मुख्य समाचार:

चांदी 7 साल में सबसे महंगी, 53200 रु पहुंचा भाव; तेजी के बीच अगले 14 दिनों में ऐसे कमाएं मुनाफा

कोरोना संकट के बीच चांदी की इंडस्ट्रियल डिमांड अब बढ़ने लगी है. इस बीच चांदी आज एमसीएक्स पर 53199 रुपये प्रति किलो के भाव पर पहुंच गया.

Published: July 16, 2020 12:10 PM
How you should make money in silver in short terms, Gold-Silver Ratio, Silver, invest in silver, silver is one of the best investment option, silver industrial demand increase, silver mines, Gold prices today on 16 july 2020, Silver prices today on 16 july 2020कोरोना संकट के बीच चांदी की इंडस्ट्रियल डिमांड अब बढ़ने लगी है. इस बीच चांदी आज एमसीएक्स पर 53199 रुपये प्रति किलो के भाव पर पहुंच गया.

कोरोना संकट के बीच चांदी की इंडस्ट्रियल डिमांड अब बढ़ने लगी है. इस बीच चांदी आज एमसीएक्स पर 53199 रुपये प्रति किलो के भाव पर पहुंच गया. यह चांदी का 7 साल में सबसे हाई है. एक्सपर्ट का मानना है कि इस तेजी के बाद भी अभी सोने के मुकाबले चांदी सस्ती बनी हुई है. कोरोना संकट में जिस तरह से सेफ हैवन सोने में तेजी आई है, उस लिहाज से चांदी अभी भी बहुत सस्ती है. ऐसे में आगे इसमें अच्छी खासी तेजी की पूरी गुंजाइश है. इस महीने की बात करें तो बचे हुए 2 हफ्तों में चांदी 1700 से 1800 रुपये महंगी हो सकती है.

चांदी की इंडस्ट्रियल डिमांड बढ़ी

बता दें कि इस साल अबतक सोने ने शानदार रिटर्न दिया है. रुपये में बात करें तो सोना इस साल 9500 रुपये के आस पास महंगा हो गया. उस रेश्यो में चांदी में तेजी नहीं रही है. गोल्ड सिल्वर रेश्यो अभी भी 93 के करीब है. एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोना क्राइसिस की वजह से सोने में तेजी अब डिस्काउंट हो रही है. वहीं लॉकडाउन खुलने से दुनियाभर में इकोनॉ​मिक एक्टिविटी शुरू हो रही है. जिससे चांदी की इंडस्ट्रियल डिमांड बढ़ रही है. ऐसे में अगर गोल्ड की तेजी डरा रही है तो मौजूदा समय में चांदी आपके लिए सबसे बेहतर विकल्प हो सकता है.

तेजी के बाद भी चांदी अभी सस्ती

एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट ( कमोडिटी एंड करंसी), अनुज गुप्ता का कहना है कि मौजूदा समय में गोल्ड सिल्वर रेश्यो अभी भी 93 के आस पास है. जिसका मतलब है कि 1 औंस गोल्ड खरीदने के लिए 93 औंस चांदी चाहिए. साफ है कि सोने की तुलना में चांदी अभी भी बहुत ज्यादा सस्ती है. चांदी 1 जनवरी के आस पास 47666 रुपये प्रति किलो पर थी, जो अभी 53200 के आस पास आ गई है. लॉकडाउन खुलने से इंडस्ट्रियल डिमांड और बढ़ने की उम्मीद है. ऐसे में अब चांदी में अच्छी तेजी आ सकती है.

कैसे करें चांदी में मुनाफे की ट्रेडिंग

अनुज गुप्ता का कहना है कि चांदी अभी 53200 रुपये प्रति किलो के भाव के आस पास ट्रेड कर रहा है. अगर चांदी वापस 52500 के भाव पर आता है तो इस महीने के अंत तक इसमें 55000 रुपये का टारगेट लेकर निवेश करना चाहिए. यानी इसमें अगले 14 दिनों में मौजूदा भाव से 1800 रुपये की तेजी आ सकती है.

इन वजहों से चांदी बेस्ट विकल्प!

चांदी भी सेफ हैवन माने जाने वाला एसेट क्लास है.
दुनियाभर में लॉकडाउन खुलने से अब चांदी की इंडस्ट्रियल मांग बढ़ने की उम्मीद है.
चांदी अभी भी वाजिब भाव पर है, ऐसे में इंडस्ट्री की ओर से मांग बढ़ सकती है.
लॉकडाउन के चलते कई माइन्स बंद पड़ी थीं. ऐसे में सप्लाई में भी कमी आने से डिमांड बढ़ेगी.
देश में इस साल बेहतर मानसून रहने की उम्मीद है, ऐसे में रूरल डिमांड बढ़ेगी.
भारत में सोलर पावर पर लगातार काम हो रहा है, जिसमें चांदी की बड़ी खपत होती है.
लॉकडाउन से उबरने के बाद आने वाले दिनों में फेस्टिव डिमांड तेज होगी.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. चांदी 7 साल में सबसे महंगी, 53200 रु पहुंचा भाव; तेजी के बीच अगले 14 दिनों में ऐसे कमाएं मुनाफा

Go to Top