सर्वाधिक पढ़ी गईं

Tatva Chintan Pharma IPO: 17 गुना ओवरसब्सक्राइब हुआ तत्व चिंतन फार्मा का आईपीओ, बिड लगाने का आज अंतिम मौका

Tatva Chintan Pharma IPO: कंपनी के शेयरों को ग्रे मार्केट में भी सकारात्मक रूझान मिल रहा है और इशू प्राइस 1083 रुपये के मुकाबले 760 रुपये प्रीमियम पर ट्रेड हो रहा है.

July 20, 2021 12:27 PM
Chemplast Sanmar IPORetail investors were the first category of investors to have fully subscribed to their portion of the issue.

Tatva Chintan Pharma IPO: तत्व चिंतन फार्मा के 500 करोड़ रुपये का आईपीओ 17.22 गुना सब्सक्राइब हो चुका है. इस आईपीओ को सब्सक्राइब करने का आज 20 जुलाई को आखिरी मौका है. निवेशक आज शाम से पहले तक 13 शेयरों के लॉट में 1073-1083 रुपये प्रति शेयर के प्राइस बैंड में बिड कर सकते हैं. इस आईपीओ को लेकर निवेशकों ने उत्साह दिखाया और पिछले हफ्ते शुक्रवार को शुरुआती दो घंटे में ही आईपीओ ओवरसब्सक्राइब हो गया था. इसके अलावा कंपनी के शेयरों को ग्रे मार्केट में भी सकारात्मक रूझान मिल रहा है और इशू प्राइस 1083 रुपये के मुकाबले 760 रुपये प्रीमियम पर ट्रेड हो रहा है.

इस आईपीओ के लिए क्वालीफाईड इंस्टीट्यूशनल बॉयर्स ने 2.96 गुना, नॉन-इंस्टीट्यूशनल इंवेस्टर्स ने 16.01 गुना और रिटेल इंवेस्टर्स ने अब तक आरक्षित हिस्से का 25.89 गुना सब्सक्राइब किया है. 500 करोड़ रुपये के इस आईपीओ के तहत 225 करोड़ रुपये के नए शेयर और 275 करोड़ रुपये के ऑफर फॉर सेल (ओएफएस) के तहत वर्तमान शेयरधारकों द्वारा शामिल हैं. आईपीओ सब्सक्रिप्शन के बाद कंपनी के शेयरों की लिस्टिंग बीएसई और एनएसई पर होगी. इसके शेयरों का अलॉटमेंट 26 जुलाई को हो सकता है और 29 जुलाई को एक्सचेंज पर लिस्ट हो सकते हैं.

FY22 में 10% की दर से बढ़ेगी जीडीपी, कोरोना के चलते एडीबी ने घटा दिया ग्रोथ अनुमान

न्यूनतम 14079 रुपये करना होगा निवेश

कंपनी के आईपीओ के सब्सक्रिप्शन के लिए न्यूनतम 13 शेयर या इसके गुणक में बिड कर सकेंगे. इसका मतलब हुआ कि अपर प्राइस बैंड के हिसाब से कम से कम 14,079 रुपये का निवेश करना होगा. तत्व चिंतन फार्मा केम आईपीओ का 50 फीसदी हिस्सा क्वालिफाईड इंस्टीट्यूशनल बॉयर्स और 15 फीसदी नॉन-इंस्टीट्यूशनल इंवेस्टर्स के लिए आरक्षित है. शेष 15 फीसदी हिस्सा खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित है. आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज और जेएम फाइनेंशियल इशू के लिए बुक लीड मैनेजर्स हैं जबकि लिंक इनटाइम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड इस इशू का रजिस्ट्रार है.

ITR Filing: आमदनी टैक्सेबल नहीं होने पर भी आयकर रिटर्न भरना कैसे हो सकता है फायदेमंद? जानिए कुछ दिलचस्प वजहें

जुटाए गए पैसों का इस तरह होगा इस्तेमाल

सफलतापूर्वक लिस्टिंग के बाद तत्व चिंतन आरती इंडस्ट्रीज, नवीन फ्लूरीन, एल्किल एमीन्स केमिकल्स, विनाती ऑर्गेनिक और फाईन ऑर्गेनिक्स इंडस्ट्रीज के लीग में शामिल हो जाएगा. आईपीओ के जरिए जुटाए गए पैसों में 147.1 करोड़ रुपये से तत्व चिंतन फार्मा केम दहेज मैनुफैक्चरिंग फैसिलिटी के प्रसार की पूंजी जरूरतों को पूरा करेगी. इसके अलावा 23.9 करोड़ रुपये से वडोदरा में स्थित आरएंडडी फैसिलिटी के अपग्रेडेशन के लिए पूंजी जरूरतों को पूरा किया जाएगा. इसके अलावा जुटाए गए पैसों से आम कॉरपोरेट उद्देश्यों को पूरा किया जाएगा.

दुनिया भर में फैला है कंपनी का कारोबार

1996 में स्थापित तत्व चिंतन फार्मा केम एक केमिकल मैन्यूफैक्चरिंग कंपनी है जो स्ट्रक्चर डायरेक्टिंग एजेंट्स (एसडीए), फेज ट्रांसफर कैटेलिस्ट (पीटीसी), फार्मा एंड एग्रोकेमिकल इंटरमीडिएट्स और अन्य स्पेशियलिटी केमकिल्स तैयार करती है. इस कंपनी के ग्राहक ऑटोमोटिव, पेट्रोलियमस एग्रोकेमिकल्स, डाई व पिगमेंट्स, पेंट्स व कोटिंग्स, फार्मा और पर्सनल केयर समेत अन्य क्षेत्रों में हैं. कंपनी के प्रॉडक्ट्स की बिक्री न सिर्फ भारत में ही बल्कि अमेरिका, जर्मनी, दक्षिण अफ्रीका, चीन और ब्रिटेन समेत 25 से अधिक देशों में निर्यात होता है. पिछले वित्त वर्ष 2020 में कंपनी का 76 फीसदी ऑपेरशन रेवेन्यू निर्यात से आया था. कंपनी को रेवेन्यू में लगातार बढ़ोतरी हो रही है और वित्त वर्ष 2019 में 206.80 करोड़ रुपये, वित्त वर्ष 2020 में 264.62 करोड़ रुपये और वित्त वर्ष 2021 में 306.29 करोड़ रुपये का रेवेन्यू हासिल हुआ था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Tatva Chintan Pharma IPO: 17 गुना ओवरसब्सक्राइब हुआ तत्व चिंतन फार्मा का आईपीओ, बिड लगाने का आज अंतिम मौका
Tags:IPO

Go to Top