मुख्य समाचार:

लॉकडाउन के बीच सरकार ने शुरू की गोल्ड बांड की ब्रिकी, क्या कोरोना संकट में लगाना चाहिए पैसा

लॉकडाउन के बीच आज यानी 20 अप्रैल से वित्त वर्ष 2021 के लिए पहले सॉवरेन गोल्ड बांड की बिक्री सरकार ने शुरू कर दी है.

April 20, 2020 10:30 AM
Sovereign Gold Bond, SGB, forst Sovereign Gold Bond open from today 20 april to 24 april in lockdown, should you invest in gold bond, gold safe heaven, invest in goldलॉकडाउन के बीच आज यानी 20 अप्रैल से वित्त वर्ष 2021 के लिए पहले सॉवरेन गोल्ड बांड की बिक्री सरकार ने शुरू कर दी है.

Sovereign Gold Bond: लॉकडाउन के बीच आज यानी 20 अप्रैल से वित्त वर्ष 2021 के लिए पहले सॉवरेन गोल्ड बांड की बिक्री सरकार ने शुरू कर दी है. गोल्ड बांड 20 अप्रैल से 24 अप्रैल तक सब्सक्रिप्शन के लिए खुला रहेगा. निवेशकों को बांड 28 अप्रैल को जारी किए जाएंगे. अगर आन गोल्ड बांड में निवेश करना चाहते हैं तो 1 ग्राम सोना भी खरीद सकते हैं. आनलाइन गोल्ड बांड खरीदने वालों को 50 रुपये प्रति ग्राम यानी 500 रुपये प्रति 10 ग्राम की अतिरिक्त छूट मिलेगी. सवाल उठता है कि सोना जहां बाजार में पहले ही बहुत महंगा हो गया है, क्या गोल्ड बांड में पैसा लगाना चाहिए.

कितनी तय हुई है कीमत

सरकार ने गोल्ड बांड के लिए 4639 रुपये प्रति ग्राम यानी 46390 रुपये प्रति 10 ग्राम का भाव तय किया है. वहीं आनलाइन खरीदने पर इस पर 50 रुपये प्रति ग्राम या 500 रुपये प्रति 10 ग्राम की छूट मिलेगी. इस लिहाज से 10 ग्राम सोने का भाव 45890 रुपये होगा. वहीं एमसीएक्स पर देखें तो पिछले हफ्ते 47000 पार करने के बाद सोना अभी 46 हजार के नीचे ट्रेड कर रहा है. रिजर्व बैंक ने कहा है कि इश्यू प्राइस सब्सक्रिप्शन से पहले वाले हफ्ते के अंतिम तीन कार्य दिवस के लिए IBJA की तरफ से जारी 999 प्योरिटी वाले सोने के क्लोजिंग प्राइस के सिंपल ऐवरेज से रुपये में तय होगा.

सोना महंगा, फिर भी बेहतर विकल्प

एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट, कमोडिटी एंड करंसी, अनुज गुप्ता का कहना है कि पिछले दिनों जिस लिहाज से सोने के भाव में तेजी आई है, उसे देखते हुए सरकार ने 4639 रुपये प्रति ग्राम गोल्ड बांड का भाव तय किया है. एक बार तो इतना उंचा भाव देखकर निवेशकों को निराशा हो सगती है. लेकिन फिर भी यह मौजूदा समय में निवेश का सही विकल्प है. क्यों कि अभी भी कोरोना वायरस के चलते बाजारों में अनिश्चितता का माहौल बना हुआ है. आगे भी बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में मंदी का ही अनुमान है. ऐसे में सोने में तेजी अभी जारी रहेगी, जिसका फायदा गोल्ड बांड के निवेशकों को मिलेगा.

अक्षय तृतीया: फिजिकल गोल्ड का विकल्प बहुत कम

इस हफ्ते के अंत में अक्षय तृतीया पड़ रही है, जिस दिन लोग सोने में जमकर निवेश करते हैं. लेकिन लॉकडाउन की वजह से बुलियन मार्केट बंद हैं. ऐसे में फिजिकल गोल्ड खरीदने का विकल्प बहुत कम है. इसलिए अक्षय तृतीया के लिए भी गोल्ड बांड खरीदा जा सकता है.

2.5 फीसदी रिटर्न की गारंटी

एक्सपर्ट का मानना है कि गोल्ड बांड इसलिए भी बेहतर है क्योंकि इसमें सरकार की ओर से 2.5 फीसदी रिटर्न की गारंटी रहती है. वहीं अगर सोने में तेजी आती है तो उस तेजी का भी फायदा इसमें मिलेगा.

सोने में जारी रहेगी तेजी

केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया का कहना है कि सोने के भाव में इस साल अंत तक तेजी जारी रहने का अनुमान है. उनका कहना है कि जिए तरह से ग्लोबल मंदी का अनुमान बना हुआ है, सोना सेफ हैवन बना रहेगा. सेंट्रल बैंक भी सोना खरीद रहे हैं, ईटीएफ में निवेश बढ़ रहा है. इक्विटी मार्केट में गिरावट जारी रहने की आशंका है. ऐसे में सोना इस साल के अंत तक 53 हजार का भाव भी छू सकता है. इस वजह से सॉवरेन गोल्ड बांड को निवेशकों का अच्छा रिस्पांस मिल सकता है. निवेशकों को अपने पोर्अफोलियो में 8 से 10 फीसदी सोना याामिल करना चाहिए.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. लॉकडाउन के बीच सरकार ने शुरू की गोल्ड बांड की ब्रिकी, क्या कोरोना संकट में लगाना चाहिए पैसा

Go to Top