मुख्य समाचार:

2019 के पहले मोदी को टेंशन देगा शेयर बाजार! निवेशकों के लिए क्या है एक्सपर्ट की सलाह

एक्सपर्ट भी इस बात से सहमत हैं कि चुनावों के पहले बाजार में समय समय पर करेक्शन देखा जा सकता है. लेकिन उनका यह भी कहना है कि निवेशकों के लिए अबभी बेहतर मौके हैं.

September 18, 2018 7:51 AM
stock market, outlook, near term, general election, goldman sachs, cut rating, investors tipsएक्सपर्ट भी इस बात से सहमत हैं कि चुनावों के पहले बाजार में समय समय पर करेक्शन देखा जा सकता है. लेकिन उनका यह भी कहना है कि निवेशकों के लिए अबभी बेहतर मौके हैं. (Reuters)

ग्लोबल रिसर्च और ब्रोकरेज फर्म गोल्डमैन सैक्स का कहना है कि भारतीय शेयर बाजार में लंबे समय से चली आ रही रैली अब खत्म हो गई है. 2019 आम चुनावों के पहले मार्केट में कंसोलिडेशन का दौर रहेगा. एक्सपर्ट भी इस बात से सहमत हैं कि चुनावों के पहले बाजार में समय समय पर करेक्शन देखा जा सकता है. लेकिन उनका यह भी कहना है कि निवेशकों के लिए अबभी बेहतर मौके हैं. बस सही सेक्टर से सही शेयर चुनने जरूरी हैं. एक्सपर्ट का कहना कि हल्की गिरावट से बाजार के रिस्क कम होंगे, बड़ी गिरावट पर ही निवेश के मौके बनेंगे.

2019 आम चुनावों तक दबाव

इस बारे में एपिक रिसर्च के सीईओ नदीम मुस्तफा का कहना है कि पिछले कुछ महीनों की बात करें तो कई फैक्टर बाजार को सपोर्ट देने वाले रहे हैं. शेयर बाजार में लंबी रैली रही है. हालांकि अभी घरेलू और इंटरनेशनल स्तर पर रुपया, कैड, क्रूड, ट्रेड वार जैसे कई फैक्टर्स की वजह से बाजार पर दबाव है. राज्यों में होने वाले चुनाव और 2019 के चुनावों के पहले राजनैतिक अस्थिरता का सेंटीमेंट भी रहेगा, जिसका असर बाजार पर दिखेगा.

उनका कहना है कि राज्यों के चुनाव भी तब शुरू होने जा रहे हें, जब एफपीआई के साथ डीआईआई द्वारा भी लिक्विडिटी घटाई गई है. एग्रेसिव इन्वेस्टर्स भी ​रक्षात्मक रुख अपना रहे हैं. हालांकि लंबी अवधि के नजरिए से चिंता नहीं दिख रही है.

अगले 3 महीने तक बाजार में रहेगी कमजोरी

इक्विटी99 के सीनियर टेक्निकल एनालिस्ट राहुल शर्मा का कहना है कि शेयर बाजार अभी भी बहुत महंगा दिख रहा है. रुपये में कमजोरी और डॉलर में मजबूती से चालू खाता घाटा और बढ़ने का डर है. बॉन्ड यील्ड में तेजी, क्रूड महंगा बना हुआ है और एफपीआई लगातार पैसा निकाल रहे हें. ऐसे में अगले 3 महीने तक बाजार में निगेटिव रिटर्न दिख रहा है.

क्या करें निवेशक?

राहुल शर्मा के अनुसार शॉर्ट टर्म में मार्केट में करेक्शन दिख रहा है, लंबी अवधि के लिहाज से ही निवेशकों को बाजार में आना चाहिए. मौजूदा समय में ओबेरॉय रियल्टी, मुथ्थूट फाइनेंस और आईओएल केमिकल एंड फार्मास्युटिकल्स में निवेश करने पर आगे अच्छा रिटर्न मिल सकता है.
नदीम मुस्तफा का कहना है कि मौजूदा दौर में ​हर छोटी गिरावट पर खरीददारी करने से बचें, अगर बड़ा करेक्शन आता है तो ही बाजार में पैसे लगाएं. छोटी गिरावट को बाजार के रिस्क कम करने के रूप में देखना चाहिए. जिन शेयरों में अच्छी ग्रोथ रही है, उनमें निवेश से बचना चाहिए. मसलन एफएमसीजी सेक्टर का वैल्युएशन हाई है.

दूसरी ओर डिफेंसिव शेयर बेहतर विकल्प बन सकते हैं. फार्मा में रिकवरी दिख रही है. रुपये में गिरावट का फायदा सेकटर को मिल सकता है. निवेशक अच्छे फार्मा शेयर चुन सकते हैं. प्राइवेट बैंक सेक्टर में भी आगे अच्छी ग्रोथ दिख रही है, जहां निवेशक पैसे लगा सकते हैं.

गोल्डमैन सेक्स को क्यों दिख रहा है रिस्क

ब्रोकरेज हाउस ने मार्च 2014 के बाद पहली बार घरेलू शेयर बाजार की रेटिंग घटाकर ओवरवेट से मार्केट वेट कर दी है. इसके पीछे कुछ कारण हैं….

वैल्युएशन

ब्रोकरेज हाउस के मुताबिक भारतीय शेयर बाजार एशिया में सबसे ज्यादा एक्सपेंसिव है और 58 फीसदी प्रीमियम पर कारोबार कर रहा है. ऐसे में अगले 3 से 6 महीने निगेटिव रिटर्न की उम्मीद है.

घरेलू फैक्टर

रुपये में कमजोरी, तेल की ज्यादा कीमतें, चालू खाता घाटा बढ़ने की आशंका, व्यापार घाटा बढ़ने की आशंका, रेवेन्यू कलेक्शन उम्मीद से कम, सरकार के खर्च बढ़ने का डर.

अर्निंग रिकवरी का मिल चुका है फायदा

रिपोर्ट के अनुसार मौजूदा वित्त वर्ष की पहली तिमाही में कॉरपोरेट अर्निंग बेहतर रही है, जिसका फायदा बाजार ले चुका है.

घरेलू निवेशक भी सुस्त

विदेशी निवेशक लगातार बाजार से निवेश निकाल रहे थे, अब घरेलू स्तर पर भी निवेश में कमी आ रही है. आने वाले दिनों में चुनावों के चलते इसमें और कमी आ सकती है.

(नोट-निवेश की सलाह एक्सपर्ट्स के द्वारा दी गई हैं. कृपया अपने स्तर पर या अपने एक्सपर्ट्स के जरिए किसी भी तरह की सलाह की जांच कर लें. मार्केट में निवेश के अपने जोखिम हैं, इसलिए सतर्कता जरूरी है.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. 2019 के पहले मोदी को टेंशन देगा शेयर बाजार! निवेशकों के लिए क्या है एक्सपर्ट की सलाह

Go to Top