मुख्य समाचार:
  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. मार्केट गिरावट के साथ बंद, सेंसेक्स 61 अंक टूटा, निफ्टी 10550 के नीचे, Cipla 7% फीसदी कमजोर

मार्केट गिरावट के साथ बंद, सेंसेक्स 61 अंक टूटा, निफ्टी 10550 के नीचे, Cipla 7% फीसदी कमजोर

रुपये में कमजोरी और दुनियाभर के बाजारों से मिलने वाले कमजोर सेंटीमेंट से घरेलू शेयर बाजार पर भी दबाव है.

By: | Updated:Nov 05, 2018 3:46 pm

धनतेरस पर सेंसेक्स और निफ्टी गिरावट के साथ बंद हुए हैं. कारोबार के अंत में सेंसेक्स 61 अंक टूटकर 34951 के स्तर पर बंद हुआ है. वहीं, निफ्टी भी 25 अंक टूटकर 10528 के स्तर पर बंद हुआ. रुपये में कमजोरी और दुनियाभर के बाजारों से कमजोर सेंटीमेंट मिलने का असर घरेलू बाजार पर भी पड़ा. हालांकि आज के कारोबार में निफ्टी पर पीएसयू बैंक इंडेक्स में 3 फीसदी तेजी रही है. वहीं, फार्मा, आॅटो और एफएमसीजी इंडेक्स में गिरावट रही है. आज के कारोबार में तिमाही नतीजों के बाद फार्मा कंपनी सिप्ला में 7.26 फीसदी गिरावट रही है. आईओसी में 5 फीसदी और इंडियाबुल्स में 4 फीसदी गिरावट रही है. वहीं, एसबीआई में 3 फीसदी से ज्यादा तेजी रही है. आज के कारोबार में रुपया 36 पैसे कमजोर होकर 72.80 प्रति डॉलर पर खुला. दूसरी ओर एशियाई बाजारों में कमजोरी का रुख रहा है.

 

Read More

Live Blog

Stock Market Live : शेयर बाजार की हर खबर का अपडेट यहां पढ़ें

Highlights

    14:19 (IST)05 Nov 2018
    सिप्ला का मुनाफा 10.8 फीसदी घटा

    वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में सिप्ला का मुनाफा 10.8 फीसदी घटकर 377 करोड़ रुपये हो गया है. वित्त वर्ष 2018 की दूसरी तिमाही में वेंकीज का मुनाफा 422.6 करोड़ रुपये रहा था. वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में सिप्ला की आय 1.7 फीसदी घटकर 4,012 करोड़ रुपये रही है. सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में सिप्ला का एबिटडा 804 करोड़ रुपये से घटकर 702 करोड़ रुपये रहा है. सालाना आधार पर दूसरी तिमाही में सिप्ला का एबिटडा मार्जिन 19.7 फीसदी से घटकर 17.5 फीसदी रहा है.

    11:51 (IST)05 Nov 2018
    एनर्जी शेयरों में कमजोरी का रुख

    Nifty energy index at 11:48 am

    11:40 (IST)05 Nov 2018
    PSU बैंक में खरीददारी

    Nifty PSU Bank Index at 11:36 am

    09:56 (IST)05 Nov 2018
    आज के टॉप गेनर्स, टाप लूजर्स

    सोमवार को टॉप गेनर्स में AXIS बैंक, बजाज फिनसर्व, टेक महिंद्रा, ONGC, SBI, सन फार्मा, मारूति, Yes बैंक, L&T, ITC और कोल इंडिया शामिल हैं. वहीं, टॉप लूजर्स में टाटा स्टील, IOC, NTPC, हिंदुस्तान पेट्रोलियम, BPCL, पावरग्रिड, HDFC बैंक, एशियन पेंट्स, एचयूएल, हीरो मोटाकॉर्प और कोटक बैंक शामिल हैं.

    09:50 (IST)05 Nov 2018
    रुपया 36 पैसे कमजोर हुआ

    रुपये में पिछले 2 ट्रेडिंग सेशन से जारी तेजी सोमवार को थम गई है. कारोबार में यह 36 पैसे कमजोर होकर 72.80 प्रति डॉलर पर पहुंच गया. निर्यातकों द्वारा डॉलर की डिमांड बढ़ने से एक बार फिर रुपये पर दबाव बढ़ा है. इसके पहले शुक्रवार को रुपया करीब 100 पैसे मजबूत होकर 72.44 प्रति डॉलर के भाव पर खुला था. सितंबर 2013 के बाद रुपये में पहली बार एक दिन में 100 पैसे या उससे ज्यादा की मजबूती आई. वहीं, गुरूवार और शुक्रवार को रुपया 150 पैसे मजबूत हुआ था. क्रूड की कीमतें कम होने और अमेरिका द्वारा ईरान से तेल आयात पर प्रतिबंधों से भारत को छूट देने की संभावना बढ़ने से रुपये को सपोर्ट मिला.

    09:50 (IST)05 Nov 2018
    एशियाई बाजारों में कमजोरी

    सोमवार को एशियाई बाजारों में कमजोरी का रुख है. कारोबार में निक्केई 2.15 में 1.20 फीसदी, स्ट्रेट टाइम्स में 1.72 फीसदी, हैंगशैंग में 2.44 फीसदी, ताइवान वेटेड में 0.95 फीसदी, कोस्पी में 1.43 फीसदी, शंघाई कंपोजिट में 0.89 फीसदी और एसजीएक्स निफ्टी में 0.53 फीसदी की गिरावट है. इसके पहले शुक्रवार को नैसडैक 1.05 फीसदी और डाउ जोंस में 0.43 फीसदी कमजोर होकर बंद हुआ था.

    शुक्रवार को मजबूत होकर बंद हुआ था बाजार: शुक्रवार को शेयर बाजार में शानदार तेजी के साथ बंद हुआ था. बेहतर आर्थिक आंकड़े, ट्रेड वार में नरमी और रुपये में मजबूती के चलते बाजार को सपोर्ट मिला. कारोबार के अंत में सेंसेक्स 580 अंक मजबूत होकर 35012 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं, निफ्टी भी 176 अंक मजबूत होकर 10557 के स्तर पर बंद हुआ. कारोबार में निफ्टी पर आॅटो इंडेक्स 4 फीसदी से ज्यादा मजबूत हुआ था. मारूति, टाटा मोटर्स मेंं तेजी रही. इसके अलावा मेटल, एनर्जी और प्राइवेट बैंक शेयरों में भी अच्छी खरीददारी रही.
    Next Stories
    1CIC का RBI गवर्नर उर्जित पटेल को कारण बताओ नोटिस, लोन डिफॉल्टर्स का नहीं किया खुलासा
    2HSBC ने ब्लॉकचेन से किया RIL के लिए विदेश में भुगतान, डॉक्यूमेंट प्रोसेसिंग में लगा कम समय
    3अगले 3 माह में डॉलर के मुकाबले 76 के स्तर पर आ सकता है रुपया, कच्चे तेल का ऊंचा दाम बना सकता है दबाव: UBS

    Go to Top