मुख्य समाचार:

TCS Vs HCL Vs इंफोसिस: नतीजों के बाद किन IT शेयरों पर लगाएं दांव, किससे बनाएं दूरी

आईटी सेक्टर की दिग्गज कंपनियों टाटा कंसलटेंसी (TCS), HCL टेक और इंफोसिस ने अपने दिसंबर तिमाही के नतीजे घोषित कर दिए हैं.

January 21, 2020 10:07 AM
TCS Vs HCL Tech Vs Infosys, IT stocks, invest in IT Stocks, टाटा कंसलटेंसी,, HCL टेक और इंफोसिस, brokerage report on IT Stocksआईटी सेक्टर की दिग्गज कंपनियों टाटा कंसलटेंसी (TCS), HCL टेक और इंफोसिस ने अपने दिसंबर तिमाही के नतीजे घोषित कर दिए हैं.

TCS Vs HCL Vs इंफोसिस: आईटी सेक्टर की दिग्गज कंपनियों टाटा कंसलटेंसी (TCS), HCL टेक और इंफोसिस ने अपने दिसंबर तिमाही के नतीजे घोषित कर दिए हैं. मार्जिन, रेवेन्यू ग्रोथ, कांस्टेंट करंसी ग्रोथ और नए क्लाइंट और आर्डर को देखते हुए एक्सपर्ट भी अलग अलग कंपनी के शेयरों में आउटलुक को लेकर सलाह दे रहे हैं. एक्सपर्ट का मानना है कि आईटी कंपनियों के नतीजे मिले जुले रहे हैं. टीसीएस में रेवेन्यू ग्रोथ उम्मीद से कमजोर रहा है और मार्जिन पर दबाव दिख रहा है. वहीं, एचसीएल टेक ने तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया है. देखते हैं कि नतीजों के बाद किन शेयरों में निवेश की सलाह है तो किनसे दूर रहने की बात एक्सपर्ट कर रहे हैं.

टाटा कंसल्टेंसी (TCS)

आईटी सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनी TCS के तिमाही नतीजों को एक्सपर्ट उम्मीद से कमजोर मान रहे हैं. ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल के अनुसार कंपनी का रेवेन्यू उम्मीद से कमजोर रहा है और इसमें सालाना आधार पर 6.8 फीसदी ग्रोथ रही है. जबकि मार्च तिमाही में यह ग्रोथ 12.7 फीसदी रही थी. कंपनी का एबिट इंप्रूव हुआ है. तिमाही आधार पर कांस्टेंट करंसी ग्रोथ उम्मीद से कमजोर 0.3 फीसदी रही है, जबकि 1 फीसदी का अनुमान था. इस दौरान कंपनी का आर्डर भी कमजोर रहा है. ब्रोकरेज हाउस ने शेयर में 1980 रुपये का लक्ष्य देते हुए इसे बेचने की सलाह दी है.

ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने भी शेयर को लेकर न्यूट्रल रेटिंग दी है. ब्रोकरेज ने शेयर के लिए 2320 रुपये का लक्ष्य देते हुए 5 फीसदी के करीब अपसाइड की उम्मीद जताई है. ब्रोकरेज के अुनसार टीसीएस की ग्रोथ कमजोर रही है. खासतौर से यूएस और BFSI ग्रोथ कमजोर रहने का असर ओवरआल नतीजों पर हुआ. नए आर्डर भी उत्साह बढ़ाने वाले नहीं दिख रहे हैं.

इंफोसिस

नतीजों के बाद से इंफोसिस में करीब 4 फीसदी तेजी आ चुकी है. वित्त वर्ष 2020 की तीसरी तिमाही में इंफोसिस का मुनाफा तिमाही आधार पर 11 फीसदी बढ़कर 4457 करोड़ रुपये रहा है. इस दौरान कंपनी ने रेवेन्यू ग्रोथ गाइडेंस में बढ़ोत्तरी कर 10-10.5 फीसदी कर दिया है. ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने इंफो​सिस के शेयर में निवेश की सलाह देते हुए 870 रुपये का लक्ष्य दिया है. ब्रोकरेज का कहना है कि आडिट कमिटी ने मैनेजमेंट इश्यू पर क्लीनचिट दे दी है, जो अच्छे संकेत हैं. कंपनी के तिमाही नतीजे उम्मीद के मुताबिक ही रहे हैं. ब्रोकरेज ने FY20-22 के लिए अपग्रेड कर ईपीएएस का अनुमान 2%-3% कर दिया है.

वहीं, ब्रोकरेज हाउस एमके ग्लोबल ने शेयर के लिए होल्ड रेटिंग करते हुए 785 रुपये का लक्ष्य दिया है. बोकरेज हाउस HSBC ने शेयर में 810 रुपये का लक्ष्य देते हुए खरीद की सलाह दी है. जबकि गोल्डमैन सैक्स ने न्यूट्रल रेटिंग देते हुए 718 रुपये का लक्ष्य दिया है. क्रेडिट सूईस ने शेयर के लिए अंडरपरफॉर्म रेटिंग दी है.

HCL टेक

HCL टेक का मुनाफा सालाना आधार पर 13 फीसदी बढ़कर दिसंबर तिमाही में 2944 करोड़ रहा है. आगे और बेहतर ग्रोथ की उम्मीद है. वहीं, इस दौरान कंपनी का रेवेन्यू भी 15.5 फीसदी बढ़कर 18,135 करोड़ रुपये पहुंच गया. कंपनी ने कांस्टेंट करंसी टर्म में मौजूदा वित्त वर्ष के लिए रेवेन्यू ग्रोथ आउटलुक 16.5-17 फीसदी रखा है जो पहले 15-17 फीसदी था. ब्रोकरेज हाउस HDFC सिक्युरिटीज ने शेयर के लिए 665 रुपये का लक्ष्य रखते हुए खरीद की सलाह दी है. ब्रोकरेज का मानना है कि कंपनी का मर्जिन और रेवेन्यू ग्रोथ उम्मीद से बेहतर रहा है. आगे ईपीएस में अच्छी ग्रोथ का अनुमान है. लोअर कॉरपोरेट टैक्स का भी फायदा HCL टेक को मिलेगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. TCS Vs HCL Vs इंफोसिस: नतीजों के बाद किन IT शेयरों पर लगाएं दांव, किससे बनाएं दूरी

Go to Top