ही नहीं मचाई शेयर बाजार में भगदड़, ये 5 फैक्टर भी हैं जिम्मेदार

Go to Top