सर्वाधिक पढ़ी गईं

M-Cap: TCS ने RIL को किया पीछे, मार्केट कैप में बनी शेयर बाजार की सबसे बड़ी कंपनी

TCS Market Cap: 25 जनवरी के कारोबार में TCS मार्केट कैपिटलाइजेशन के मामले में भी शेयर बाजार की सबसे बड़ी घरेलू कंपनी बन गई है.

January 25, 2021 11:19 AM
RIL Vs TCSTCS Market Cap: 25 जनवरी के कारोबार में TCS मार्केट कैपिटलाइजेशन के मामले में भी शेयर बाजार की सबसे बड़ी घरेलू कंपनी बन गई है.

TCS Vs RIL Market Cap: 25 जनवरी यानी सोमवार के कारोबार में देश की सबसे बड़ी टेक कंपनी टाटा कंसल्‍टेंसी (TCS) मार्केट कैपिटलाइजेशन के मामले में भी शेयर बाजार की सबसे बड़ी घरेलू कंपनी बन गई है. 25 जनवरी यानी सोमवार के कारोबार में रिलायंस इंडस्‍ट्रीज (RIL) के शेयरों में भारी गिरावट का टीसीएस को फायदा मिला है. शेयर में गिरावट के चलते आरआईएल का मार्केट कैप 12.50 लाख करोड़ रुपये से नीचे आ गया. वहीं टीसीएस के शेयरों में अराज तेजी रही. फिलहाल इंट्राडे कारोबार में दोनों कंपनियों के मार्केट कैप में मामूली अंतर देखने को मिल रहा है.

TCS  हुई RIL से आगे

दिसंबर तिमाही के नतीजों के बाद रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के शेयरों में तेज गिरावट देखी जा रही है. आरआईएल का शेयर 4 फीसदी से ज्‍यादा टूटकर 1953 रुपये के भाव पर आ गया है. वहीं सुबह 10-30 बजे तक आरआईएल का मार्केट कैप भी इस दौरान घटकर 12.45 लाख करोड़ के आस पास रह गया. दूसरी ओर टीसीएस के शेयरों में करीब 1 फीसदी की तेजी है और शेयर शुक्रवार के बंद भाव 3303 रुपये के मुकाबले 3345 रुपये पर पहुंच गया. इस दौरान कंपनी का मार्केट कैप 12.48 लाख करोड़ रुपये से ज्‍यादा हो गया है.

TCS 3 महीने में 24% चढ़ा, RIL 4% गिरा

पिछले 3 महीने की बात करें तो टीसीएस के शेयरों में पॉजिटिव ट्रेंड दिख रहा है. इस दौरान टीसीएस का शेयर करीब 24 फीसदी मजबूत हुआ है. 26 अक्टूबर 2020 से 25 जनवरी 2021 के बीच शेयर 2688 रुपये से बढ़कर 3345 रुपये पर आ गया. वहीं इस दौरान आरआईएल में करीब 4 फीसदी गिरावट रही. इस दौरान शेयर 2028 रुपये से कमजोर होकर 1953 रुपये के स्तर पर आ गया.

TCS: तेजी से बढ़ा मार्केट कैप

बीते 5 अक्टूबर 2020 को  टीसीएस का मार्केट कैप 10 लाख करोड़ रुपये पर पहुंचा था. वहीं 28 दिसंबर 2020 को टीसीएस का मार्केट कैप पहली बार बढ़कर 11 लाख करोड़ के पार चला गया था. दूसरी ओर आरआईएल ने पिछले साल सितंबर महीने में 14 लाख करोड़ मार्केट कैप का आंकड़ा टच किया था. 16 सितंबर 2020 को आरआईएल का शेयर 2,368.80 रुपये के रिकॉर्ड हाई पर पहुंचा था. लेकिन उसके बाद से शेयर में दबाव देखने को मिला है.

क्‍यों RIL में आई गिरावट

दिसंबर तिमाही के नतीजों के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है. रिलायंस इंडस्ट्री ज का एबिटडा उम्मीद से कमजोर रहा है. इसके अलावा टेलिकॉम आर्म जियो का बिजनेस भी उम्मी‍द से सुस्त  रहा है. जिसके चलते निवेशक बिकवाली कर रहे हैं. आरआईएल का रेवेन्यू मौजूदा वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में गिरकर 1.28 लाख करोड़ पर पहुंच गया, जो एक साल पहले 1.57 लाख करोड़ पर था. रिलायंस जियो की सब्ससक्राइबर ग्रोथ सुस्त रही है. एआरपीयू में भी 4 फीसदी ही ग्रोथ रही.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. M-Cap: TCS ने RIL को किया पीछे, मार्केट कैप में बनी शेयर बाजार की सबसे बड़ी कंपनी
Tags:RILTCS

Go to Top