सर्वाधिक पढ़ी गईं

Tata Motors में तिमाही नतीजों के बाद बिकवाली, क्या राकेश झुनझुनवाला के पसंदीदा स्टॉक में करें निवेश?

Tata Motors Stocks: दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो में शामिल टाटा मोटर्स के शेयरों में 19 मई को बिकवाली देखने को मिल रही है.

May 19, 2021 10:40 AM
Tata Motors StocksTata Motors Stocks: दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो में शामिल टाटा मोटर्स के शेयरों में 19 मई को बिकवाली देखने को मिल रही है.

Tata Motors Stocks: दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला के पोर्टफोलियो में शामिल टाटा मोटर्स के शेयरों में 19 मई को बिकवाली देखने को मिल रही है. टाटा मोटर्स का शेयर आज 4.5 फीसदी टूटकर 312 रुपये के भाव पर आ गया है. जबकि यह मंगलवार को तिमाही नतीजों वाले दिन 332 रुपये के भाव पर बंद हुआ था. असल में टाटा मोटर्स को मार्च तिमाही में 7,585 करोड़ का घाटा उठाना पड़ा है. वहीं मैनेजमेंट ने यह बात कही है कि कोरोना की दूसरी लहर के चलते एक बार फिर से बिगड़े हालात से कारोबार पर असर पड़ सकता है. इससे निवेशकों का सेंटीमेंट बिगड़ा है. हालांकि कुछ ब्रोकरेज हाउस आगे भी शेयर के आउटलुक को लेकर पॉजिटिव हैं.

राकेश झुनझुनवाला के पास 4 करोड़ से ज्यादा शेयर

राकेश झुनझुनवाला की पसंद के शेयरों में टाटा मोटर्स भी शामिल हैं. पिछले साल कंपनी के बेहतर हो रहे आउटलुक के चलते उन्होंने टाटा मोटर्स में भारी निवेश किया था. अभी उनकी इस आटो कंपनी में 1.3 फीसदी हिस्सेदारी है. राकेश झुनझुनवाला के पास टाटा मोटर्स के 42,750,000 शेयर हैं, जिकी करंट वैल्यू 1,346.6 करोड़ रुपये है.

मार्च तिमाही में कम हुआ घाटा

टाटा मोटर्स को मार्च तिमाही में 7,605 करोड़ रुपए का घाटा हुआ है. जबकि एक्सपर्ट ने मार्च तिमाही में कंपनी को मुनाफा होने की उम्मीद जताई थी. हालांकि यह घाटा एक साल पहले की समान तिमाही से कम है. एक साल पहले की समान तिमाही में टाटा मोटर्स को 9,894 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था. मार्च तिमाही में कंपनी की आय 41.7 फीसदी बढ़कर 88,628 करोड़ रुपए रही है. जबकि पिछले साल की इसी तिमाही में कंपनी की आय 62,492 करोड़ रुपए थी.

मार्च 2021 में खत्म पूरे वित्त वर्ष में टाटा मोटर्स को 13,395 करोड़ का शुद्ध नुकसान झेलना पड़ा है. उसके पिछले कारोबारी साल यानी वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान कंपनो को 11,975 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था. भारतीय कारोबार उम्मीद से बेहतर रहा है. लेकिन JLR बिजनेस प्रदर्शन उम्मीद से कम रहा है. मैनेजमेंट ने JLR और भारतीय कारोबार को लेकर सतर्क कमेट्री की है.

कोविड-19 का कारोबार पर असर

टाटा मोटर्स मैनेजमेंट ने कोरोना की दूसरी लहर के चलते एक बार फिर से बिगड़े हालात पर चिंता जताई है. इससे कंपनी के कारोबार पर असर पड़ सकता है. वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही में अबतक इंडिया वॉल्यूम पर कोरोना वायरस की दूसरी लहर का असर दिखा है. इस दौरान करीब 80 फीसदी डीलरशिप बंद रही है. अप्रैल में बिक्री 50 फीसदी तक गिर गई है. मई 2021 में चिंता और बढ़ी है. इससे कंपनी के आगे प्रदर्शन पर असर दिख सकता है.

क्या कहना है ब्रोकरेज हाउस का

ब्रोकरेज हाउस मोतीलाल ओसवाल ने शेयर में खरीद की सलाह देते हुए लक्ष्य 400 रुपये तय किया है. ब्रोकरेज के मुताबिक कोविड 19 एक चिंता है लेकिन नियर टर्म में मैको रिकवरी, कंपनी स्पेसिफिक वॉल्यूम/मार्जिन ड्राइवर्स से कंपनी को फायदा होगा. ब्रोकरेज हाउस CLSA ने भी टाटा मोटर्स के शेयरों में खरीददारी की रेटिंग दी है और इसके लिए लक्ष्य 450 रुपये तय किया है. जबकि गोल्डमैन सैक्स ने टाटा मोटर्स में बिकवाली की सलाह दी है. शेयर के लिए लक्ष्य घटाकर 254 रुपये तय कर दिया है.

वहीं UBS ने टाटा मोटर्स पर न्यूट्रल रेटिंग देते हुए शेयर का लक्ष्य 360 रुपये तय किया है. जबकि Nomura ने टाटा मोटर्स के योयर कम करने की सलाह दी है और लक्ष्य 313 रुपये तय किया है. ब्रोकरेज हाउस CITI ने खरीददारी की रेटिंग दी है और शेयर का लक्ष्य 395 रुपये तय किया है.

(नोट: हमने यहां कंपनी के प्रदर्शन और ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर जानकारी दी है. बाजार के अपने जोखिम हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Tata Motors में तिमाही नतीजों के बाद बिकवाली, क्या राकेश झुनझुनवाला के पसंदीदा स्टॉक में करें निवेश?

Go to Top