Air India और Vistara के विलय पर बनी सहमति, मार्च 2024 तक पूरी हो सकती है डील | The Financial Express

Air India और Vistara के विलय पर बनी सहमति, मार्च 2024 तक पूरी हो सकती है डील

Air India और Vistara के विलय के तहत SIA एयर इंडिया में 2,058.5 करोड़ रुपये का निवेश भी करेगी.

Air India और Vistara के विलय पर बनी सहमति, मार्च 2024 तक पूरी हो सकती है डील
टाटा ग्रुप (Tata Group) ने आज मंगलवार को एयर इंडिया (Air India) के साथ विस्तार (Vistara) के विलय की घोषणा की है.

Vistara & Air India Merger: टाटा ग्रुप (Tata Group) ने आज मंगलवार को एयर इंडिया (Air India) के साथ विस्तार (Vistara) के विलय की घोषणा की है. सिंगापुर की एयरलाइन ने कहा कि उसके बोर्ड ने इस विलय को मंजूरी दे दी है. इस डील के तहत सिंगापुर एयरलाइंस के पास एयर इंडिया में 25.1 फीसदी इक्विटी हिस्सेदारी होगी. इस डील के मार्च 2024 तक पूरा होने की उम्मीद है. Vistara में टाटा ग्रुप की 51 फीसदी हिस्सेदारी है और बाकी सिंगापुर एयरलाइंस (SIA) के पास है. टाटा ग्रुप ने अलग से बयान जारी कर कहा है कि इस विलय के साथ एयर इंडिया देश की सबसे प्रमुख घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवा देने वाली एयरलाइन होगी. उसके बेड़े में 218 विमान होंगे और वह देश की सबसे बड़ी अंतरराष्ट्रीय विमानन कंपनी व दूसरी सबसे बड़ी घरेलू एयरलाइन होगी.

RBI Digital Rupee: 1 दिसंबर को लॉन्च होगा रिटेल डिजिटल रुपी का पायलट परीक्षण, SBI और ICICI समेत 4 बैंक होंगे शामिल

SIA एयर इंडिया में करेगी 2,058.5 करोड़ का निवेश

सिंगापुर एयरलाइन्स (Singapore Airlines) ने मंगलवार को कहा कि उसकी साझेदारी वाली विमानन कंपनी Vistara का टाटा समूह की एयर इंडिया में विलय होगा. इस डील के तहत SIA एयर इंडिया में 2,058.5 करोड़ रुपये का निवेश भी करेगी. सिंगापुर एयरलाइंस ने एक विज्ञप्ति में कहा, ‘‘इस सौदे से SIA की सभी प्रमुख बाजारों में अच्छी मौजूदगी रखने वाले एयर इंडिया में हिस्सेदारी 25.1 प्रतिशत हो जाएगी. SIA और टाटा का लक्ष्य मार्च 2024 तक इस विलय को पूरा करना है. यह नियामकीय मंजूरी पर भी निर्भर करता है.’’

Pravaig Defy इलेक्ट्रिक SUV में क्या है खास? 5 ऐसी खूबियां जो इस कार को बनाती है शानदार

देश की सबसे बड़ी अंतरराष्ट्रीय विमानन कंपनी बन जाएगी एयर इंडिया

टाटा समूह ने अलग से बयान जारी कर कहा कि इस विलय के साथ एयर इंडिया देश की सबसे प्रमुख घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवा देने वाली एयरलाइन होगी. उसके बेड़े में 218 विमान होंगे और वह देश की सबसे बड़ी अंतरराष्ट्रीय विमानन कंपनी व दूसरी सबसे बड़ी घरेलू एयरलाइन होगी. एसआईए और टाटा संस जरूरत होने पर वृद्धि और परिचालन को गति देने के लिये वित्त वर्ष 2022-23 और वित्त वर्ष 2023-24 में अतिरिक्त पूंजी डालने पर भी सहमत हुए हैं. टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने कहा कि एयर इंडिया को वैश्विक स्तर की एयरलाइन कंपनी बनाने की दिशा में विस्तार और एयर इंडिया का विलय मील का पत्थर साबित होगा. उन्होंने कहा, ‘‘बदलाव के तहत, एयर इंडिया अपने नेटवर्क और बेड़े दोनों को बढ़ाने के साथ ग्राहकों को सेवाओं की पेशकश को नया रूप देने, सुरक्षा और भरोसे के साथ प्रदर्शन को बेहतर करने पर ध्यान केंद्रित कर रही है. हम एक मजबूत एयर इंडिया बनाने के अवसर से उत्साहित हैं. यह घरेलू और अंतरराष्ट्रीय मार्गों पर पूर्ण सेवा और कम लागत वाली सेवा दोनों की पेशकश करेगी.’’ टाटा समूह से चार एयरलाइन जुड़ी हैं. ये हैं…एयर इंडिया, एयर इंडिया एक्सप्रेस, एयर एशिया इंडिया और विस्तार. टाटा समूह ने एयर इंडिया और एयर इंडिया एक्सप्रेस का इस साल जनवरी में अधिग्रहण किया था.

(इनपुट-पीटीआई)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

First published on: 29-11-2022 at 17:54 IST

TRENDING NOW

Business News