मुख्य समाचार:

कमाई का मौका! चांदी 55 हजार के पार, हाई रिटर्न के लिए किस भाव पर लगाना चाहिए दांव?

सोने के बाद अब चांदी की भी चमक बढ़ने लगी है. मंगलवार के कारोबार में चांदी ने एमसीएक्स पर 55 हजार रुपये प्रति किलो का भाव पर कर लिया.

Published: July 21, 2020 11:19 AM
Silver rate today on 21 july 2020, Silver crossed 55000 rs mark, silver on 7 years high, gold-silver ratio, invest in Silver, should you invest in Silver, Buy Silver or Gold, Silver may be best safe heaven option for 2020, COVID-19, economic uncertaintyसोने के बाद अब चांदी की भी चमक बढ़ने लगी है. मंगलवार के कारोबार में चांदी ने एमसीएक्स पर 55 हजार रुपये प्रति किलो का भाव पर कर लिया.

सोने के बाद अब चांदी की भी चमक बढ़ने लगी है. मंगलवार के कारोबार में चांदी ने एमसीएक्स पर 55 हजार रुपये प्रति किलो का भाव पर कर लिया और 55328 रुपये प्रति किलो के स्तर पर पहुंच गया. यह चांदी का करीब 7.5 साल में सबसे महंगा भाव है. घरेलू ही नहीं इंटरनेशनल मार्केट में भी चांदी की कीमतें तेजी से बढ़ रही हैं. एक्सपर्ट का कहना है कि दुनियाभर में अनलॉक की स्थिति से चांदी की इंडस्ट्रियल डिमांड बढ़ने लगी है. वहीं घरेलू स्तर पर बेहतर मॉनसून ने उम्मीदें और बढ़ा दी हैं. दूसरी ओर गोल्ड और सिल्वर रेश्यो अभी भी 89 के आस पास है. ऐसे में आगे भी चांदी में तेजी जारी रहने की उम्मीद है. फिलहाल साल 2020 में निवेशकों के लिए चांदी भी मजबूत विकल्प दिख रहा है.

60 हजार का स्तर छू लेगा चांदी!

एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट ( कमोडिटी एंड करंसी), अनुज गुप्ता का कहना है कि लॉकडाउन खुलने से दुनियाभर में इकोनॉ​मिक एक्टिविटी शुरू हो रही है. जिससे चांदी की इंडस्ट्रियल डिमांड बढ़ रही है. वहीं सोने में अच्छी खासी तेजी बीते 1.5 साल के दौरान आ चुकी है. जबकि उसके मुकाबले चांदी अभी भी सस्ती है. इस वजह से कोरोना संकट के बीच निवेशकों के लिए चांदी सेफ हैवन का दूसरा विकल्प बन रहा है. बेहतर मॉनसून ने भी चांदी को लेकर उम्मीदें बढ़ाई हैं. अच्छी बारिश से रूरल इनकम बढ़ती है, जिससे चांदी की मांग भी बढ़ जाती है. ऐसे में चांदी इस साल 60 हजार प्रति किलसे के भी स्तर को छू सकता है.

कैसे करें चांदी में मुनाफे की ट्रेडिंग

अनुज गुप्ता का कहना है कि चांदी अभी 55300 रुपये प्रति किलो के भाव के आस पास ट्रेड कर रहा है. अगर चांदी वापस 52500 से 53500 के भाव पर आता है तो इसमें अगले 1 महीने के लिए 58000 रुपये का टारगेट लेकर निवेश करना चाहिए. इसके लिए निवेशक 50000 रुपये पर स्टॉप लॉस लगाएं. इस साल की बात करें तो चांदी 60 हजार तक भी जा सकती है.

चांदी अभी भी सस्ती!

चांदी में पिछले दिनों तेजी से गोल्ड सिल्वर रेश्यो में कुछ करेक्शन जरूर आया है, लेकिन अभी भी चांदी सस्ती है. मौजूदा समय में गोल्ड सिल्वर रेश्यो अभी भी 89 के आस पास है. जिसका मतलब है कि 1 औंस गोल्ड खरीदने के लिए 89 औंस चांदी चाहिए. साफ है कि सोने की तुलना में चांदी अभी भी बहुत ज्यादा सस्ती है. चांदी 1 जनवरी के आस पास 47666 रुपये प्रति किलो पर थी, जो अभी 55300 के आस पास आ गई है. लॉकडाउन खुलने से इंडस्ट्रियल डिमांड और बढ़ने की उम्मीद है. ऐसे में अब चांदी में अच्छी तेजी आ सकती है.

इन वजहों से चांदी बेस्ट विकल्प!

चांदी भी सेफ हैवन माने जाने वाला एसेट क्लास है.
दुनियाभर में लॉकडाउन खुलने से अब चांदी की इंडस्ट्रियल मांग बढ़ने की उम्मीद है.
चांदी अभी भी वाजिब भाव पर है, ऐसे में इंडस्ट्री की ओर से मांग बढ़ सकती है.
लॉकडाउन के चलते कई माइन्स बंद पड़ी थीं. ऐसे में सप्लाई में भी कमी आने से डिमांड बढ़ेगी.
देश में इस साल बेहतर मानसून रहने की उम्मीद है, ऐसे में रूरल डिमांड बढ़ेगी.
भारत में सोलर पावर पर लगातार काम हो रहा है, जिसमें चांदी की बड़ी खपत होती है.
लॉकडाउन से उबरने के बाद आने वाले दिनों में फेस्टिव डिमांड तेज होगी.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. कमाई का मौका! चांदी 55 हजार के पार, हाई रिटर्न के लिए किस भाव पर लगाना चाहिए दांव?

Go to Top