मुख्य समाचार:

CBI vs CBI: सरकार को झटका; SC ने आलोक वर्मा को CBI डायरेक्टर पद पर बहाल किया, कांग्रेस ने साधा मोदी पर निशाना

CBI vs CBI मामले में मोदी सरकार को बड़ा झटका लगा है.

January 8, 2019 1:15 PM
CBI vs CBI, Supreme Court, CBI Director, SC Reinstates Alok Verma as CBI Chief, Govt OrderCBI vs CBI मामले में मोदी सरकार को बड़ा झटका लगा है.

CBI vs CBI मामले में मोदी सरकार को बड़ा झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट (SC) ने केंद्रीय सतर्कता आयोग (CVC) के आदेश को रद करते हुए कहा कि सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा को छुट्टी पर भेजने का फैसला गलत था. कोर्ट ने वर्मा को छुट्टी पर भेजने का फैसला रद्द कर दिया है. चीफ जस्टिस के छुट्टी पर होने के कारण जस्टिस केएन जोसेफ और जस्टिस एसके कौल की बेंच यहा फैसला सुनाया. वर्मा अब फिर से सीबीआई प्रमुख का कार्यभार संभालेंगे.

वर्मा अब फिर से सीबीआई प्रमुख का कार्यभार संभालेंगे. इस फैसले पर अलोक वर्मा के वकील संजय हेगड़े ने कहा कि यह एक संस्था की जीत है, देश में न्याय प्रक्रिया पर भरोसा और बढ़ा है.

नहीं ले पाएंगे बड़े फैसले

सुप्रीम कोर्ट ने हालांकि वर्मा को राहत तो दी है लेकिन यह भी कहा है कि वे बड़े और नीतिगत फैसले अभी नहीं ले पाएंगे. कोर्ट ने केंद्रीय सतर्कता आयोग की जांच पूरी होने तक वर्मा पर कोई भी बड़ा निर्णय लेने पर रोक लगा दी है. कोर्ट ने यह भी कहा कि वर्मा के खिलाफ आगे कोई भी निर्णय सीबीआई निदेशक का चयन एवं नियुक्ति करने वाली उच्चाधिकार प्राप्त समिति द्वारा लिया जाएगा. वर्मा का सीबीआई निदेशक के तौर पर दो वर्ष का कार्यकाल 31 जनवरी को पूरा हो रहा है.

2 टॉफ अफसरों को छुट्टी पर भेजा गया था

सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा कि आलोक वर्मा को हटाने से पहले सिलेक्ट कमिटी से सहमति लेनी चाहिए थी. जिस तरह सीवीसी ने आलोक वर्मा को हटाया, वह संवैधानिक नहीं है. बता दें कि सीबीआई के डायरेक्टर आलोक वर्मा को पूर्व ज्वॉइंट डायरेक्टर राकेश अस्थाना के साथ भ्रष्टाचार को लेकर विवाद के चलते छुट्टी पर भेज दिया गया था. CBI डायरेक्टर आलोक वर्मा और स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के बीच विवाद सामने आने के बाद केंद्र सरकार ने दोनों टॉफ अफसरों को छुट्टी पर भेज दिया. वहीं, एम नागेश्वर राव को CBI का अंतरिम निदेशक नियुक्त कर दिया. इसके खिलाफ वर्मा ने कोर्ट में याचिका दायर की थी.

कांग्रेस लीडर की प्रतिक्रिया

कांग्रेस ने साधा मोदी पर निशाना

सुप्रीम कोर्ट द्वारा आलोक वर्मा को सीबीआई निदेशक पद पर मंगलवार को बहाल किए जाने के बाद कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और दावा किया कि मोदी देश के पहले ऐसे प्रधानमंत्री बन गए हैं जिनके ‘गैरकानूनी आदेशों’ को शीर्ष अदालत ने रद्द कर दिया है. पार्टी ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री को यह याद रखना चाहिए कि सरकारें आती-जाती रहती हैं, लेकिन हमारी संस्थाओं की गरिमा बरकरार रही है. कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि ‘‘सीबीआई को बर्बाद करते हुए बेनकाब होने वाले पहले प्रधानमंत्री बने. इसके बाद उन्होंने सीवीसी की विश्वसनीयता को खत्म किया. अब वह पहले प्रधानमंत्री बन गए हैं जिनके गैरकानूनी आदेशों को शीर्ष अदालत ने रद्द कर दिया है.’’

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. CBI vs CBI: सरकार को झटका; SC ने आलोक वर्मा को CBI डायरेक्टर पद पर बहाल किया, कांग्रेस ने साधा मोदी पर निशाना

Go to Top