TCS बनी IT सर्विसेज में दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी, टॉप 25 में 6 भारतीय कंपनियां शामिल

TCS और Infosys के अलावा 4 और भारतीय कंपनियों ने टॉप 25 में जगह बनाई. ये कंपनियां हैं Wipro, HCL, Tech Mahindra और LTI.

TCS 2nd most valuable IT services brand globally, 5 others in top 25 tally: Brand Finance
टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) आईटी सर्विस सेक्टर में दुनिया के दूसरी सबसे बड़ी कंपनी बन गई है.

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) आईटी सर्विस सेक्टर में दुनिया के दूसरी सबसे बड़ी कंपनी बन गई है. ब्रांड फाइनेंस के अनुसार टीसीएस के बाद इंफोसिस (Infosys) इस सूची में तीसरे नंबर पर है, जबकि 4 अन्य भारतीय टेक कंपनियां भी टॉप 25 आईटी सर्विसेज कंपनियों में जगह बनाने में कामयाब रही हैं. साल 2022 की ब्रांड फाइनेंस IT सर्विसेज 25 रिपोर्ट के अनुसार टीसीएस और इंफोसिस के अलावा विप्रो 7 वें, HCL 8वें, टेक महिंद्रा 15वें और LTI इस लिस्ट में 22 वें नंबर पर मौजूद हैं. यानी टीसीएस और इंफोसिस को मिलाकर कुल 6 भारतीय कंपनियां इस प्रतिष्ठित सूची में जगह बनाने में सफल रही हैं.

क्या कहा गया है रिपोर्ट में

ब्रांड वैल्यूएशन फर्म ने कहा कि टॉप 25 की सूची में जगह बनाने वाले सभी 6 भारतीय ब्रांड 2020-2022 के दौरान सबसे तेजी से बढ़ने वाली दस शीर्ष आईटी सर्विसेज कंपनियों में शामिल हैं. रिपोर्ट के अनुसार Accenture ने इस सूची में अव्वल आते हुए दुनिया के सबसे मूल्यवान और मजबूत आईटी सर्विसेज ब्रांड का अपना खिताब बरकरार रखा है, जिसकी रिकॉर्ड ब्रांड वैल्यू 36.20 अरब अमेरिकी डॉलर है. रिपोर्ट में कहा गया है कि मजबूत आईटी सर्विसेज ब्रांड और डिजिटल स्किल वाले लोगों की एक बड़ी आबादी के साथ, भारत आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, डेटा एनालिटिक्स और इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT) के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास में अहम भूमिका निभाता रहेगा.

Budget Terms Explained: बजट से पहले जान लें इन शब्दों का मतलब, तो वित्त मंत्री का भाषण समझना हो जाएगा आसान

टीसीएस ने लगाई ऊंची छलांग

रिपोर्ट के अनुसार टीसीएस ने सालाना आधार पर 12 प्रतिशत और 2020 से 24 प्रतिशत की ग्रोथ के साथ 16.8 अरब अमेरिकी डॉलर की ब्रांड वैल्यू हासिल कर ली है. टीसीएस ने एक रेगुलेटरी फाइलिंग में कहा कि इस ग्रोथ का श्रेय अपने ब्रांड और उसके कर्मचारियों में कंपनी के निवेश, कस्टमर इक्विटी और स्ट्रांग फाइनेंशियल परफॉर्मेंस को जाता है. 2021 में स्ट्रांग रेवेन्यू ग्रोथ के साथ टीसीएस ने एक अहम पड़ाव को पार किया है. कंपनी की आय ने पहली बार 25 अरब अमेरिकी डॉलर का पड़ाव पार किया, जिसमें इंडस्ट्री लीडिंग ऑपरेटिंग प्रॉफिट मार्जिन 25 प्रतिशत से अधिक था.

Samsung Galaxy S22 सीरीज़ के इन स्मार्टफोन्स से पर्दा उठने के आसार, 9 फरवरी को है Unpacked इवेंट

इंफोसिस तीसरे नंबर पर

इंफोसिस भी तीसरे स्थान के साथ वैश्विक स्तर पर सबसे तेजी से बढ़ती आईटी सर्विस कंपनी के रूप में उभरी है. कंपनी की ब्रांड वैल्यू बढ़कर 12.8 अरब अमेरिकी डॉलर हो गई है, जो पिछले साल के मुकाबले 52 फीसदी ज्यादा है. साल 2020 के मुकाबले इसमें 80 प्रतिशत का इजाफा हुआ है. रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड ​​-19 महामारी के पिछले दो वर्षों के दौरान भी कंपनी ने शानदार बढ़त दर्ज की है. इस बीच, दुनिया की जानमानी कंपनी IBM इस बार नीचे खिसक कर इस सूची में चौथे स्थान पर चली गई है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News