सर्वाधिक पढ़ी गईं

Reliance-Future Retail Deal: Amazon को मिली बड़ी राहत, रिलायंस रिटेल के साथ सौदे पर रोक हटाने की फ्यूचर रिटेल की याचिका खारिज

Reliance-Future Retail Deal: सिंगापुर अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता केंद्र ने फ्यूचर रिटेल की उस याचिका को खारिज कर दिया है जिसमें रिलायंस रिटेल के साथ 24713 करोड़ के सौदे पर अंतरिम रोक हटाने की अपील की गई थी.

October 22, 2021 4:25 PM
SIAC rejects Future Retail plea to vacate stay over its deal with Reliance big relief to e commerce giant amazon RELIANCE VS AMAZONरिलायंस रिटेल और फ्यूचर रिटेल के बीच सौदे को लेकर अमेजन से विवाद चल रहा है.

Reliance-Future Retail Deal: ई-कॉमर्स सेक्टर की दिग्गज कंपनी अमेजन (Amazon) को बड़ी राहत मिली है. सिंगापुर अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता केंद्र (SIAC) ने फ्यूचर रिटेल (Future Retail) की उस याचिका को खारिज कर दिया है जिसमें रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) के साथ 24713 करोड़ के सौदे पर अंतरिम रोक हटाने की अपील की गई थी. अमेजन ने इस सौदे को चुनौती दी रखी है.

इससे पहले सिंगापुर की मध्यस्थता अदालत ने 21 अक्टूबर को कहा था कि रिलायंस रिटेल को फ्यूचर ग्रुप की संपत्तियों की बिक्री से जुड़े विवाद में अमजेन और फ्यूचर ग्रुप के बीच चल रही मध्यस्थता में फ्यूचर रिटेल भी एक पक्षकार है. हालांकि फ्यूचर रिटेल ने तर्क दिया था कि उसे प्रमोटर फ्यूचर कूपंस प्राइवेट लिमिटेड (FPCL) व अमेजन के बीच चल रहे विवाद में कोई पार्टी नहीं है तो इसे मध्यस्थता की कार्यवाही से बाहर किया जाना चाहिए. फ्यूचर रिटेल ने शु्क्रवार को नियामकीय सूचना में बताया कि 25 अक्टूबर, 2020 के आपातकालीन मध्यस्थ (Emergency Arbitrator) के अंतरिम फैसले को निरस्त करने की उसकी याचिका पर 21 अक्टूबर, 2021 को एसआईएसी ने फैसला सुनाया है.

Stock Tips: ये दो शेयर कराएंगे बंपर कमाई, स्टॉक मार्केट से 37% मुनाफे का गोल्डेन चांस

ईए के फैसले पर बाद की घटनाओं का असर नहीं

नियामकीय सूचना में दी गई जानकारी के मुताबिक ट्रिब्यूनल ने ईए के फैसले को सही पाया और फैसले के बाद की किसी भी घटना या कार्यवाही से प्रभावित नहीं हुआ है जिसके चलते इसे रद्द नहीं किा जा सकता. ट्रिब्यूनल के मुताबिक मामले में ऐसा कुछ भी पेश नहीं किया गया जिससे ईए के फैसले में किसी बदलाव को सही ठहराया जा सके. फ्यूचर रिटेल ने नियामकीय फाइलिंग में कहा कि अभी कंपनी कानूनी विकल्पों पर गौर रही है जिसके बाद ही आगे की कार्रवाई का फैसला किया जाएगा.

Nykaa IPO: ब्यूटी प्रोडक्ट बेचने वाली कंपनी में पैसे लगाने का शानदार मौका, 630 करोड़ रुपये के नए शेयर होंगे जारी, ग्रे मार्केट में प्रीमियम भाव पर पहुंचे शेयर

यह है पूरा मामला

  • फ्यूचर ने अपनी खुदरा, थोक, लॉजिस्टिक्स व वेयरहाउसिंग संपत्तियों की बिक्री के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज की रिटेल इकाई के साथ 24713 करोड़ का सौदा किया है. रिलायंस रिटेल ने इस सौदे के बारे में पिछले साल अगस्त 2020 में जानकारी दी थी.
  • अमेजन इस सौदे के खिलाफ है. अमेजन का कहना है कि यह सौदा उसके और किशोर बियानी के नेतृत्व वाली कंपनी के साथ हुए सौदे का उल्लंघन है. अमेजन का एफसीपीएल में निवेश है जिसकी फ्यूचर रिटेल में हिस्सेदारी है. अगस्त 2019 में अमजेन फ्यूचर की गैर-लिस्टेड फर्म फ्यूचर कूपंस में 49 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने के लिए सौदा किया था जिसके तहत तीन से 10 साल की अवधि में उसे फ्यूचर रिटेल में हिस्सेदारी खरीदने का अधिकार मिला. फ्यूचर कूपंस की फ्यूचर रिटेल में कंवर्टिबल वारंट्स के जरिए 7.3 फीसदी हिस्सेदारी है.
  • रिलायंस के साथ सौदे पर अमेजन ने फ्यूचर को सिंगापुर की मध्यस्थता अदालत में खींच लिया.
  • इमरजेंसी आर्बिट्रेटर (ईए) ने अक्टूबर 2020 में अमेजन के पक्ष में एक अंतरिम फैसला सुनाया जिस पर रोक लगाने की फ्यूचर रिटेल की याचिका को SIAC ने खारिज कर दिया.
  • इस मसले को लेकर भारत में सुप्रीम कोर्ट्स समेत कुछ अदालतों में याचिकाएं दायर हुई हैं. सुप्रीम कोर्ट ने भी ईए को फैसले को सही ठहराया था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. Reliance-Future Retail Deal: Amazon को मिली बड़ी राहत, रिलायंस रिटेल के साथ सौदे पर रोक हटाने की फ्यूचर रिटेल की याचिका खारिज

Go to Top