Energy Sector Stock: इस शेयर को बेचने की सलाह, 32% टूट सकते हैं भाव, चेक करें आपके पोर्टफोलियो में है नहीं

Stock Tips: बिजली बनाने वाली निजी सेक्टर की इस कंपनी के शेयर इस साल 23 फीसदी टूट चुके हैं और आगे इसमें 32 फीसदी गिरावट के आसार दिख रहे हैं.

Energy Sector Stock: इस शेयर को बेचने की सलाह, 32% टूट सकते हैं भाव, चेक करें आपके पोर्टफोलियो में है नहीं
जेएसडब्ल्यू ग्रुप की सब्सिडियरी जेएसडब्ल्यू एनर्जी के लिए चालू वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही अप्रैल-जून 2022 तिमाही शानदार रही लेकिन एक्सपर्ट्स मौजूदा शेयर भाव को लेकर सहज नहीं हैं. (Image- Pixabay)

JSW Energy Outlook: जेएसडब्ल्यू ग्रुप की सब्सिडियरी जेएसडब्ल्यू एनर्जी के लिए चालू वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही अप्रैल-जून 2022 तिमाही शानदार रही. कंपनी का शुद्ध मुनाफा (प्रॉफिट आफ्टर टैक्स) जून तिमाही में सालाना आधार पर 112.8 फीसदी बढ़कर 460 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. हालांकि इसके बावजूद घरेलू ब्रोकरेज फर्म एचडीएफसी सिक्योरिटीज के एक्सपर्ट्स ने इसकी बिक्री की रेटिंग को बरकरार रखा है और इसका टारगेट प्राइस 160 रुपये तय किया है. बीएसई पर शुक्रवार 22 जुलाई को यह 236.90 रुपये के भाव पर बंद हुआ था यानी कि मौजूदा भाव से यह करीब 32.46 फीसदी टूट सकता है.

चार सहकारी बैंकों के ग्राहकों की बढ़ी मुश्किल, RBI ने तय की पैसे निकालने की सीमा

एक्सपर्ट्स ने इसलिए दी है बेचने की सलाह

  • जेएसडब्ल्यू एनर्जी बिजली बनाने वाली निजी सेक्टर की दिग्गज कंपनियों में शुमार है. जून 2022 तिमाही इसके लिए शानदार रहा. मांग सुधऱने, शॉर्ट टर्म सेल्स की मजूबत भागीदारी और कर्चम वांगटू स्टेशन में 45 मेगावॉट अपरेटिंग के दम पर कंपनी की कमाई अप्रैल-जून 2022 तिमाही में सालाना आधार पर 75.2 फीसदी बढ़कर 3030 करोड़ रुपये पर पहुंच गई. इसका ईबीआईटीडीए भी सालाना आधार पर 46.3 फीसदी की उछाल के साथ 1020 करोड़ रुपये पर पहुंच गया लेकिन यह रेवेन्यू के मुकाबले धीमा बढ़ा क्योंकि रेवेन्यू ग्रोथ का कुछ हिस्सा तेल की लागत में 110.9 फीसदी की उछाल से ऑफसेट हो गया.

अमेरिका में 2 साल में पहली बार बिजनेस एक्टिविटी में गिरावट, जुलाई के PMI डेटा में मंदी के डरावने संकेत

  • एडजस्टेड पीएटी (शुद्ध मुनाफा- प्रॉफिट आफ्टर टैक्स) सालाना आधार पर 122.8 फीसदी उछलकर 460 करोड़ रुपये पर पहुंच गया जो अनुमान के मुताबिक बहुत अधिक रहा. इसकी वजह अनुमानित बिक्री के मुकाबले वास्तविक बिक्री के आंकड़ों का अधिक होना और ब्याज पर कम खर्च होना रहा. जून 2022 तिमाही में सोलर और विंड प्रोजेक्ट का ऐलान किया जो वित्त वर्ष 2023-24 की तीसरी तिमाही से चलने लगेंगी. इसका नेट डेट/ईबीआईटीडीए 1.75 गुने पर है. इन सबके बावजूद एचडीएफसी सिक्योरिटीज के एक्सपर्ट्स ने इसकी सेल रेटिंग बरकरार रखी है क्योंकि उनका मानना है कि 234 रुपये का भाव तर्कसंगत नहीं दिख रहा है और यह बहुत महंगा है.

Wikipedia के फाउंडेशन समेत 6 ह्यूमन राइट्स संगठनों को UN की मान्यता; भारत-चीन ने प्रस्ताव का किया था विरोध

इस साल अब तक टूट चुके हैं 21 फीसदी भाव

जेएसडब्ल्यू एनर्जी के शेयर बीएसई पर अभी 236.90 रुपये के भाव पर हैं जो पिछले साल 14 अक्टूबर 2021 को 408.70 रुपये के 52 हफ्ते के रिकॉर्ड भाव से करीब 42 फीसदी डिस्काउंट पर है. इस साल अभी तक इसके शेयर करीब 23 फीसदी टूट चुके हैं. पिछले महीने 20 जून को यह 182 रुपये के भाव पर था जो 52 हफ्ते का रिकॉर्ड निचला स्तर है जिसके बाद यह करीब 30 फीसदी मजबूत हो चुका है. हालांकि एचडीएफसी सिक्योरिटीज के एक्सपर्ट्स का आकलन है कि इसमें आगे 32 फीसदी से अधिक की गिरावट आ सकती है.

(स्टोरी में दिए गए स्टॉक रिकमंडेशन संबंधित रिसर्च एनालिस्ट व ब्रोकरेज फर्म के हैं. फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन इनकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेता. पूंजी बाजार में निवेश जोखिमों के अधीन हैं. निवेश से पहले अपने सलाहकार से जरूर परामर्श कर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News