सर्वाधिक पढ़ी गईं

‘फर्जीवाड़े’ की खबर से बाजार में सनसनी, सेंसेक्स 812 अंक टूटा; 1 झटके में निवेशकों के 3.5 लाख करोड़ साफ

Stock Market Tank: ग्लोबल बिकवाली के चलते शेयर बाजार में भारी गिरावट देखने को मिल रही है. कारोबार के दौरान सेंसेक्स 750 अंक से ज्यादा टूट गया है.

Updated: Sep 21, 2020 3:51 PM
sensex, niftyAll the 30 Sensex constituents finished their trade in the positive territory

Stock Market Tank: शेयर बाजार में भारी बिकवाली देखने को मिल रही है. कारोबार के दौरान सेंसेक्स 750 अंक से ज्यादा टूट गया है. वहीं, निफ्टी भी 11300 के नीचे फिसल गया. कारोबार में बेंक और आटो शेयरों में जमकर बिकवाली है. आईटी सेक्टर को छोड़कर हर सेक्टर का बुरा हाल देखने को मिल रहा है. बाजार में इस कमजोरी की सबसे बड़ी वजह ग्लोबल सेलआफ है. डाउ फ्यूचर करीब 500 अंक लुढ़क गया है.

इंटरनेशनल कंसोर्टियम ऑफ इंवेस्टिगेटिव जर्नलिज्म (ICIJ) द्वारा टॉप-सीक्रेट सस्पेक्टेड एक्टिविटी रिपोर्ट्स या SARs पर रिपोर्ट करने के बाद, बिकवाली शुरू हो गई, जिसकी कीमत वैश्विक स्तर पर 2 लाख करोड़ डॉलर से अधिक थी. ये लेन-देन धोखाधड़ी के सबूत या नापाक गतिविधियों के सबूत नहीं हैं, लेकिन अमेरिकी प्राधिकरण द्वारा इसे संदिग्ध देखा जा रहा है.

निवेशकों के 3.5 लाख करोड़ साफ

आज सेंसेक्स 750 अंक से ज्यादा टूटकर 38,072.88 के स्तर तक कमजोर हुआ है. इस स्तर पर आने के बाद बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप घटकर 1,55,40,000 करोड़ रुपये के आस पास रह गया. जबकि शुक्रवार को यह 1,59,00,118.94 करोड़ रुपये के आस पास बंद हुआ. यानी बीएसई लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप करीब 3.6 लाख करोड़ रुपये घट गया.

बाजार में गिरावट की अन्य वजह

कोरोना वायरस: कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों ने भी बाजार की चिंता बढ़ा दी है. दुनियाभर में कोविड के करीब 3.1 करोड़ मामले सामने आ चुके हैं. वहीं, भारत में कोरोना वायरस के मामले 55 लाख के करीब पहुंच रहे हैं. भारत में मामले रोज 90 हजार के आस पास आ रहे हैं. इसी तरह से अगर रोज मामले बढ़ते रहे तो भारत जल्द ही अमेरिका को पीछे छोड़ सकता है.

टेक्निकल रीजन: निफ्टी के लिए 11650 से 11700 के स्तर पर मजबूत रेजिस्टेंस बन गया है. निफ्टी के 12000 का स्तर फिर पाने के पहले बाजार में एक और गिरावट की पहले से आशंका थी. इस हफ्ते निफ्टी के लिए 11600-11650-11700 के स्तर पर रेजिस्टेंस का एक समूह दिख रहा था. वहीं, नीचे की ओर 11380 पर अहम सपोर्ट था, जो टूट गया है. बैंकिंग सेक्टर पर भी दबाव बना हुआ है. बीते हफ्ते कारोबार में बैंक निफ्टी 22000 के अहम सपोर्ट लेवल से नीचे आ गया. ऐसे में इसमें और गिरावट ड्यू दिख रही थी.

वोलैटिलिटी इंडेक्स: इंडिया VIX में 10.80 अंकों की बढ़त दिख रही है. यह 22.21 के लवेल पर है. यह लेवल दिखाता है कि बाजार में वोलैटिलिटी रहेगी.

बैंक, आटो, मेटल, रियल्टी सबसे बिकवाली: निफ्टी के प्रमुख 11 इंडेक्स में 10 लाल निशान में बंद हुए. बैंक इंडेक्स में 3.5 फीसदी और फाइनेंशियल इंडेक्स में 2.5 फीसदी गिरावट रही है. आटो इंडेक्स में 4.5 फीसदी के करीब गिरावट रही है. मेटल में 5.5 फीसदी और रियल्टी इंडेक्स में 6 फीसदी कमजोरी रही है. आईटी इंडेक्स आधे फीसदी से ज्यादा टूटा है.

अमेरिकी बाजारों में गिरावट: शुक्रवार को प्रमुख अमेरिकी बाजारों में गिरावट देखने को मिली है. शुक्रवार को डाउ जोंस में 245 अंकों यानी 0.88 फीसदी की गिरावट रही और यह 27657 के स्तर पर बंद हुआ. S&P 500 इंडेक्स में 37.54 अंकों यानी 1.12 फीसदी की गिरावट रही और यह 3319 के स्तर पर बंद हुआ. नैसडेक में 116.99 अंकों यानी 1.07 फीसदी गिरावट रही और यह 10,793 के स्तर पर बंद हुआ. अमेरिका में टेक्नोलॉजी शेयरों में बिकवाली रही.

सेंसेक्स के टॉप लूजर्स

टाटा स्टील, इंडसइंड बैंक, भारती एयरटेल, महिंद्रा एंड महिंद्रा, ICICI बैंक, एक्सिस बैंक

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. ‘फर्जीवाड़े’ की खबर से बाजार में सनसनी, सेंसेक्स 812 अंक टूटा; 1 झटके में निवेशकों के 3.5 लाख करोड़ साफ

Go to Top