मुख्य समाचार:

FM के इकोनॉमिक बूस्टर से बाजार में दिखेगी शॉर्ट टर्म रैली! Nifty के लिए 10700 का स्तर अहम

वित्त मंत्री के एलान से बाजार पर क्या होगा असर

August 26, 2019 7:39 AM
Stock Market, finance minister, FM Nirmala Sitharaman, economic booster, bank stock, nbfc stock, automobile stock, housing stock, nifty, sensexवित्त मंत्री के एलान से बाजार पर क्या होगा असर

अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले हफ्ते कुछ बड़े एलान किए हैं. इसमें जहां एफपीआई पर बढ़ाया गया सरचार्ज वापस लिया गया, वहीं घरेलू निवेशकों को भी एलटीसीजी और एसटीसीजी पर राहत मिली है. बैंक, एनबीएफसी और आटो सेक्टर को भी राहत देने की कोशिश की गई है. फिलहाल एक्सपर्ट ने वित्त मंत्री के कमेंट्स का स्वागत किया है. उनका कहना है कि लंबे समय से बाजार में कोई बेहतर सेंटीमेंट नहीं था, ऐसे में वित्त मंत्री के इकोनॉमिक बूस्टर से बाजार में शॉर्ट टर्म रैली देखने को मिलेगी. हालांकि लांग टर्म रैली के लिए अभी बहुत कुछ किए जाने की जरूरत है.

निफ्टी को  10700 पर मजबूत सपोर्ट

एक्सपर्ट का कहना है कि सरकार ने भी यह साफ किया है कि अर्थव्यवस्था को लेकर चिंता है. और इसे दूर करने के लिए सरकार कई बड़े उपायों पर काम कर रही है. इससे एक साफ तस्वीर बनी है, जो बाजार सेंटीमेंट के लिहाज से बेहतर है. अगले कुछ दिनों की बात करें तो बाजार में शार्ट टर्म रैली दिख रही है. हालांकि अभी भी बाजार में दबाव बनाने के लिए कई घरेलू और ग्लोलब फैक्लंटर मौजूद हैं. इस हफ्ते निफ्टी को नीचे की ओर 10700 पर मजबूत सपोर्ट रहेगा. वहीं उपर की ओर अगर 11200 का स्तर मेनटेन रखने में कामयाब होता है तो यहां से 200 अंकों की और तेजी देखने को मिल सकती है.

इन्वेस्टर्स सेटीमेंट में सुधार

मोतीलाल ओसवाल प्राइवेट वेल्थ मैनेजमेंट के इन्वेस्टमेंट एडवाइजरी हेड आशीष शंकर का कहना है कि वित्त मंत्री के एलान के बाद इन्वेस्टर्स सेटीमेंट में सुधार देखने को मिलेगा. सरकार ने बैंक और एनबीएफसी के लिए जो कदम उठाए हैं, उससे निश्चित रूप से इन दोनों सेक्टर में लिक्विडिटी बढ़ेगी. इससे फाइनेंशियल सेक्टर में रिकवरी शुरू हो सकती है.

लिक्विडिटी बढ़ाने के उपाय

एपिक रिसर्च के सीईओ मुस्तफा नदीम का कहना है कि एफपीआई पर से सरचार्ज हटाया जाना मार्केट को बड़ा बूस्ट दे सकता है. बजट में सरचार्ज लगाए जाने के एलान के बाद से विदेशी निवेशकों ने लगातार बाजार में बिकवाली की. उम्मीद है कि वे फिर से बाजार में लौटेंगे, जिससे लिक्विडिटी बढ़ेगी. वहीं सरकार ने आटोमोबाइल सेक्टर को भी फौरी राहत देने की कोशिया की है.

महत्वपूर्ण बात यह है कि बैंक रेट कट का फायदा ग्राहकों को दे सकते हैं. वहीं रेपो रेट को लोन से लिंक करने पर पारदर्शिता बढ़ेगी. सरकारी बैंकों का रीकैपिटलाइजेशन ने भी सरप्राइज किया है. फिलहाल अगले कुछ दिनों में बाजार में एक तेजी देखने को मिलेगी.

TradingBells के को-फाउंडर अमित गुप्ता का कहना है कि विदेशी निवेशकों के साथ ही घरेलू निवेशकों को भी एलटीसीजी और एसटीसीजी पर राहत दी गई है. इस कदम का बाजार जरूर वेलकम करेगा. फिलहाल सरकार ने इकोनॉमी को दिशा देने के लिए जो उपाय किए हैं, उसकर अभी सख्त जरूरत थी. आज बाजार तेजी के साथ खुलने की उम्मीद है और यह रैली अगले कुछ दिन जारी रह सकती है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. FM के इकोनॉमिक बूस्टर से बाजार में दिखेगी शॉर्ट टर्म रैली! Nifty के लिए 10700 का स्तर अहम

Go to Top