New IPO: ढाई महीने बाद आएगा पहला आईपीओ; Syrma SGS Tech का चेक करें GMP और प्राइस बैंड समेत तमाम डिटेल | The Financial Express

Syrma SGS Tech IPO: ढाई महीने बाद आने वाला है आईपीओ; 840 करोड़ का इश्यू, चेक करें GMP, प्राइस बैंड समेत तमाम डिटेल

New IPO : Syrma SGS Tech का 840 करोड़ रुपये का आईपीओ शुक्रवार 12 अगस्त को खुलेगा, इसके साथ ही बाजार में ढाई महीने से चल रहा सन्नाटा टूटेगा

Syrma SGS Tech IPO: ढाई महीने बाद आने वाला है आईपीओ; 840 करोड़ का इश्यू, चेक करें GMP, प्राइस बैंड समेत तमाम डिटेल
सिरमा एसजीएस टेक के इस इश्यू से पहले एथर इंडस्ट्रीज का आईपीओ 24 से 26 मई के दौरान खुला था.

Syrma SGS Tech IPO: Check All Details including GMP and Price Band: इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग सर्विसेज कंपनी सिरमा एसजीएस टेक्नोल़ॉजी (Syrma SGS Technology) का आईपीओ इसी शुक्रवार को सब्सक्रिप्शन के लिए खुलने जा रहा है. कंपनी ने सोमवार को ये एलान करते हुए बताया कि 840 करोड़ रुपये के इस इश्यू के लिए प्रति शेयर 209 से 220 रुपये का प्राइस बैंड तय किया गया है. 12 अगस्त को खुलने जा रहा इस आईपीओ में सब्सक्रिप्शन 18 अगस्त को बंद हो जाएगा.

सिरमा एसजीएस टेक (Syrma SGS Technology) के इस पब्लिश इश्यू के तहत 766 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे. इसके अलावा प्रमोटर वीणा कुमारी टंडन अपने 33.69 लाख इक्विटी शेयर ऑफ फॉर सेल (OFS) के तहत बेचेंगी. प्राइस बैंड की ऊपरी लिमिट के हिसाब से कैलकुलेट करें तो इस इश्यू के जरिए कुल 840 करोड़ रुपये जुटाए जा सकते हैं. इस इश्यू में आधे शेयर क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशन बायर्स (QIB) के लिए और 35 फीसदी रिटेल निवेशकों के लिए रिजर्व हैं. 10 फीसदी शेयर नॉन-इंस्टीट्यूशनल इनवेस्टर्स के लिए सुरक्षित रखे जाएंगे.

Paytm है 1 साल में सबसे खराब रिटर्न देने वाला IPO, क्या है इसके शेयर का भविष्य, लगाएं पैसे या दूर रहें

26 अगस्त को लिस्टिंग की उम्मीद

बाजार में मौजूद जानकारी के मुताबिक सिरमा एसजीएस टेक के शेयर 30 रुपये के ग्रे मार्केट प्रीमियम (GMP) पर कोट किए जा रहे हैं. बीएसई और एनएसई में कंपनी के शेयरों की लिस्टिंग 26 अगस्त को होने की उम्मीद है. इस आईपीओ के जरिए जुटाए गए फंड्स का इस्तेमाल कंपनी अपनी मैन्युफैक्चरिंग और आर एंड डी (R&D) सुविधाओं के विस्तार के लिए करेगी. इसके अलावा इस फंड का उपयोग कंपनी की वर्किंग कैपिटल की दीर्घकालीन जरूरतों (Long Term Requirements) और जनरल कॉरपोरेट खर्चों में भी किया जाएगा.

कंपनी के ग्राहकों में कई दिग्गज शामिल

सिरमा एसजीएस टेक्नॉलॉजी पर फोकस करने वाली इंजीनियरिंग एंड डिजाइनिंग कंपनी है, जो टर्नकी आधार पर इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफैक्चरिंग सर्विसेज (EMS) मुहैया कराती है. इसके ग्राहकों में टीवीएस मोटर (TVS Motor Company) एओ स्मिथ वाटर प्रोडक्ट्स (AO Smith India Water Products), रॉबर्ट बॉश (Robert Bosch Engineering and Business Solution), यूरेका फोर्ब्स (Eureka Forbes) और टोटल पावर यूरोप (Total Power Europe BV) जैसी कंपनियां शामिल हैं. सिरमा ने सितंबर 2021 में गुड़गांव की एसजीएस टेकनिक्स (SGS Tekniks) का अधिग्रहण कर लिया था. ये अधिग्रहण कैश और स्टॉक डील के तौर पर किया गया था. इसके अलावा अक्टूबर 2021 में कंपनी ने परफेक्ट आईडी (Perfect ID) का अधिग्रहण भी किया है.

राकेश झुनझुनवाला के टॉप बेट में 20% रिटर्न के चांस, कंपनी की कमाई 13 गुना बढ़ी, शेयर में आएगी तेजी

देश भर में 11 मैन्युफैक्चरिंग इकाइयां

सिरमा एसजीएस टेक के पास देश भर में 11 मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटीज़ मौजूद हैं. इनमें नॉर्थ इंडिया के हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और उत्तर प्रदेश और दक्षिण भारत के तमिलनाडु और कर्नाटक में मौजूद इकाइयां शामिल हैं. इनके अलावा कंपनी की तीन आर एंड डी (R&D) इकाइयां चेन्नई, गुड़गांव और स्टुगार्ट (जर्मनी) में काम कर रही हैं. कंपनी के मौजूदा आईपीओ के लिए डैम कैपिटल एडवाइजर्स (Dam Capital Advisors), आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज़ (ICICI Securities) और आईआईएफएल सिक्योरिटीज़ (IIFL Securities) बुक-रनिंग लीड मैनेजर्स का काम संभाल रहे हैं. जबकि इश्यू के रजिस्ट्रार लिंक इनटाइम इंडिया (Link Intime India) हैं.

ढाई महीने बाद खत्म होगा आईपीओ का सूखा

सिरमा के इस इश्यू के साथ ही आईपीओ बाजार में करीब ढाई महीने से चला आ रहा सन्नाटा टूट जाएगा. इससे पहले एथर इंडस्ट्रीज (Aether Industries) का आईपीओ 24 से 26 मई के दौरान सब्सक्रिप्शन के लिए खुला था. उसके बाद से बाजार में जारी उथल-पुथल के बीच किसी भी कंपनी ने अपना आईपीओ जारी नहीं किया. दरअसल, कई कंपनियां तो पब्लिश इश्यू के अपने प्रस्ताव को सेबी (SEBI) की तरफ से मंजूरी दिए जाने के बावजूद आईपीओ लाने के लिए बाजार में सही माहौल बनने का इंतज़ार कर रही हैं.

इस वित्त वर्ष के दौरान अब तक सिर्फ 11 आईपीओ ही आए हैं, जिनके जरिए 33,254 करोड़ रुपये जुटाए गए हैं. इनमें भी 20,557 करोड़ रुपये तो अकेले एलआईसी (LIC) ने ही जुटाए हैं. अगर इस बड़ी सरकारी कंपनी के इश्यू को अलग कर दें तो चालू काराबारी साल के दौरान अब तक आईपीओ के जरिए महज 12,697 करोड़ रुपये के फंड ही जुटाए गए हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News